Connect with us

लखनऊ लाइव

बीएस-4 ने परिवर्तन चौक से हजरतगंज तक निकाली रैली आरक्षण बचाओ रैली

Published

on

पूर्व मंत्री आरके चौधरी के नेतृत्व में निकाली गयी रैली

लखनऊ। आरक्षण को लेकर हाल ही में सुप्रीम कोर्ट द्वारा दिए गए निर्णय के बाद इस पर सियासत तेज है। पिछड़ों, अति पिछड़ों और दलितों को अपने पाले में करने के लिए राजनीतिक पार्टियां आरक्षण को मुद्दा बनाकर सरकार को घेरने में जुट गई हैं। गुरुवार को पूर्व मंत्री आरके चैधरी के नेतृत्व में भारतीय संविधान संरक्षण संघर्ष समिति (बीएस-4) ने परिवर्तन चैक से हजरतगंज तक आरक्षण बचाओ रैली निकाली। समिति के कार्यकर्ता हांथों में तिरंगा और तख्तियां लेकर आरक्षण कोई भीख नहीं यह अधिकार हमारा है…बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर अमर रहें…के नारे लगाते हुए हजरतगंज पहुंचे। जहां आरके चौधरी ने बाबा साहब की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। रैली में बीएस-4 के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया। पूर्व मंत्री आरके चैधरी ने हजरतगंज में राष्ट्रपति को संबोधित एक ज्ञापन प्रशासन को सौंपा।

मीडियाकर्मियों से बात करते हुए चौधरी ने कहा, भाजपा सरकार की गलत दलील के आधार पर हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने आरक्षण पर एक दुर्भाग्यपूर्ण फैसला कर दिया है। कोर्ट ने कहा कि राज्य सरकारें आरक्षण देने के लिए बाध्य नहीं हैं। यह मौलिक अधिकार नहीं है। पूर्व मंत्री ने कहा कि आरक्षण के लिए अदालत राज्य सरकारों को आदेश नहीं दे सकती। बाबा साहब ने संविधान बनाया। जिसमें उन्होंने समाज के लूटे, दबे, कमजोर, लाचार कुचले और पिछड़े लोगों को आरक्षण देने की व्यवस्था की। जिसका मकसद था कि इन लोगों को समाज के उच्च वर्गों के बराबर लाया जा सके। कहा कि यदि भाजपा सरकार आरक्षण करना चाहती है तो हम लोग आरक्षण के समर्थन में आन्दोलन चलाएंगे।

यह भी पढ़ें-जर्मनी: हनाऊ शहर के हुक्का बार में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग, 8 की मौत कई घायल…

बता दें कि हाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने एक सुनवाई के दौरान कहा कि राज्य सरकारें आरक्षण देने के लिए बाध्य नहीं हैं। शीर्ष अदालत ने यह भी कहा कि आरक्षण किसी का मौलिक अधिकार नहीं है। कोर्ट के इस फैसले का पूरे विपक्ष ने विरोध किया है। और इसके फैसले के लिए भाजपा सरकार को कटघरे में खड़ा करने में जुट गई हैं।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

कोरोना संकट: कागज पर स्केच बनाकर छोटे-छोटे बच्चों ने की एक अच्छी पहल

Published

on

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में जिस तरह कोरोना वायरस का ख़ौफ और डर लोगों में बना हुआ है। वहीं कोरोना वायरस को देखते हुए छोटे छोटे नंन्हे नोनिहाल बच्चों ने एक नई पहल शुरू की है। इन्द्रानगर थाना क्षेत्र के तकरोही गांव के मोहम्मद अरहम व छोटे छोटे नन्हे नोनिहालों ने सादे पेपर पर ड्राइंग बना कर लोगो को घर घर जाके जागरूक कराया है।

यह भी पढ़ें : – संदिग्ध परिस्थितियों में युवक ने लगाई फांसी, मौत

बता दें कि और मासूम बच्चों ने पेपर पर लिखा कि बूड़ो को घर से बाहर मत जाने दीजिए और कोरोना वायरस से बचिए। साथ ही में ड्राइंग में कार्टून बना कर बताया कि कोरोना को भगाने के लिए हांथो को साफ से धोएं और मुँह को यह आँखों को छूने से पहले हांथो को साफ से व सही से धोलें। उन बच्चों ने सभी को सेनेटाइजर व मार्क्स का इस्तेमाल भी करने की भी सलाह दी। साथ ही नोनिहाल बच्चों ने पेपर पर लिखा कि कोरोना वायरस की चेन को ब्रेक करें। साथ बच्चों ने घर-घर जाके पेपर को चिपकाया व लोगों से मासूम बच्चों ने कोरोना वायरस से बचने की अपील की।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

कोरोना वायरस से लड़ने के लिए पूरा मुल्क एकजुट : खालिद रशीद फरंगी महली

Published

on

लखनऊ। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील पर उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ सहित तमाम शहरों में रविवार सुबह सात बजे से जनता कर्फ्यू शुरू हो गया। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए इमाम ऐशबाग ईदगाह मौलाना खालिद रशीद ने मस्जिदों के इमामों से अपील की है कि वह कोई बड़ा जलसा या कार्यक्रम मस्जिदों में न करें। जिसमें बड़ी संख्या में लोगों के जमा होने की संभावना हो। इस्लामिक सेंटर ऑफ इंडिया के चैयरमैन व इमाम ऐशबाग ईदगाह मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने बताया कि कोरोना वायरस को लेकर जो सरकार की ओर से सुरक्षा के उपाय बताए गए हैं । लोगों को चाहिए कि उस पर पूरी तरह से अमल करें।

यह भी पढ़ें-कोरोना संकटः देश के 75 जिलों में लाॅक डाउन का ऐलान, ट्रेन सेवाएं 31 मार्च तक ठप

उन्होंने कहा कि कोई भी बड़ा जलसा या फिर कार्यक्रम जिसमें भीड़ एकत्र होने की संभावना हो, उसको स्थागित कर दें। मौलाना ने कहा कि लोग बड़ी मस्जिदों के बजाए अपने मोहल्ले की मस्जिदों में नमाज को अदा करें। मौलाना ने कहा कि पांच वक्त सही से वुजू करें क्योंकि वुजू से बहुत सी बीमारियां नहीं होती है। इसके अलावा अपने आस-पास साफ-सफाई का ध्यान रखें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ: जनता कर्फ्यू को लेकर घंटाघर के आस-पास भी पसरा सन्नाटा

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के चलते अफरा तफरी का माहौल है महामारी की श्रेणी में इस बीमारी को लाते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी धरना प्रदर्शनों पर प्रतिबंध लगा रखा है। इसके वावजूद लखनऊ के घंटाघर परिसर में दिल्ली के शाहीन बाग की तर्ज पर बीते 17 जनवरी से महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनता से कर्फ्यू की अपील पर जहां सड़कें खाली दिख रही है। वहीं ऐतिहासिक स्थल घंटाघर में एनआरसी और सीएए का विरोध जारी है हालांकि जनता कर्फ्यू को लेकर घंटाघर में रोजाना की संख्या से हिसाब से आज प्रदर्शनकारियों की कम भीड़ दिखाई दी। घंटाघर के आस-पास के इलाके में सन्नाटा है। महामारी की इस स्थिति को देखते हुए घंटाघर में प्रदर्शनकारी महिलाओं की सुरक्षा के मद्देनजर घंटाघर के आसपास की जगह पर अधिकारियों के साथ-साथ पुलिस फोर्स लगातार मुस्तैद है।

यह भी पढ़ें-मुंबई एयरपोर्ट पर डाॅक्टरों ने कनिका कपूर को दी थी कोरोना पाॅजिटिव होने की जानकारी

फिलहाल इस जानलेवा वायरस के प्रकोप को देखते हुए जनता कर्फ्यू का प्रदर्शनकारी महिलाओं ने भी समर्थन किया है । बता दें की देश में अब तक कोरोना वायरस से 5 लोगों की मौत हो चुकी है । रविवार को बिहार के 65 वर्षीय व्यक्ति की मौत की खबर भी सामने आई है। देश मे कोरोना एक्टिव पॉजिटिव मामलों की संख्या 324 हो गई है। कुल संक्रमित लोगों में 283 भारतीय नागरिक और 41 विदेशी नागरिक शामिल हैं । 24 लोगों को इलाज के बाद घर भेज दिया गया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

March 23, 2020, 6:41 am
Fog
Fog
19°C
real feel: 18°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 88%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:37 am
sunset: 5:49 pm
 

Recent Posts

Trending