Connect with us

लखनऊ लाइव

सिविल अस्पताल में हटाए गए 17 संविदा कर्मचारी, मरीज परेशान

Published

on

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के सिविल अस्पताल में 17 संविदा कर्मचारियों को हटा दिया गया हैं। जिसके बाद से अस्पताल में भारी संख्या में मरीजों की भीड़ इक्ठा हो गई हैं। जिसके चलते सिविल अस्पताल प्रसाशन की हालत खराब हो गई है। पर्चा काउंटर पर मरीजों की भारी भीड़ लगी है। जिससे मरीजों को भी पर्चा बनवाने में काफी परेशानीयों का सामना करना पड़ रहा है।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कैबिनेट बैठक में दस बिंदुओं को मिली मंजूरी

सिविल डायरेक्टर, डीएस नेगी ने बताया कि युपीएसएसपी ने पैरामेडिकल को स्थायी करने किया है। तथा नॉन पैरामेडिकल को स्थायी नहीं किया हैं। उन्होने कहा कि उन्हें एनएचएम से सैलरी नहीं मिल रही है। इसलिए 17 कर्मचारियों को हटा दिया गया हैं। वहीं जो कर्मचारी हमारे पास है उनको उनकी जगह पर लगा दिया गया है। http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

तीन माह से नहीं मिला वेतन, इलाज के अभाव में होमगार्ड की मौत

Published

on

लखनऊ। राजधानी लखनऊ के मोहनलालगंज से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। जहां तीन माह से दैनिक भत्ते का भुगतान न होने के कारण इलाज के अभाव में जिला जेल में तैनात होमगार्ड की सोमवार की रात को मौत हो गई है।

यह भी पढ़ें: कुंवर आसिफ अली इंटर कालेज की बस पलटी, डेढ़ दर्जन बच्चे घायल

जानकरी के मुताबिक मृतक होमगार्ड संकटा प्रसाद (53) मोहनलालगंज के कुर्मिनखेड़ा का रहने वाला है। परिजनों का अरोप है कि तीन माह से वेतन नहीं मिला था जिसको लेकर संकटा प्रसाद परेशान था। पैसे के अभाव में इलाज भी नहीं करा पा रहा था। नए साल से संकटा की ड्यूटी जेल पर लगी थी। जनवरी के पहले दिन में ड्यूटी भी की थी। संकटा डायबिटीज की बीमारी से पीड़ित था। वेतन के भुगतान में अधिकारियों द्वारा की जा रही हीलाहवाली से शहर के होमगार्डो में काफी नाराजगी है। मृतक के घर पहुंचे होमगार्डो ने शोक संवेदना व्यक्त की। अभी तक मृतक के घर विभाग का कोई अधिकारी नहीं पहुंचा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ में CAA के खिलाफ हुई हिंसा के आरोपी दारापुरी और सदफ जफर जेल से रिहा

Published

on

लखनऊ: नागरिकता अधिनियम कानून (CAA) के खिलाफ राजधानी लखनऊ में हुई हिंसा और तोड़फोड़ के आरोप में गिरफ्तार किए गए रिटायर्ड आईपीएस एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ जफर समेत दर्जनभर आरोपियों की मंगलवार सुबह जेल से रिहाई हो गई।  आरोप था कि ये सभी लखनऊ में 20 दिसम्बर को सीएए के विरोध में हुई हिंसा में शामिल थे।

बता दें कि इन सभी के अलावा करीब 150 अन्य आरोपी अभी भी जेल में बंद हैं। हालांकि कोर्ट ने शनिवार को दारापुरी और सदफ समेत 13 आरोपियों की जमानत अर्जी मंजूर कर ली थी। वहीं सोमवार शाम देर से इनकी रिहाई का आदेश जेल प्रशासन को मिला था। जिसके बाद मंगलवार सुबह जेल प्रशासन ने कानूनी कार्रवाई पूरी करने बाद सुबह करीब 10 बजे इन्हें रिहा कर दिया।

ये भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस में शामिल होने वाली झांकियों के क्रम लाटरी से तय  

जेल से रिहा होने के बाद कांग्रेस नेता सदफ जाफर ने सीएम योगी पर हमला बोलते हुए कहा कि जेल जाने और पिटने का डर अब दूर हो गया है, इसके लिए मैं सीएम योगी आदित्यनाथ जी को धन्यवाद देती हूं। मैं अब तब तक प्रदर्शन करुंगी, जब तक सरकार द्वारा ये अमानवीय कानून वापस नहीं लिया जाएगा।  

इसी कड़ी में एसआर दारापुरी ने भी पुलिस पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि हम तो योगी सरकार की सभी दमनकारी नीतियों का विरोध करेंगे। लखनऊ में पुलिस ने थाने उनके साथ बहुत ही अमानवीय व्यवहार किया गया। थाने में उनके लोगों को पीटा गया, उन्हें खाने को नहीं दिया गया।  साथ ही साथ ही महिलाओं के साथ अभद्रता की गई। आगे कहा कि उनपर लोगों को हिंसा के प्रति प्रेरित करने का आरोप पूर्णतया फर्जी तरीके से लगाया गया।

http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ में रहकर सिविल की तैयारी कर रहे दारोगा के भाई ने की आत्महत्या

Published

on

लखनऊ। जानकीपुरम थाना में तैनात दारोगा शिव नारायण सिंह के भाई ने सोमवार को अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह जानकीपुरम के सेक्टर-एफ में किराए पर रहकर यहां सिविल की तैयारी कर रहा था। मृतक ओम नारायण (38) लखनऊ में रहकर सिविल की तैयारी के साथ ही बच्चों को ताईक्वांडो सिखाते थे। सोमवार को दिन भर कमरे से बाहर न निकले पर देर रात मकान मालिक ने ओम नारायण के कमरे में खिड़की से देखा तो उनका शव पंखे के कुंडे से लटक रहा था।

यह भी पढ़ें-लोगो व पोस्टर लांचिंग के कुछ ही घण्टे बाद दोबारा टला लखनऊ महोत्सव का आयोजन

जानकारी के मुताबिक मकान मालिक घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शव नीचे उतारा। मृतक के कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।http://www.satyodaya.cpm

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 3:11 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
21°C
real feel: 20°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 56%
wind speed: 1 m/s NE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending