Connect with us

अपना शहर

नगर निगम के कार्यकारिणी बैठक में नामन्तरण के सभी प्रस्ताव किये गये स्वीकृत

Published

on

लखनऊ । नगर निगम के मुख्यालय बाबू राजकुमार हाल में प्रस्तावित प्रस्तावों में पूर्ण विभागीय आख्या न संबद्ध होने के कारण स्थगित हुई कार्यकारिणी बैठक । दौबारा महापौर संयुक्ता भाटिया की अध्यक्षता में शुरू की गई । बैठक प्रारम्भ होते ही कार्यकारिणी सदस्य विजय कुमार गुप्ता ने विधिक राय के विषय में पूछा जिसपर नगर आयुक्त ने नगर निगम पैनल के वरिष्ठ अधिवक्ता शैलेन्द्र सिंह चौहान से ली गयी विधिक राय को कार्यकारिणी सदस्यों के सम्मुख पढ़ा। जिसमे स्पष्ट लिखा था कि दिनाँक 07/07/2019 को प्रस्तुत हुआ बजट ही नगर निगम का वर्ष 2019-20 का बजट होगा। साथ ही 25/02/2019 की संपन्न हुई कार्यकारिणी बैठक की पुष्टि भी हो सकती है, इसमें कोई भी अवैधानिकता नही है। इस मौके पर महापौर ने कहा कि हमें तो बजट और पुष्टि पर पहले भी कोई संशय नही था क्योंकि नगर निगम में सदन सर्वोच्य होता है। उसी का निर्णय अंतिम व सर्वमान्य होता है । फिर भी कार्यकारिणी समिति के सदस्य की भावनाओ को ध्यान में रखते हुए हमने विधिक राय लेने की व्यवस्था दी थी जो अब आ चुकी है।

कार्यकारिणी समिति ने सुचिता लाने हेतु लेखा विभाग के काम – काज पर सवाल उठाते हुए सीएफओ का किया घेराव

सुनीता सिंघल ने ऑडिट रिपोर्ट पर सवाल उठाते हुए कहा ऑडिटर की रिपोर्ट संग्लन नही है। जबकि बैलेंस शीट पर जिस सीए ने हस्ताक्षर किए हैं उसने यह लिखा है कि मैंने ऑडिटर की रिपोर्ट देखकर ही हस्ताक्षर किए हैं। इसमें ऑडिटर द्वारा लगाया हुआ पेपर नही है। मासिक आय – व्यय रिपार्ट न बनाये जाने पर भी कार्यकारिणी सदस्यों ने लेखाधिकारी को घेरते हुए अब तक 2019 की ही 04 महीनों की मासिक रिपोर्ट क्यों नही बनायी गयीं। विजय गुप्ता ने तीनों सीए की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए इनको बदल कर 1 सीए द्वारा कार्य कराए जाने की बात कही। विजय कुमार गुप्ता ने कहा कि जैसा कि नगर आयुक्त ने बताया है कि 1 सीए जीएसटी के लिए है तो वह तो सिर्फ महीने में 2 दिन का कार्य है तो बाकी 28 दिन वह सीए क्या करता है।
सुनीता सिंह ने मासिक आय-व्यय के व्योरा पर सवाल उठाया। जिसपर कार्यकारिणी समिति ने सर्वसम्मति से व्यवस्था दी कि सीए द्वारा किये हुए कार्यों का परीक्षण कर तुरंत आवश्यकता अनुसार परिवर्तन करने व नए सीए को रखने के लिए अधिकृत किया। साथ ही अगली कार्यकारिणी में आय-व्यय का लेखा जोखा न प्रस्तुत करने पर लेखाधिकारी पर कार्यवाही की जाएगी।

महापौर ने कहा कि हमने पहले भी कहा कि आय व्यय का व्योरा प्रस्तूर होना चाहिए। पर नही हो रहा है, लेखा में क्या हो रहा है पूछने पर भी जानकारी नही उपलब्ध हो पाती है। पत्र दिखाते हुए महापौर ने कहा मैने कई बार पत्र भेजकर जानकारी मांगना चाही पर उपलब्ध नही करवाई गयी। लेखा विभाग में पारदर्शिता होना चाहिए, जनता का पैसा कहाँ कैसे खर्च हो रहा है इसलिए मासिक आय – व्यय का प्रस्तुत किया जाये वरना कार्यवाही की जाएगी।

पास हुए प्रस्ताव

अटल उदय वन विकसित करने के लिए रहीमाबाद में खसरा संख्या 985 में 5 हेक्टेयर भूमि को एचसीएल फाउंडेशन को देने का निर्णय सर्वसम्मिति से पास किया गया। जिसमे पहली बार 1 लाख पेड़ लगाया जाएगा।
31 दिसम्बर 2001 तक संविदा के आधार पर नियुक्त, कार्यरत कर्मचारियों के नियमितीकरण हेतु अधिसंख्या पदों के सृजन का प्रस्ताव पास होकर पदों के सृजन हेतु शासन को भेजा जाएगा।
महिला समानता दिवस पर महापौर ने महिलाओ को समर्पित प्रस्ताव रखते हुए व्यवस्था दी कि पार्को, चौराहों और बाजारो में महिलाओं के लिए अलग से यूरिनल और ब्रैस्ट फीडिंग सेंटर बनाया जाएगा।
रामजीलाल सरदार पटेल वार्ड के अंतर्गत विभिन्न स्थलों पर पोल लगाकर मार्ग प्रकाश व्यवस्था करवाई जाएगी ।
कान्हा उपवन के निराश्रित पशुओ के अपशिष्ट से सीएनजी गैस प्लांट की स्थापना में कार्यकारिणी समिति ने भविष्य को ध्यान में रखते हुए यह नियम जोड़ दिया है कि कार्य असंतोषजनक होने पर कार्यकारिणी और सदन दोनों ही कंपनी को 3 महीने का समय देते हुए अनुबंधन को निरस्त करने के लिए अधिकृत होंगे।
चित्रगुप्त नगर वार्ड के अंतर्गत इंद्रलोक कॉलोनी में भारत माता मंदिर के पार्क का सौंदर्यकरण करवाया जाएगा ।
सरोजनीनगर वार्ड में नारायणपुरी मोहल्ले में आर०एस० एकडेमी के सामने से लालता प्रसाद के मकान तक नाली व सड़क का निर्माण करवाया जाएगा।
सरोजनीनगर वार्ड के हरिओम नगर में आर०एन० सिंह के मकान के पास से शर्मा के घर तक नाली व सड़क का निर्माण किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: जनस्वास्थ्य रक्षकों के लिए योगी सरकार का प्रयास सराहनीय: मनोज कुमार

निम्न की चिकिस्ता प्रतिपूर्ति स्वीकृत की गई

महापौर ने निर्णय लिया कि चिकित्सा प्रतिपूर्ति वित्तीय नियमो का पालन करते हुए स्वीकृत की जाएगी।
स्व० प्रियंका गोपाल (मरणोपरांत) पुत्री स्व० महावीर प्रसाद [लिपिक, लेखा विभाग] = 3,09,949 (तीन लाख नौ हजार नौ सौ उनचास)
ओमप्रकाश, सेवानिवृत्त अनुचर, मुख्य विभाग = 2,53,855 (दो लाख तिरपन हज़ार आठ सौ पचपन)
रंजना कपूर पत्नी स्व० रामनाथ कपूर = 1,30,890 (एक लाख तीस हजार आठ सौ नब्बे)
सरला श्रीवास्तव, सेवानिवृत्त = 3,71,865 (तीन लाख इकत्तर हज़ार आठ सौ पैंसठ)
सुरेन्द्र कुमार तिवारी, बेलदार = 59,731 (उनसठ हज़ार सात सौ इकतीस)
ओम प्रकाश, सफाई कर्मचारी = 3,99,845 (तीन लाख निन्नानवे हज़ार आठ सौ पैतालीस)

यह भी पढ़ें:भाजपा लखनऊ महानगर ने घोषित किए मण्डल सहचुनाव अधिकारी

अन्य प्रस्ताव
व्यय पक्ष में हर मद में 50% राशि खर्च होने के पश्चात कार्यकारिणी के समक्ष उसकी रिपोर्ट रखी जायेगी और कार्यकारिणी से अनुमोदन का प्राप्त किया जाएगा।

ई-आफिस, डे-बुक और कैश बुक को ऑनलाइन किये जाने का प्रस्ताव सदस्य विजय कुमार गुप्ता ने चर्चा के लिए रखा, जिसके लिए सॉफ्टवेयर तैयार किया जाएगा।
प्रतिमाह कमाई का 50% विकास कार्यों में करने का प्रस्ताव कौशलेंद्र द्विवेदी ने रखा।
ईंधन बचाने एवं व्यवस्थाओ को सही करने के उद्देश्य से बाटने के लिए आर०आर० विभाग को ट्रांस गोमती और सिस गोमती में बांटने हेतु प्रस्ताव पर महापौर ने पूर्ण व्यय विवरण और लाभ – हानि की आख्या सहित अगली कार्यकारिणी में रखने के लिए नगर आयुक्त को निर्देशित किया।
शासन से आने और शासन को जाने वाले सभी पत्रो की जानकारी महापौर को दी जाएगी।
कर्मचारियों, शिक्षकों, आउटसोर्सिंग व अन्य कर्मचारियों के मानदेय बढ़ने वाले सारे प्रस्तावो और पक्षो को समाहित करते हुए अगली कार्यकारिणी में वित्तीय व्यवस्था सहित पूर्ण आख्या को रखने हेतु नगर आयुक्त को निर्देशित किया।
इस मौके पर महापौर श्रीमती संयुक्ता भाटिया संग नगर आयुक्त, उपाध्यक्ष अरुण तिवारी, कौशलेंद्र द्विवेदी, विजय गुप्ता, सुनीता सिंघल, कुमकुम राजपूत, राजेश सिंह गब्बर, सुधीर मिश्रा, नागेंद्र सिंह, मोहम्मद सलीम , शैलेंद्र सिंह बल्लू, गिरीश मिश्रा, अपर नगर आयुक्त अर्चना द्विवेदी, अमित कुमार सहित अन्य अधिकारी- कर्मचारी उपस्थित रहें । http://www.satyodaya.com

अपना शहर

इंदिरा नगर के RS एकेडमी ने भी दो महीने की फीस माफी का किया ऐलान

Published

on

कहा, स्कूल में फीस माफी के बाद भी शिक्षकों को मिलेगी पूरी सैलरी

लखनऊ। दो महीने से ज्यादा के लाॅकडाउन ने हर मध्यमवर्गीय परिवार का आर्थिक गणित बिगाड़ दिया है। प्राइवेट नौकरी और छोटा-मोटा कारोबार करने वाले लोगों के लिए अपने बच्चों के स्कूलों की महंगी फीस भर पाना काफी मुश्किल हो गया है। अभिभावकों की इस मजबूरी को समझते हुए राष्ट्रीय अभिभावक मंच ने फीस माफी के लिए एक अभियान छेड़ा हुआ है। मंच के अभिभावक व शहर के थोक सर्राफा कारोबारी राहुल गुप्ता और भाजपा नेता अभिषेक खरे लगातार स्कूलों संचालकों से संपर्क कर उन्हें फीस माफी के लिए प्रेरित कर रहे हैं।

राष्ट्रीय अभिभावक मंच की इस पहल का असर भी दिख रहा है। अब तक कई स्कूल फीस माफी का ऐलान कर चुके हैं। इसी क्रम में राजधानी के इंदिरानगर स्थित आरएस एकेडमी ने भी अपने बच्चों की दो महीने की फीस माफ करने की घोषणा की है। स्कूल की प्रिंसिपल चित्रांशी शुक्ला और डायरेक्टर मनु शुक्ला ने बताया कि इस महामारी के दौरान हम अभिवावकों के साथ हैं। हमसे जितनी मदद बन पड़ेगी, हम करेंगे। आरएस अकादमी में 200 स्टूडेंट्स पढ़ते हैं। स्कूल में 10 टीचर्स का स्टाफ है। स्कूल मैनेजमेंट ने यह भी कहा है कि बच्चों की फीस माफ करने के बाद भी शिक्षकों की सैलरी में कटौती नही की जाएगी। उन्हें पूरी सैलरी दी जाएगी।

यह भी पढ़ें-राजधानी के हॉटस्पॉट इलाकों का जिलाधिकारी और पुलिस कमिश्नर ने किया निरीक्षण

बता दें कि लाॅकडाउन के बाद से ही सभी तरह की आर्थिक गतिबिधियां ठप हैं। दो महीने से ज्यादा के लाॅकडाउन ने हजारों लोगों की नौकरियां खत्म कर दी। वहीं सभी तरह का कारोबार व व्यापार भी बंद रहा। जिसके चलते आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है। अब 1 जून से लाॅकडाउन-5.0 में कुछ ढील मिलने के बाद लोगों का रोजगार, कारोबार शुरू हुआ है। तो आर्थिक हालात में कुछ सुधार होने की भी उम्मीद है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊ को मिलेगी जाम से राहत, सेतु निर्माण में तेजी लाने के निर्देश

Published

on

लखनऊ। उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने राजधानी में निर्माणाधीन सभी पुलों, फ्लाईओवरों और आरओबी को जल्द से जल्द पूरा करने का निर्देश दिया है। सोमवार को उप मुख्यमंत्री ने सेतु निगम के अधिकारियों को निर्माण कार्यों में तेजी लाने को कहा। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि लखनऊ में निर्माणाधीन पुलों और फ्लाईओवरों के शुरू होते ही शहर में जाम की समस्या खत्म हो जाएगी। लोग आसानी अपने गंतव्य तक पहंुच सकेंगे। डिप्टी सीएम ने बताया कि लखनऊ में तीन निर्माण कार्य पहले ही पूरे हो चुके हैं, जबकि 10 परियोजनाओं का काम चल रहा है। बता दें कि प्रदेश का लोक निर्माण विभाग केशव प्रसाद मौर्य के ही पास है।

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि लखनऊ में हैदरगंज तिराहे से मीना बेकरी मोड़ तक दो लेन के ऊपरिगामी सेतु का निर्माण हो रहा है। इसकी लागत 4042.75 लाख रुपए है। इस सेतु का 90 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। दूसरे सेतु का निर्माण गुरु गोविंद सिंह मार्ग पर हुसैनगंज चौराहा-बांसमंडी चौराहा -नाका हिंडोला चौराहा -डीएवी कॉलेज के मध्य हो रहा है। 12379.90 लाख रुपए की लागत से बन रहे इस 3 लेन फ्लाईओवर का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है। इसी तरह चरक चौराहा-हैदरगंज चौराहा-चरक क्रासिंग-विक्रम काटन मिल रोड के बीच दो लेन के फ्लाईओवर का निर्माण 11015.22 लाख की लागत से हो रहा है। इस सेतु का 74 प्रतिशत कार्य पूर्ण हो चुका है।

यह भी पढ़ें-प्रयागराज एयरपोर्ट पर यात्रियों को उपलब्ध कराएं बस सेवा: नागरिक उड्डयन मंत्री

उप मुख्यमंत्री ने बताया कि शहीद पथ से लखनऊ एयरपोर्ट को जोड़ने वाले वैकल्पिक मार्ग के एलाइनमेंट में एलिवेटेड फ्लाई ओवर का कार्य प्रक्रिया में है। इसकी लागत 13469.51लाख रुपये है। लखनऊ में उत्तर रेलवे के लखनऊ बाराबंकी-रेलवे लाइन किसान पथ (फैजाबाद रोड से मोहनलालगंज रोड तक) के मुख्य शारदा नहर के पास फोरलेन सेतु का निर्माण हो रहा है। इसका 76 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है। सेतु निगम के प्रभारी प्रबंध निदेशक अरविंद श्रीवास्तव ने बताया कि इसी तरह से अन्य पांच निर्माण कार्यों का भी काम चल रहा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

भाजपा लखनऊ महानगर की वर्चुअल मीटिंग को प्रदेश अध्यक्ष ने किया सम्बोधित

Published

on

लखनऊ। मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ पर भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश ने सोमवार से वर्चुअल सभाएं शुरू की। 3 जून तक चलने वाली इन वर्चुअल सभाओं के माध्यम से मोदी सरकार की नीतियों की जानकारी देने के साथ ही देश को आत्मनिर्भर बनाने के लिए स्वदेशी ही अपनाने का संकल्प दोहराया जाएगा। सोमवार को भारतीय जनता पार्टी लखनऊ महानगर ने वर्चुअल मीटिंग का आयोजन किया। महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित वर्चुअल मीटिंग में मुख्य वक्ता के रूप में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा, मोदी सरकार ने अपने 6 साल के कार्यकाल में कई ऐतिहासिक निर्णय लिए। कोविड-19 संकट के दौरान देश की आर्थिक व्यवस्था को संभालने व गरीबों की मदद के लिए केन्द्र ने 20 लाख करोड़ का पैकेज दिया।

यह भी पढ़ें-आरोप, निवेशकों का पैसा डकारने वाली साइन सिटी के मैनेजर ने खोली नई कंपनी

स्वतंत्र देव सिंह ने कहा, मोदी सरकार ने धारा 370 और 35ए, तीन तलाक जैसी कुप्रथा को समाप्त किया। जन्मू कश्मीर की जनता को भारत सरकार की सभी योजनाओं व लाभों का भागीदार बनाया। मोदी सरकार में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हुआ। कोरोना जैसी महामारी से डटकर मुकाबला करने के ही कारण भारत को दुनिया के अन्य देशों की तुलना में अब तक बहुत कम नुकसान हुआ।

कोरोना के खिलाफ भारत मजबूती से लड़ रहा लड़ाई

लाॅकडाउन के दौरान 80 करोड़ जनता को तीन महीने तक मुफ्त राशन, प्रवासी मजदूरों, वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं के जन-धन खातों में 1000-1000 और 500-500 रूपये डाले जा रहे हैं। आर्थिक मंदी से बचाने के लिए सरकार ने 20 लाख करोड़ का पैकेज देकर किसानों, मजदूरों, लघु, कुटीर एवं मध्यम वर्ग के उद्योगों के लिए विभिन्न तरह के प्रोत्साहन की योजनाएं बनायी। कोविड-19 के कोरोना योद्धाओं के लिए 50-50 लाख का बीमा और उसमें साथ ही उनके साथ किसी भी प्रकार के दुव्र्यवहार करने वाले पर सजा का प्रावधान भी किया। किसानों के भी खातों में नगद ट्रांसफर करते हुए विभिन्न प्रकार के प्रोत्साहन उपलब्ध करा रहे हैं।

भाजपा महानगर ने करीब 14 लाख जरूरतमंदों को मदद पहुंचाई

महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने प्रदेश अध्यक्ष सहित सभी कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए बताया कि लाॅकडाउन के दौरान भाजपा महानगर ने 8.81 लाख भोजन पैकेट और 1.31 लाख भोजन सामग्री वितरित कर 13.90 लाख जरूरतमंदों को लाभान्वित किया। इसके अतिरिक्त 54.44 लाख मोदी केयर फण्ड जुटाई गयी। मीटिंग का संचालन महामंत्री त्रिलोक सिंह अधिकारी ने किया। मीटिंग में महामंत्री पुष्कर शुक्ला, राम अवतार कनौजिया, सुनील यादव, महानगर पदाधिकारियों सहित दर्जनों कार्यकर्ता शामिल रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 2, 2020, 5:27 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
31°C
real feel: 35°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 62%
wind speed: 1 m/s SSW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:43 am
sunset: 6:27 pm
 

Recent Posts

Trending