Connect with us

लखनऊ लाइव

पर्यटकों के लिए नहीं बनवाए गए हैं इमामबाड़े : मौलाना कल्बे जवाद

Published

on

धर्मगुरू ने कहा, पर्यटकों के लिए इमामबाड़े खोले जाएं तो हमें मजलिस भी इजाजत दी जाए

लखनऊ। शिया धर्म गुरू कल्बे जवाद ने कहा है कि लखनऊ का छोटा और बड़ा इमामबाड़ा कोई पर्यटन स्थल नहीं हैं। यह पर्यटकों के लिए नहीं बनवाए गए हैं। इमामबाड़े मजलिस, मातम और अजादारी के लिए बनवाए जाते हैं, लोगों के सैर-सपाटे और की मौज-मस्ती के लिए नहीं। मंदिर-मस्जिद और इमामबाड़ा टूरिस्टों के लिए नहीं बनते हैं। इमामबाड़े मजहबी मसाइलों के लिए बनते हैं। धर्मगुरू ने 24 सितंबर से पर्यटकों के लिए इमामबाड़े खोलने संबंधी लखनऊ जिला प्रशासन के निर्णय पर सख्त ऐतराज जाहिर किया है।

बुधवार को मौलाना कल्बे जवाद ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि हमें इमामबाड़ों में मजलिस की इजाजत नहीं दी जा रही है, लेकिन पर्यटकों के लिए खोले जा रहे हैं। पहली से लेकर 10वीं मोहर्रम तक भी छोटा और बड़ा इमामबाड़ा में मजलिस की अनुमति नहीं दी गयी। धरना प्रदर्शन के बाद जिला प्रशासन ने शहर के अन्य इमामबाड़ों में पांच अजादारों के साथ मजलिस की अनुमति दी थी।

यह भी पढ़ें-गाजियाबाद : रेल ट्रैक पर फंसी चोरी की कार, ट्रेन आ जाने पर छोड़ भागे बदमाश

मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि हमारे साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा है, जो ठीक नहीं है। अगर इमामबाड़ा में टूरिस्ट को इजाजत दी गई है तो हमे भी मजलिस करने से रोका नहीं जा सकता।

अब जज्बात को काबू करना पर काबू रख पाना मुश्किल होगा

कॉन्फ्रेंस में मौलाना कल्बे जवाद ने कहा, प्रशासन में बैठे कुछ लोग लगातार हमारी भावनाओं को आहत करने वाले निर्णय ले रहे हैं। इसका जिम्मेदार कौन है? कोरोना महामारी के बीच मनाए गए मोहर्रम पर पूरे देश में मुस्लिम समुदाय ने सरकार और प्रशासन को सहयोग दिया। लेकिन इस प्रकार से इमामबाड़े में अजादारी करने से रोका गया तो जज्बात को काबू करना हर किसी के लिए मुश्किल होगा।

मौलाना ने प्रशासन को चेताया कि वह इमामबाड़े में अजादारी की पूरी इजाजत दें। सोशल डिस्टेंस के साथ सभी मानकों को पूरा करते हुए मजलिसें व नमाज अदा की जाएंगी। मौलाना ने कहा कि प्रशासन अगर किया को नजरअंदाज करके इमामबाड़े में केवल पर्यटकों को ही प्रवेश की अनुमति देता है तो फिर हमें भी इमामबाड़े में बिना किसी अनुमति के अजादारी करने से रोका नहीं जा सकता।

डीएम ने नहीं रिसीव किया फोन

मौलाना ने कहा कि मंगलवार देर रात इमामबाड़े खोले जाने की सूचना मिलने पर हमनें कई बार लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश को फोन लगाया। लेकिन पूरी-पूरी घण्टी बजने के बाद भी डीएम ने फोन नहीं रिसीव किया।

सालाना 18 करोड. आय का कुछ अता-पता नहीं

धर्मगुरू ने इमामबाड़ों से होने वाली आय की बंदरबांट का भी आरोप लगाया है। हमने कई बार इमामबाड़ों से होने वाली कमाई और टस्ट के खर्च के संबंध में लखनऊ जिला प्रशासन से जानकारी मांगी, लेकिन हुसैनाबाद टस्ट को प्राइवेट संस्था बताकर जानकारी देने से इनकार दिया गया। मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि कुछ महीनों पहले इमामबाड़ों में तालाबंदी के दौरा एक अफसर ने कहा था कि इससे हर दिन पांच लाख रुपए का नुकसान हो रहा है। यदि अफसर के बयान के हिसाब से इमामबाड़ों की सालाना आय 18 करोड़ रुपए होती है। यह पैसे कहां जाते हैं और कहां खर्च होते हैं, इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी जाती।

गोल दरवाजे पर बनीं इमारजें नाजायज

मौलाना ने कहा कि गोल दरवाजे पर बनीं सभी इमारतें नाजायज हैं। इन दुकानदारों के पास कोई लीज एग्रीमेंट नहीं हैं। मौलाना ने कहा कि शियों का हक मारकर लखनऊ के अफसर करोड़ों रुपए कमाते आ रहे हैं। मौलाना ने कई अफसरों पर सवाल भी उठाए।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

Lucknow: अवैध बिल्डिंग सील कराने पहुंचे इंजीनियरों पर बिल्डर ने किया हमला

Published

on

लखनऊ। राजधानी के खुर्रम नगर में बुधवार को अवैध निर्माण सील कराने पहुंचे एलडीए के जेई समेत तीन कर्मचारियों को बिल्डर और उनके गुर्गों ने पकड़ कर कूट दिया। बिल्डर ने दो दर्जन साथियों के साथ उसने इंजीनियरों व कर्मचारियों की पिटाई शुरू कर दी। हमले के चलते कुछ कर्मचारियों ने भागकर जान बचाई वहीं जेई सहित 3 को बिल्डर ने पकड़ लिया। जेई बृजेंद्र सिंह की काफी ज्यादा पिटाई कर दी। सूचना मिलते ही मौके पर पुलिस पहुंच गई। जेई के हाथ, पैर, सिर में काफी चोटें आई हैं।

यह भी पढ़ें: ऑपरेशन के नाम पर ऐंठे 80 हजार रूपए, ऑपरेशन न होने का आरोप

उधर जानकारी के बाद प्राधिकरण के कई इंजीनियर थाने पहुंच गए। बिल्डर के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जा रही है। एलडीए के ओएसडी डीके सिंह ने बताया कि बिल्डर मोहम्मद जब्बार बिना नक्शा पास कराए श्याम नगर खुर्रम नगर में अवैध बिल्डिंग बना रहा था। उसकी बिल्डिंग 27 फरवरी 2020 को सील कराई गई थी। इसके बावजूद उसने निर्माण नहीं बंद किया। शिकायत के बाद 3 दिन पहले फिर बिल्डिंग सील कराई गई। आज फिर उसने निर्माण शुरू करा दिया। जिससे आज सील कराने टीम को भेजा गया था। बिल्डर को इसकी जानकारी मिल गई। लिहाजा वह अपने गुर्गों के साथ मौजूद था। उसने टीम पर हमला कर दिया। उन्होंने बताया कई लोगों को चोटें आई हैं।http://satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

Lucknow: दुकान पर कब्जे को लेकर जमकर हंगामा, हजरतगंज बाजार बंद

Published

on

मंत्री मोहसिन रजा पर लगाया व्यापारियों ने आरोप
लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ के हजरतगंज में दुकान पर कब्जे को लेकर मंगलवार की शाम अचानक हजरतगंज बाजार में विवाद शुरू हो गया। आरोप है कि बीजेपी सरकार के मंत्री मोहसिन रजा के दबाव में आकर पुलिस ने साहू सिनेमा के सामने दुकान नंबर 55 को खोलने से रोक दिया। इसके बाद हजरतगंज के सभी व्यापारी एकजुट हो गए और करीब डेढ़ घंटे तक अपनी दुकानें बंद रखी। मामले में देर रात तक विवाद चलता रहा। लखनऊ के सभी व्यापारी नेता मौके पर पहुंच गए व्यापारी नेताओं ने चेतावनी दी कि पुलिस सरकारी दबाव में ऐसे ही काम करती रही तो बुधवार को पूरा बाजार बंद कर दिया जाएगा।

कारोबारियों ने बताया कि साहू सिनेमा के सामने स्थित दुकान राजीव कुमार चलाते हैं। यह जमीन वक्फ की बताई जा रही है। इसी के चलते जमाल और राजीव कुमार के बीच में विवाद है। करीब 3 महीने पुराना यह मामला हाईकोर्ट में भी गया था। यहां से वक्फ बोर्ड के मामले का निपटारा करने को निर्देश दिया गया था। हालांकि अब तक इस मामले में कोई स्पष्ट कार्यवाही नहीं हो सकी है। जमाल मोहसिन रजा के ससुर हैं। आरोप है कि इसी वजह से वह दबाव बना रहे हैं। हालांकि एक पक्ष का कहना है कि इस विवाद में दुकान को लेकर जमाल के पक्ष में फैसला है। हालांकि इसे पक्ष में अब तक कोई कागज सामने नहीं आया है। बिना पेपर देकर पुलिस ने दुकान खोलने से रोक दिया। जिसके चलते वहां विवाद बढ़ गया।

यह भी पढ़ें: राशिफल: कन्या राशियों को बिजनेस में सफलता मिलेगी, रोजगार में वृद्धि होगी

मौके पर मौजूद लखनऊ व्यापार मंडल के वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्रा, राजेंद्र अग्रवाल, विनोद पंजाबी, अनिल रस्तोगी, समेत कई लोगों ने बताया कि 3 दिन पहले दुकान की छत को तोड़कर 5 लाख से ज्यादा का सामान चोरी कर लिया गया है। राजीव यहां एक शोरुम खोलने जा रहे हैं। ऐसे में कई सामान तो घर पर रखवा दिया था करीब 800 स्क्वायर फुट की दुकान का किराया बहुत कम है लेकिन यह प्रॉपर्टी करोड़ों रुपए की है। ऐसे में दोनों ही पक्ष यह कबजा छोड़ना नहीं चाहते हैं। इस मामले में इंस्पेक्टर हजरतगंज अंजनी कुमार पांडे ने बताया कि दोनों तरफ से कोई मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है। मौके पर इसलिए पुलिस लगाई गई ताकि कोई विवाद ना हो। किसी भी तरफ से कोई दबाव की बात उन्होंने मना की है। इस मामले में मोहसिन रजा से कई बार बात कर ने की कोशिश की गई लेकिन उनसे बात नहीं हो पाई।http://satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

भाजपा सांसद कौशल किशोर के बेटे का निधन, काफी दिन से थे बीमार

Published

on

लखनऊ। मोहनलालगंज से भाजपा सांसद कौशल किशोर व मलिहाबाद विधायक जयदेवी के पुत्र आकाश किशोर उर्फ जैवी (29) का सोमवार को इलाज के दौरान अस्पताल में निधन हो गया। आकाश किशोर को किडनी की समस्या थी। काफी समय से वह बीमार थे और उनका इलाज केजीएमयू के शताब्दी अस्पताल में चल रहा था।

यह भी पढ़ें -कैरियर ग्रुप हाउसिंग कंपनी पर पीएम आवास के नाम पर ठगी करने का आरोप

सोमवार दोपहर जैवी की दोनों किडनी फेल हो गईं, जिससे उनकी मौत हो गयी। सांसद पुत्र के युवा पुत्र के निधन की खबर मिलते ही सांसद कौशल किशोर के आवास पर समर्थकों की भीड. जुटने लगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 23, 2020, 8:46 am
Fog
Fog
24°C
real feel: 28°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 78%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 5:40 am
sunset: 5:01 pm
 

Recent Posts

Trending