Connect with us

लखनऊ लाइव

अयोध्या भूमि विवाद पर समझौता मंजूर लेकिन सौदेबाजी नहीं: जमीयत उलेमा-ए-हिन्द

Published

on

लखनऊ। बाबरी मस्जिद और राम मंदिर मामले को लेकर बुधवार को जमीयत उलेमा के प्रदेश अध्यक्ष मौलाना कासमी ने प्रेस वार्ता की है। लखनऊ के प्रेस क्लब में चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि अगर बाबरी मस्जिद व राम मंदिर मुद्दे पर समझौता हो जाए तो यह बहुत अच्छी बात है। लेकिन हमें किसी भी कीमत पर सौदेबाजी कबूल नहीं।

वहीं, मौलाना उसामा ने कहा कि पहले दिन से जमीयत उलेमा-ए-हिन्द इस मामले में पक्षकार रही है। जमीयत के अधिवक्ता सुन्नी वक्फ बोर्ड को अपना पूरा सहयोग देते आ रहे हैं। लेकिन हाल के कुछ दिनों में सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन की ओर से जो रवैया अपनाया गया उससे पूरी कौम में चिंता की लहर दौड़ गई है। कोर्ट तर्कों के आधार पर जो भी फैसला करें वह सब को मंजूर होना चाहिए। लेकिन फिलहाल जरूरत इस बात की है कि अधिवक्ताओं के जरिए अदालत में पूरी तैयारी के साथ मजबूत पैरवी की जाए।

इस दौरान मौलाना ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि हम पूरी कौम की तरफ से सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन जुफर फारूकी को यह पैगाम देना चाहते हैं कि वह ऐसी कोई खूफिया डील ना करें, जो देश को संविधान के विरुद्ध और मिल्लत के लिए नुकसानदायक हो। हमें किसी भी सूरत में सौदेबाजी मंजूर नहीं है। मौलाना ने चेयरमैन से अपील करते हुए ऐलान किया कि अगर उन्होंने अपना रवैया नहीं बदला तो हमें सुन्नी वक्फ बोर्ड के कार्यालय के सामने बड़े स्तर पर विरोध प्रदर्शन व धरना देने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

 मौलाना उसामा ने कहा की जमीयत उलेमा का मानना है कि अभी भी हमारे प्यारे मुल्क हिंदुस्तान में इंसाफ कायम है। यहां कानून का राज चलता है। यहां निष्पक्ष अदालतें हैं। अदालत में हर किसी को अपने पक्ष में बात रखने, सबूत दिखाने, दलीलें देने व सच्चाई को बताने का पूरा अधिकार है। इसके बाद अदालतें दलीलों और सबूतों के आधार पर अपना फैसला सुनाती है। लेकिन अगर अदालत में ही ठीक तरीके से अपनी बात नहीं रखने दी गई और उसे गुमराह किया गया तो इंसाफ कहां बाकी रह जाएगा।

ये भी पढ़ें: सिर्फ हिंदी ही देश को एकजुट कर सकती है, बेहद खतरनाक विचार: पी. चिदंबरम

सुन्नी वक्फ बोर्ड के चेयरमैन की ओर से जिस तरह का रवैया अपनाया जा रहा है वो अच्छा नहीं है। उन्होंने कहा कि जो अच्छे तजुर्बेकार और पुराने वक्त से बाबरी मस्जिद का केस लड़ने वाले अधिवक्ता थे और पूरी तैयारी के साथ अदालत में जाकर अपनी बात रखते थे, उन्हें ठीक ऐसे वक्त में हटा देना जब सुप्रीम कोर्ट में रोजाना सुनवाई हो रही हो। नए-नए चेहरों को उसके स्थान पर पैनल में जगह देना बेहद खतरनाक व इंसाफ का कत्ल करने जैसा है। उन्होंने कहा कि आखिरी वक्त में इस तरह से कार्यप्रणाली हमें सौदेबाजी होने का संदेह हो रहा है। इस तरह की खूफिया सौदेबाजी पूरी कौम से गद्दारी और बहुत ही अफसोसनाक है। हमारे प्यारे मुल्क में अमन रखने के लिए संविधान की रक्षा व न्याय की स्थापना बेहद जरूरी है। यह बात किसी वर्ग विशेष के फायदे या नुकसान की नहीं है। सभी मायनों में अगर देखा जाए तो चेयरमैन की हरकत से हमारे मुल्क का कोई भी न्यायप्रिय नागरिक और अमन प्रिय देशबंधु पसंद नहीं करेगा।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

‘गन्स ऑफ बनारस’ में दिखेगा माफिया गुड्डू शुक्ला का राउडी अंदाज

Published

on

प्रमोशन के लिए लखनऊ पहुंची फिल्म की स्टारकास्ट

लखनऊ। ‘गन्स ऑफ बनारस’ की स्टारकास्ट शुक्रवार को नवाबों के शहर लखनऊ में थी। जहां पूरी टीम ने एक निजी होटल में प्रेस कॉन्फ्रेंस की। फिल्म में हीरो की भूमिका में माधुरी दीक्षित के करीबी रह चुके प्रोडूसर राकेश नाथ उर्फ रिक्की के बेटे करण नाथ हैं। करण नाथ बाल कलाकार के तौर पर फिल्म मि. इंडिया में अपना कमाल दिखा चुके हैं। बतौर अभिनेता करण नाथ की यह पहली फिल्म है। करण नाथ ने बताया कि फिल्म का टीजर ऑनलाइन आ चुका है। टीजर में हमारा राउडी अंदाज दर्शकों को देखने को मिलेगा।

अभिनेता ने बताया कि मूवी में हमने बनारस के एंग्री यंगमैन माफिया गुड्डू शुक्ला का रोल निभाया है। उन्होंने कहा कि फिल्म डाइरेक्टर शेखर पूरी द्वारा निर्देशित ‘गन्स ऑफ बनारस’ एक हाई वोल्टेज एक्शन ड्रामा फिल्म है। फिल्म में करण के अलावा नतालिया कौर, गणेश वेंकटरम शिल्पा शिरोडकर व दिवंगत विनोद खन्ना भी हैं। फिल्म 28 फरवरी को रिलीज हो रही है।

यह भी पढ़ें-शिव मंदिर के 100 वर्ष पूरे होने पर मनाई गई Grand महाशिवरात्रि

फिल्म एक्ट्रेस नतालिया कौर ने बताया कि इस मूवी में उन्हें काफी कुछ सीखने को मिला है। उनकी हिंदी काफी अच्छी हो गई है। फिल्म के हीरो करण ने बताया कि उन्होंने फिल्म में बनारस के एक मध्यवर्गीय परिवार के लड़के की भूमिका निभाई है। जो कि बाद में माफिया गैंग में शामिल हो जाता है। वहीं साउथ की कई फिल्मों में काम कर चुके गणेश वेंकटरमन ने बताया कि उन्होंने बनारस की छोरी की भूमिका के लिए काफी वक्त बनारस के अस्सी घाट पर बिताया। ताकि वह उस माहौल के अनुसार खुद को ढाल सकें।

इस दौरान उन्होंने पहनावे, बोली और वहां के खानपान को भी अपनाया। ताकि रोल में जान डाल सकूं। फिल्म के डायरेक्टर शेखर सूरी ने बताया कि इस फिल्म को रियलिस्टिक बनाने के लिए उन्होंने यूपी की लोकल भाषा व आम बोल-चाल के शब्दों का प्रयोग किया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

शिव मंदिर के 100 वर्ष पूरे होने पर मनाई गई Grand महाशिवरात्रि

Published

on

जेसी गेस्ट हाउस के शिव मंदिर में भव्य भजन संध्या आयोजित

लखनऊ। महाशिवरात्रि पर निराला नगर स्थित जेसी गेस्ट हाउस परिसर में स्थापित शिव मंदिर में भव्य श्रृंगार, पूजा-आरती एवं भजन संध्या का आयोजन किया गया। जेसी फाउन्डेशन द्वारा आयोजित किए गए कार्यक्रम की शुरूआत शुक्रवार सुबह से हुई। काशी के विद्वान पंडितों ने विधि विधान से रुद्रा अभिषेक किया। आचार्य सुमित द्विवेदी ने बताया कि रुद्राभिषेक को करने या करवाने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है एवं इसका विशेष महत्व है। दिनभर पूजन आदि के बाद शाम को फूल, विल्व पत्र, भस्म, हल्दी, चंदन, वस्त्र, आभूषण आदि से भगवान भोलेनाथ का श्रंगार किया गया। इससे पहले गुरुवार को हल्दी रस्म की गई। वैदिक मंत्रों का भी पाठ किया गया। आरती हुई और भगवान शिव की विशेष आराधना और अभिषेक हुआ।

यह भी पढ़ें-बेटी की हत्या के आरोप में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह का सुरक्षाकर्मी गिरफ्तार

शुक्रवार देर शाम भजन संध्या की शुरूआत गणेश वंदना से हुई। इसके बाद स्थानीय कलाकारों ने मनमोहक संगीत नृत्य प्रस्तुत किया। मेरा भोला है भंडारी… ओम जय शिव ओमकारा…जैसे भजनों ने पूरे वातावरण में भोले की भक्ति का नशा घोल दिया। कार्यक्रम में नगर के अनेक गणमान्य नागरिक व श्रद्धालु भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम की समाप्ति पर सभी को प्रसाद वितरित किया गया। भजन संध्या में आदर्श व्यापार मण्डल के अध्यक्ष संजय गुप्ता, पं. अमर नाथ मिश्रा विशेष रूप से उपस्थित रहे। जेसी फाउण्डेशन के अध्यक्ष आशीष कुमार अग्रवाल ने सभी अतिथियों व श्रद्धालुओं का स्वागत किया। संस्था के कोषाध्यक्ष अभिषेक अग्रवाल ने बताया कि आज इस शिव मंदिर के 100 वर्ष पूरे हो गए हैं। इस अवसर पर एक विवाह कार्यक्रम भी हमारे गेस्ट हाउस में हो रहा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

महाशिवरात्रि की छुट्टी के चलते हजरतगंज में टला बड़ा हादसा

Published

on

जनपथ मार्केट में गिरा विशालकाय पेड़, कई गाड़ियाँ क्षतिग्रस्त

लखनऊ। हजरतगंज की जनपथ मार्केट में महाशिवरात्रि की छु्ट्टी के चलते बड़ा हादसा होते-होते टल गया। भीड़-भाड़ वाली शहर की चर्चित मार्केट में शुक्रवार को अचानक एक बड़ा पेड़ धराशाई हो गया। हल्की बूंदाबांदी और तेज हवा के झोंकों के बीच यहां कई वर्षों पुराना पेड़ गिर गया। पेड़ की चपेट में आधा दर्जन से ज्यादा गाड़ियां आईं। #Mahashivaratri2020 जिससे वह क्षतिग्रस्त हो गईं। गनीमत रही कि बाजार में ज्यादातर दुकानें आज बंद थीं। जिसके चलते लोगों की भीड़ भी नहीं थी। आम दिनों में यहां हर रोज सैकड़ों लोग दुकानदारी आदि के कार्यों से मौजूद रहते हैं।

यह भी पढ़ें-महाशिवरात्रि पर महिलाओं के लिए रोजगार परक लघु उद्योग का हुआ आगाज

पेड़ गिरने से क्षतिग्रस्त होने वाली गाड़ियों में अम्बेसडर कार सहित कई भी शामिल है। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने पेड़ गिरने की जानकारी नगर निगम को दी। लेकिन कई घण्टे तक नगर निगम का कोई अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा। घटना के बाद मौके पर अफरा-तफरी का माहौल हो गया। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 22, 2020, 4:56 am
Intermittent clouds
Intermittent clouds
15°C
real feel: 16°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 95%
wind speed: 1 m/s ESE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:08 am
sunset: 5:33 pm
 

Recent Posts

Trending