Connect with us

सर्राफ़ा

अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंची चांदी, सोने का भाव गिरा

Published

on

नई दिल्ली। सोना के बाद अब चांदी ने भी महंगाई का अपना पुराना रिकार्ड तोड़ दिया। मंगलवार को चांदी 45000 प्रति किलोग्राम पर पहुंच गयी। जो चांदी का अब तब का सबसे ऊंचा भाव है। अखिल भारतीय सर्राफा संघ के अनुसार औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निर्माताओं की खरीदारी बढ़ने के अलावा मजबूत वैश्विक रुख के चलते प्रमुख तौर पर चांदी की कीमतों में तेजी आई है। वैश्विक स्तर पर न्यूयॉर्क में सोने का भाव 1,520.37 डॉलर प्रति औंस जबकि चांदी का भाव 17.32 डॉलर प्रति औंस रहा।
ऑल इंडिया सराफा एसोसिएशन के अनुसार, चांदी में आज 2,000 रुपये का उछाल आया है, जिससे इसके भाव 45,000 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गए हैं। कारोबारियों के अनुसार औद्योगिक इकाइयों और सिक्का कारोबारियों दवारा लिवाली बढ़ने के बीच मुख्य रूप से वैश्विक रुख में भारी तेजी से चांदी के भाव में यह बढ़त देखी गई है। वहीं सोने में के भाव में मंगलवार को 100 रुपए की गिरावट देखने को मिली, इसका भाव 38,370 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया है।
ऑल इंडिया सराफा एसोसिएशन के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में आज 99.9 फीसद शुद्धता वाला सोना 100 रुपये की गिरावट के साथ 38,370 रुपये प्रति 10 ग्राम पर और 99.5 फीसद शुद्धता वाला सोना भी 100 रुपये की ही गिरावट के साथ 38,200 रुपये प्रति 10 ग्राम पर आ गया। वहीं, गिन्नी सोने की कीमत आज 200 रुपये बढ़कर 28,800 रुपये प्रति 8 ग्राम पर आ गई। सोमवार को सोना दोबारा सर्वकालिक उच्चतम स्तर 38,470 पर पहुंचा था।

यह भी पढ़ें-पाकिस्तानी सेना की सक्रियता पर बोले सेना प्रमुख रावत- परेशान होने की जरुरत नहीं, हम तैयार हैं…

उधर चांदी की बात करें, तो चांदी के भाव में आज मंगलवार को 2,000 रुपये की भारी तेजी दिखाई दी, जिससे इसका भाव 45,000 रुपये प्रति किलोग्राम हो गया। वहीं, साप्ताहिक डिलिवरी वाली चांदी 956 रुपये की तेजी से 44,280 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई। उधर चांदी के सिक्कों की लिवाली कीमत 1,000 रुपये बढ़कर 89,000 रुपये प्रति सैकड़ा और बिकवाली कीमत भी 1,000 रुपये बढ़कर 90,000 रुपये प्रति सैकड़ा हो गई।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

लखनऊ के सराफा कारोबारियों को जागरूक करेगा भारतीय मानक ब्यूरो

Published

on

लखनऊ। सोने-चांदी के गहनों में अवैध हाॅल मार्किंग को रोकने और सराफा कारोबार में अधिक पारदर्शिता लाने के लिए भारतीय मानक ब्यूरो (बीएसआई) लखनऊ के सराफा व्यापारियों को जागरूक करेगा। 21 नवंबर को बीएसआई की तरफ से लखनऊ के चौक स्थित ढिंढोरा रेस्टोरेंज में एक अवेयरनेस प्रोग्राम का आयोजन किया जाएगा। जिसमें राजधानी के सभी सराफा कारोबारी शामिल होंगे।

इस संबंध में भारतीय मानक ब्यूरो ने 25 सितंबर को इंडिया बुलियन ज्वेलर्स एसोसिएशन उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष अनुराग रस्तोगी को एक पत्र भेजकर सहयोग की मांग की थी। उत्तर प्रदेश बुलियन एसोसिएशन ने बताया है कि 21 नवंबर को होने वाले अवेयरनेस प्रोग्राम में बीएसआई संबंधित सभी जानकारियां दी जाएंगी।

इस प्रोग्राम का आयोजन भारतीय मानक ब्यूरो करवा रहा है। बता दें कि भारतीय मानक ब्यूरो ने इंडिया बुलियन एसोसिएशन को भेजे पत्र में कहा है कि ऐसी खबरें आ रही हैं कि कुछ ज्वेलर्स बिना वैध पंजीकरण के ही बीएसआई हाॅलमार्क की ज्वैलरी बना और बेंच रहे हैं। यह एक गंभीर दण्डनीय अपराध है।

यह भी पढ़ें-श्री रामजन्मभूमि ट्रस्ट के नाम पर चंदा वसूल रहे तीन युवक गिरफ्तार

बीएसआई ने कहा है कि यदि कोई ज्वैलर्स बिना पंजीकरण के हाॅलमार्क ज्लैलरी बेचते हुए पाया गया तो उसके छापा मारा जा सकता है। जिसमें उसकी समस्त ज्लैलरी और कीमती धातु (सोना-चांदी) जब्त कर ली जाएगी। बीएसआई ने कहा कि यदि कोई ज्लैलर्स हाॅलमार्क ज्लैलरी बेंचना चाहता है तो पहले उसे निर्धारित प्रारूप पर पंजीकरण और शुल्क चुकाते हुए लखनऊ स्थित शाखा कार्यालय में आवेदन कर लाइसेंस लेना होगा। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

सर्राफ़ा

धनतेरस: सर्राफा व्यापारियों के लिए सूना रहा सोने का कारोबार

Published

on

लखनऊ। धनतेरस पर सोना खरीदना शुभ माना जाता है। लोग बड़ी तादाद में इस दिन खरीदारी करने निकलते हैं। उम्मीदों से भरे सर्राफा व्यापारी भी इसी कोशिश में होते हैं कि बेहतरीन डिजाइनर जूलरी के साथ वो ग्राहकों को अपनी ओर आकर्षित कर सकें। लेकिन इस बार सर्राफा व्यापारियों की उम्मीदों के इतर बाजार कुछ ठंडा लग रहा है। व्यापारियों का कहना है कि इस बार का धनतेरस उनके लिए कुछ खास नहीं जा रहा है। भारतीय अर्थव्यवस्था में मंदी की मार त्योहारों पर भी पड़ती नजर आ रही है।

लखनऊ सर्राफा एसोसिएशन के संगठन मंत्री आदीश जैन ने बताया कि इस बार की धनतेरस पर व्यापार बहुत कम हुआ है। मंदी की वजह से लोगों की क्रय शक्ति कम हो गई है। यही वजह है कि इस बार लोग सोना-चांदी की उतनी खरीदारी नहीं कर रहे। वहीं, सोने का भाव भी पिछली बार की तुलना में ज्यादा है ये भी एक वजह है कि लोग उतना इसे खरीद नहीं पा रहे। उन्होंने बताया कि पिछली की बार की तुलना में इस बार धनतेरस पर कारोबार में 50 से 60 फीसदी की कमी आई है।

वहीं, चौक सर्राफा एसोसिएशन के महामंत्री विनोद माहेश्वरी का कहना है कि अर्थव्यवस्था में सुस्ती की वजह से जो लोग पहले 200 रुपये खर्च करने की क्षमता रखते थे अब मुश्किल से 50-60 रुपये अपनी जेब से निकाल पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस बार सर्राफा व्यापार में पहले की तुलना में काफी कमी आई है।

ये भी पढ़ें: जब हैवान इंसान न बन सके तो मुसलमान बन गए: वसीम रिजवी

हालांकि, व्यापारियों ने कारोबार में बढ़ोतरी की उम्मीद जताई है। व्यापरियों ने कहा कि धनतेरस का मुहूर्त शाम 4 बजे से है। ऐसे में हो सकता है कि लोग बाहर निकले और खरीदारी करें। लेकिन उनको ये उम्मीद कम ही है कि उनका व्यापार पिछली धनतेरस की तरह ही सुनहरा होगा। शायद इस बार कि धनतेरस पर सूना ही रहेगा सोने का व्यापार। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

सर्राफ़ा

सोने की कीमत में 175 रुपये का उछाल, चांदी भी 70 रुपये चमकी

Published

on

लखनऊ। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सोना-चांदी के दाम में लगातार उछाल आ रहा है। भारत में अंतर्राष्ट्रीय कारकों का असर पहले से है लेकिन त्योहारी सीजन ने इसे और गति दे दी है। बुधवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 175 रुपये चढ़कर 39,545 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया। जबकि चांदी इस दौरान चांदी 70 रुपये चमक कर 47 हजार रुपये प्रति किलोग्राम पर रही।

लंदन एवं न्यूयॉर्क से मिली जानकारी के अनुसार सोने का करंट रेट 6.10 डॉलर बढ़कर 1,493.75 डॉलर प्रति औंस पर रहा। दिसंबर का अमेरिकी सोना वायदा 4.70 डॉलर प्रति औंस चढ़कर 1,486.40 डॉलर प्रति औंस पर रहा।

ये भी पढ़ें: खाद्य सुरक्षा और औषधि विभाग का छापा, बड़ी मात्रा में घुनी हुई रंगीन सुपारी बरामद

‘भाव’ बढ़ने के पीछे ये हैं वजह

सोना-चांदी के दामों में लागातार उछाल के पीछे सरकार की नीतियों के साथ ही कई राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय कारण हैं। जिसकी वजह से सोना-चांदी की कीमतें में बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है। सरकार ने 2019-20 के बजट में आयात शुल्क को 10 प्रतिशत से बढ़ाकर 12.5 प्रतिशत कर दिया है। जिसकी वजह से कीमतें बढ़ गई हैं। वहीं, दुनियाभर के केंद्रीय बैंक भी सोने के भण्डार को बढ़ा रहे हैं। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया ने भी 2018 से अब तक 60 टन सोने का रिजर्व बढ़ा लिया है। इसके साथ ही अमेरिका ने भी ब्याज दरों में कटौती कर दी है। इसकी वजह से भी कीमतें बढ़ी हैं। साथ ही साथ अमेरिका-चीन के बीच छिड़ा ट्रेड वॉर भी एक वजह है जिसने एशियाई बाजारों पर दबाव बढ़ाया है। वहीं, देश में इस वक्त त्योहारों का सीजन है। भारत में त्योहारों में सोना-चांदी खरीदना शुभ माना जाता है। इन्हीं कुछ वजहों से लोग इस मंदी के दौर में सोने पर ज्यादा इनवेस्ट कर रहे हैं, जिनकी वजह से दामों में लागातार उछाल जारी है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 18, 2019, 11:16 am
Mostly sunny
Mostly sunny
23°C
real feel: 24°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 59%
wind speed: 3 m/s NW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:58 am
sunset: 4:45 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending