Connect with us

लखनऊ लाइव

एससी/एसटी आयोग में बृजलाल का कार्यकाल पूरा, प्रेस कांफ्रेंस कर गिनाई उपलब्धियां

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति आयोग के अध्यक्ष बृजलाल का कार्यकाल 17 नवंबर का खत्म हो रहा है। आयोग के नियमों के अनुसार 65 वर्ष आयु पूरी होने के बाद कोई व्यक्ति आयोग का अध्यक्ष न अध्यक्ष बन सकता है और न बना रह सकता है। एससी एसटी आयोग अध्यक्ष के रूप में शुक्रवार को बृजलाल आखिरी वर्किंग डे था। इस मौके पर उनके लिए एक फेयरवेल पार्टी का आयोजन किया गया।

इस मौके पर बृजलाल ने एक प्रेस कांफ्रेंस कर आयोग में अपने कार्यकाल और भाजपा सरकार द्वारा आयोग के कानूनों, अधिकारों के किए गए बदलावों के बारे में जानकारी दी। बृजलाल ने कहा, आयोग में मेरा कार्यकाल 1 साल 7 माह का रहा। मेरी नियुक्ति 18 अप्रैल 2018 में हुई थी। जब मैंने एससीएसटी आयोग अध्यक्ष की जिम्मेदारी संभाली थी तब मुझे 5,979 केश प्राप्त हुए थे। मैंने पूरे कार्यकाल में 6288 केसों पर सुनवाई कर निर्णय दिया। बृजलाल ने कहा कि भाजपा सरकार ने एससी/एसटी आयोग एक्ट में कुछ संशोधन किए हैं। पहले की सरकारों में पीड़ित दलित और अनुसूचित जाति के व्यक्ति को आर्थिक सहायता चार्जशीट लगने के बाद मिलती थी।

यह भी पढ़ें-सुप्रीम कोर्ट ने तथ्यों के आधार पर नहीं दिया अयोध्या फैसला- ‘’इमरान हसन’’

कार्यभार संभालने के बाद मैंने सरकार से मांग की कि पीड़ितों को आर्थिक सहायता जल्द मिले। जिसके बाद भाजपा सरकार ने एक्ट में संशोधन किया। भाजपा सरकार ने न सिर्फ एक्ट में सुधार किए बल्कि नए अपराध भी जोड़े। पहले आयोग के तहत केवल 16 मामले आते थे, लेकिन अब करीब 22 अपराध आयोग के अधिकार क्षेत्र में आ गए हैं। आयोग अध्यक्ष ने कहा कि चूंकि मैं पुलिस अधिकारी रहा हूं, इसलिए केसों को समझने में मुझे आसानी होती थी। कई मामलों में मैंने खुद हस्तक्षेप कर सही कार्रवाई करवाई। ऐसे ही केसों में मथुरा का प्रिंस मर्डर केस भी था। मीडिया पर पिंस हत्याकांड को लेकर काफी खबरें छपी थीं। इस बच्चे की हत्या का संज्ञान लेकर उचित कार्रवाई करवाई।

भाजपा सरकार ने दलित व अनुसूचित व्यक्ति को मिलने वाली आर्थिक सहायता में बदलाव कर एफआईआर दर्ज होने पर 25 प्रतिशत, चार्जशीट दाखिल होने के बाद 50 प्रतिशत और फैसला आने पर 25 प्रतिशत देने का नियम लागू किया। मारपीट के मामले में पीड़ित एससी/एसटी के व्यक्ति को मिलने वाली सहायता राशि भाजपा सरकार ने बढ़ाकर 1 लाख रुपये कर दी। हत्या के मामले में मिलने वाली आर्थिक सहायता राशि बढ़ाकर 8 लाख 25 हजार रुपए कर दी है। साथ ही पीडि.त एससी एसटी परिवार को 5 हजार रुपए की पेंशन भी मिल रही है। पेंशन की व्यवस्था 30 नवंबर 2018 से लागू की गई।

यह भी पढ़ें-अपने आखिरी वर्किंग डे पर बोले रंजन गोगोई, मौन में ही है जजों की आजादी

बृजलाल ने कहा कि कार्यभार संभालने के बाद मैंने 14 जून 2014 से पूर्व के जितने केश थे उन्हें तैयार करके जिले में भेज दिया। बृजलाल ने कहा कि पूर्व की सरकारों में एससी एसटी आयोग में अधिकतर सदस्य दूसरी जातियों के होते थे। मैंने इसमें सुधार करवाकर सदस्यों दलित व अनुसूचित जाति जनजाति के लोगों को रखवाया। कहा कि मैंने देखा जनपदों में थानों में एससी एसटी थानेदारों की संख्या काफी कम थी। मैंने डीजीपी को पत्र लिखकर थानों में निचली जातियों के लोगों को पोस्टिंग दिलायी। अंत में बृजलाल ने कहा कि आयोग के अध्यक्ष पद से हटने के बाद मैं भाजपा कार्यकर्ता के रूप में काम करूंगा। संगठन मजबूत करूंगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लखनऊ लाइव

ई-कॉमर्स कंपनियों के खिलाफ व्यापारियों ने रीता बहुगुणा जोशी को दिया ज्ञापन

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल एवं कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स के बैनर तले राजधानी के व्यापारियों ने अमेजॉन, फ्लिपकार्ट एवं एफडीआई की शर्तों का उल्लंघन कर रही अन्य ई-कॉमर्स कंपनियों एवं होलसेल स्टोर वॉलमार्ट के खिलाफ आंदोलन की धार को और तेज कर दिया है। कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स के राष्ट्रीय महामंत्री (संगठन) उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता के नेतृत्व में शुक्रवार को संगठन के पदाधिकारियों ने लोकसभा सदस्य सांसद डॉ रीता बहुगुणा जोशी को उनके लखनऊ में डाली बाग स्थित आवास पर ज्ञापन सौंपकर उनसे प्रधानमंत्री, वित्त मंत्री और वाणिज्य मंत्रियों तक व्यापारियों की पीड़ा पहुंचाने के लिए कहा है।

व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने कहा यदि इन कंपनियों पर अंकुश नहीं लगाया गया तो भारत में पूरी तरह व्यापारी तबाह हो जाएगा। सांसद डॉ. रीता बहुगुणा जोशी ने व्यापारियों की समस्या को ऊपर तक पहुंचाने का आश्वासन दिया तथा व्यापारियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े रहने का आश्वासन दिया।

ये भी पढ़ें: मोमिन अंसार सभा ने अयोध्या फैसले पर जताई हैरानी

ज्ञापन देने वालों में लखनऊ के उपाध्यक्ष डॉ. साकेत चतुर्वेदी, ट्रांस गोमती प्रभारी मनीष पांडे, ट्रांस गोमती अध्यक्ष अनिरुद्ध निगम और सचिन सिंह शामिल थे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

मोमिन अंसार सभा ने अयोध्या फैसले पर जताई हैरानी

Published

on

लखनऊ। लंबे अरसे से चल रहे अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट अपना फैसला सुना चुका है। अब इस फैसले को लेकर मुस्लिम समुदाय से अलग-अलग प्रतिक्रियाएं भी आना शुरू हो गई हैं। शुक्रवार को मोमिन अंसार सभा ने भी यूपी प्रेस क्लब में प्रेंस कांफ्रेंस करके उच्चतम न्यायालय के फैसले का स्वागत किया है। लेकिन इसके साथ ही उन्होंने फैसले पर हैरानी भी जाहिर की है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान मोमिन अंसार सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अंसार रजा ने कहा की मुसलमान लगातार ये कहता चला आ रहा था कि सुप्रीम कोर्ट जो भी फैसला देता है उसे मानेगा इसलिए हमने कोर्ट के फैसले का स्वागत किया गया। लेकिन इस फैसले से हमें हैरानी जरूर हुई है। हालांकि, अंसार रजा ने कहा कि इस मामले पर वो अब आगे नहीं जाएंगे और जो लोग भी आगे जाने की बात कर रहे हैं वो अलग-अलग पक्षकार हैं वो अपनी सोच रखेंगे।

ये भी पढ़ें: महिला ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, जांच में जुटी पुलिस

सुन्नी वक्फ बोर्ड ने अभी कोई फैसला नहीं लिया है कि वो सुप्रीम कोर्ट जाएंगे या नही जाएंगे। सुन्नी वक्फ बोर्ड 25 नवंबर को बैठक कर निर्णय करेगा कि उसे आगे क्या करना है। वहीं, इस मामले पर अकरम अंसारी ने कहा कि 5 एकड़ मस्जिद की बात है तो वो हम लोग कहीं भी लेकर बना सकते हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

डीएम अभिषेक प्रकाश ने बीती रात रैन बसेरों का किया निरीक्षण, दिए ये निर्देश

Published

on

लखनऊ। ठंड का मौसम आते ही सड़क किनारे सोने वाले लोगों को मददेनजर रखते हुए। लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश ने बीती रात रैन बसेरो का निरीक्षण किया। साथ ही उन्होने सभी थानो को भी अपने अपने क्षेत्रों में सड़क किनारे सोने वाले लोगों को रैन बसेरो में पहुचाने के निर्देश दिए।

जानकारी के मुताबिक डीएम अभिषेक प्रकाश ने जियामऊ लक्ष्मण मेला कैसरबाग स्थित रैन बसेरो का निरीक्षण किया।रैन बसेरो में निरीक्षण कर डीएम संतुष्ट दिखें। निरीक्षण के दौरान डीएम ने दिव्यांगो के लिए रैन बसेरो में व्हील चेयर रखने के लिए कहा। सभी थानो को भी अपने अपने क्षेत्रों में सड़क किनारे सोने वाले लोगों को रैन बसेरो में पहुचाने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान डीएम के साथ नगर आयुक्त एसीएम 1 सहित अन्य विभागो के अधिकारी भी मौजूद रहें।

यह भी पढ़ें: इस गलती ने निकाले किसान दंपति के आंसू, 41 हजार रुपयों के टुकड़े हवा में उड़े….

डीएम अभिषेक प्रकाश ने कहा कि लखनऊ व महानगर में 23 रैन बसेरे की व्यवस्था की गई है। इसके साश-साथ ही गांव बस्तियों में व तहसिल स्तरों व ब्लाक स्तरों पर भी रैम बसेरे का व्यवस्था की गई है। अभी वर्तमान में मेरे व टीम के द्वारा तीन स्थानों का निरीक्षण किया गया। सभी जगहों पर सोने का पूर्ण व्यवस्था की गई है और कंबल भी दिया जा रहा है। वहां पर शौचालय व साफ-सफाइ की पूर्ण व्यवस्था की गई हैं। उन्होने कहा कि लखनऊ व महानगर को लेकर विषेश रुप से एक टीम बनाई गई है। ताकि कोई भी व्यक्ति सड़क किनारे ना सोए। सड़क किनारे सोने वाले लोगों को रैन बसेरो में पहुचाया जाए। http://www.satyodaya.com    

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 15, 2019, 5:20 pm
Mostly sunny
Mostly sunny
26°C
real feel: 26°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 41%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:55 am
sunset: 4:46 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending