Connect with us

लखनऊ लाइव

भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी की कविताओं की रंगप्रस्तुति ‘अटल पथ’ का हुआ मंचन

Published

on

  • रंगकर्म में योगदान के लिए 11 विभूतियों को नौशाद सम्मान से किया गया अलंकृत

लखनऊ। संस्कृति उन्नयन के क्षेत्र में कार्यरत नौशाद संगीत डेवलपमेंट सोसायटी की ओर से रंगकर्म व कलाओं में विशेष योगदान देने वाली 11 विभूतियों को आज नौशाद सम्मान-2019 से सम्मानित किया गया। यह सम्मान राय उमानाथ बली प्रेक्षागृह में भारत रत्न अटलबिहारी वाजपेयी की कविताओं की रंगप्रस्तुति ‘अटल पथ’ के मंचन के अवसर पर दिया गया। इस अलंकरण समारोह में प्रो. आसिफा जमानी, विलायत जाफरी, पुनीत अस्थाना, शबी जाफरी, जितेन्द्र मित्तल, चित्रा मोहन, विनय श्रीवास्तव, राजवीर रतन, एस.एन.लाल, आनन्द शर्मा व एस.रिजवान को ‘नौशाद सम्मान-2019’ से नवाजा गया।

इस अवसर पर राजनेता अम्मार रिजवी व पूर्व प्रशासनिक अधिकारी अनीस अंसारी ने उपस्थित लोगों से अपने विचार साझा किये। उन्होंने कहा कि लखनवी तहजीब के पैरोकार संगीतकार व शायर नौशाद साहब का घराना नवाबी नहीं था पर वे नवाब शुजाउद्दौला की साझा लखनवी तहजीब की पूरी परंपरा को सामने रखने वाले थे। वह महज संगीतकार नहीं, उम्दा लेखक भी थे। मशहूर फिल्म ‘दीदार’ की कहानी उन्होंने ही लिखी थी।

आपको बता दें कि इससे पहले ‘नौशाद सम्मान’ संगीतकार खय्याम, कल्याणजी आनन्दजी, सरोदवादक अमजदअली खां, संतूरवादक शिवकुमार शर्मा, नृत्यागंना हेमामालिनी, गायिका रेखा भारद्वाज, रंगनिदेशक राज बिसारिया, सूर्यमोहन कुलश्रेष्ठ, जुगुलकिशोर मिश्र को दिया जा चुका है।

समारोह में रंगनिर्देशक विलायत जाफरी ने बताया कि संगीतकार नौशाद एक खुद्दार और संघर्षशील व्यक्ति थे। उनके संघर्ष व अनुभव ने ही उनके फन को यादगार बनाया। नये कलाकारों को हौसला देने के लिए उन्हें याद कर उनकी परम्परा को आगे बढ़ाना हमारा दायित्व है। सोसायटी के सचिव संयोजक अतहर नबी ने संस्था के कार्यों का ब्यौरा और अपने संस्मरण रखते हुए बताया कि नौशाद साहब का बचपन यहीं बीता। यहां रॉयल सिनेमा हाल में संगीतकारों के साथ लड्डन मियां हारमोनियम बजाते थे। यहीं से नौशाद साहब का संगीत प्रेम परवान चढ़कर पहले जुनून की हद और अंततः एक अजीम मंजिल तक पहुंचा। एक उम्दा दर्जे के शायर के तौर पर भी उनका योगदान कम नहीं है।

भारतरत्न पं. अटलबिहारी वाजपेयी की काव्य रचनाओं पर आधारित सोसायटी रंगमण्डल की मल्टी मीडिया पेशकश ‘अटल पथ’ के मंचन के अवसर पर अतिथियों के तौर पर पद्मश्री राज बिसारिया व उर्दू फारसी विश्वविद्यालय के उपकुलपति प्रो.माहरुख मिर्जा भी आमंत्रित थे। एसएन लाल के कविता संकलन, आनन्द शर्मा की परिकल्पना व निर्देशन, असद खान के मल्टीमीडिया संयोजन, आदित्य लिप्टन के संगीत संयोजन व संजय त्रिपाठी के प्रकाश संचालन में प्रस्तुत ‘अटल पथ’ में कई कलाओं का संगम दिखा।

अटल की भूमिका में डाॅ. मसूद अब्दुल्लाह व अन्य चरित्रों में अभिनेश मिश्र, दीपशिखा सिन्हा, पूर्णिमा शुक्ला, अस्मिता श्रीवास्तव, जुही, सुरेशचन्द्र, अजय सिंह, तुषार चौधरी, हृतिककुमार, अनिल सिंह, शिवम मिश्रा व सत्यम शुक्ला इत्यादि कलाकार मंच पर थे। जिन्होंने अटल के काव्य कर्म, उनके आदर्श, त्याग और कर्मठता से परिचित कराती पेशकश में अटल उद्गार, क्या खोया क्या पाया, संकल्प काल, शक्ति से शान्ति, न दैन्यम् न पलायनम् आदि काव्यसंग्रह से ली गईं कदम कभी रुके नहीं कभी डिगे नहीं, पन्द्रह अगस्त की पुकार, मैं न चुप हूं न गाता हूं, दूध में दरार पड़ गई, आओ फिर से दिया जलायें, मैं अखिल विश्व का गुरु महान व कालजयी कविता लौटकर आऊंगा सहित 15 कविताओं को अभिनय, सहज गतियों व संयोजनों में संजोया। वृत्तचित्र शैली की लगभग डेढ़ घण्टे की इस प्रस्तुति में अटल के जीवन के प्रसंग, परमाणु परीक्षण आदि की रिकार्डेड छवियां और वीडियो भी दर्शकों को पसंद आये। लेजर लाइट्स व सराउण्ड साउण्ड ने प्रस्तुति को दर्शनीय व श्रवणीय बनाया।   http://www.satyodaya.com

प्रदेश

खंड विकास अधिकारियों का ओपन ट्रांसफर के साथ दिए गये नियुक्ति पत्र

Published

on

लखनऊ। लोक सेवा आयोग से चयनित होकर आए खंड विकास अधिकारियों का ओपन ट्रांसफर के साथ ग्राम्य विकास मंत्री डाॅक्टर महेंद्र सिंह के हाथो से नवनियुक्त बीडीओ को नियुक्ति पत्र दिया गया। ग्राम्य विकास मंत्री ने सभी चयनित 16 प्रोन्नत सहायक अभियंताओं को भी चाॅइस पोस्टिंग दी। इस मौके पर मंत्री डाॅक्टर महेंद्र सिंह ने कहा बिना किसी सिफारिश और दबाव के पारदर्शी तबादले और नियुक्ति की गई है।

इस मौके पर मंत्री डाॅक्टर महेन्द्र सिंह ने कहा था की ओपन ट्रांसफर की पहली बार किसी विभाग में किया जा रहा है जहां ट्रांसपेरेंसी परफाॅर्मेंस के बेस पर सबको नियुक्ति दी जा रही है। बताया कि पूरे भारत में ग्राम विकास उत्तर प्रदेश का विभाग पहले नंबर पर है। जिसके चलते पिछले साल 12 पुरस्कार भी विभाग ने जीते थे। साथ ही कहा कि सभी स्कूलों में ग्राम विकास विभाग बहुत अच्छा काम कर रहा है जिसके लिए अधिकारियों का अच्छा परफॉर्मेंस है।

यह भी पढ़ें :- प्रयागराज मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी में जुटी पुलिस की टीमें

उन्होंने कहा कि किसी भी वीडियो को किसी से सिफारिश और गुजारिश करने की जरूरत नहीं है। ओपन ट्रांसफर सबके लिए है ब्लैक बोल्ड के ऊपर लिस्ट लगा दी गई है और सब को उसी के आधार पर अपनी सहूलियत के हिसाब से मौका दिया जा रहा है। साथ ही कहा कि इस तरह के ट्रांसफर प्रक्रिया हर साल कर ली जाएगी। जिसमें मीडिया के कैमरों के सामने सब कुछ होगा और सबका ट्रांसफर पूरी ट्रांसपेरेंसी के साथ किया जाएगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ रेल मंडल ने नव नियुक्त ट्रैक मैन्टैनेर्स को दिया प्रशिक्षण

Published

on

लखनऊ। रेल लाइनों के सही तरीके से रख-रखाव को लेकर सोमवार को लखनऊ रेल मंडल ने एक प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया। मंडलीय पी-पे प्रशिक्षण संस्थान में आयोजित इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में मंडल रेल प्रबंधक लखनऊ संजय त्रिपाठी एवं नव नियुक्त ट्रैक मैन्टैनेर्स भी उपस्थित रहे। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में नए कर्मचारियों को ट्रैक के सही तरीके से रख-रखाव के संबंध में जरूरी जानकारी दी गयी। अधिकारियों ने कर्मचारियों से कहा कि अपने कर्तव्यों के प्रति हमेशा सतर्क रहकर काम करें। नव नियुक्त कर्मचारियों को सख्त निर्देश दिया गया कि ड्यूटी के समय आवश्यक उपकरणों और संयंत्रों को अपने साथ रखें।

कार्यक्रम में मंडल रेल प्रबंधक लखनऊ संजय त्रिपाठी ने नव नियुक्त कर्मचारियों को शुभकामनाएं दी। साथ ही उनके बारे में जानकारी भी प्राप्त की। संजय त्रिपाठी ने इस मौके पर कर्मचारियों को रेलवे के लिए उनका महत्व, आवश्यकता, उनके उत्तरदायित्वों और कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी। श्री त्रिपाठी ने कहा कि ट्रैक मैन्टैनेर्स, सुगम एवं सुरक्षित रेल परिचालन की धुरी हैं। इसलिए हर ट्रैक मैन्टैनेर्स की यह जिम्मेदारी है कि वह अपना कार्य पूरी जिम्मेदारी और अनुशासन के साथ करे। अपने कार्य एवं योगदान के माध्यम से देश की प्रगति में सहयोगी बने। कार्यक्रम में वरिष्ठ मंडल अभियंता (समन्वय) सुधीर सिंह, मंडल अभियंता प्रथम उत्पल कांत भी मौजूद रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

आईएएस अफसर ने बंद किया अपार्टमेंट का आपातकालीन रास्ता, विरोध करने पर दिखाई दबंगई

Published

on

लखनऊ। राजधानी में रहने वाले एक आईएएस अफसर ने अपार्टमेंट में साथ रहने वाले लोगों के लिए मुश्किल खड़ी कर दी है। लोगों ने अफसर को समझाने का प्रयास किया लेकिन साहब अपना रौब गांठ कर सभी को चुप करा दिया। जानकारी के अनुसार चिनहट थाना क्षेत्र स्थित रोहित रेजीडेंसी अपार्टमेंट के फ्लैट 310 में एक आईएएस अधिकारी रहते हैं। अपार्टमेंट में रहने वाले अन्य लोगों ने कहना है कि अफसर ने अपार्टमेंट कर आपातकालीन रास्ता बंद कर दिया है। जब अन्य लोगों ने विरोध किया तो अफसर अपनी पहुंच और पाॅवर बताकर दबंगई दिखाने लगा।

लोगों का कहना है कि यह आपातकालीन रास्ता आग अथवा अन्य किसी इमरजेंसी के समय लोगों के बचाव के लिए बनाया गया था, लेकिन आईएएस अफसर ने पक्का निर्माण करवा कर इस रास्ते को बंद करवा दिया है। अधिकारी की करतूत से अपार्टमेंट में रहने वाले अन्य लोगों में आक्रोश है। लोगों ने इस बारे में चिनहट पुलिस से शिकायत भी की। लेकिन पुलिस ने आईएएस अफसर के खिलाफ कार्रवाई से इनकार कर दिया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 20, 2019, 4:25 am
Fog
Fog
27°C
real feel: 34°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 94%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:10 am
sunset: 6:09 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Trending