Connect with us

लखनऊ लाइव

न मैं डरूंगी, न झुकूंगी…कमलेश तिवारी का सपना पूरा करके ही दम लूंगी…

Published

on

किरण कमलेश तिवारी ने संभाली हिन्दू समाज पार्टी की कमान

लखनऊ। न मैं डरूंगी, न मैं झुकूंगी और न ही समझौता करूंगी। कमलेश तिवारी का सपना था, इस्लाम मुक्त भारत…और उसे मैं पूरा करके रहूंगी। हिन्दू समाज पार्टी के दिवंगत राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी की पत्नी किरण कमलेश तिवारी ने पार्टी की कमान संभालने के तुरंत बाद शनिवार को आयोजित अपनी पहली प्रेस वार्ता में यह हुंकार भरी। पार्टी पदाधिकारियों व मीडिया को संबोधित करते हुए किरन कमलेश तिवारी ने कहा, मैं हिन्दू समाज पार्टी के समस्त कार्यकर्ताओं, पदाधिकारियों व अपने सभी साथियों को विश्वास दिलाती हूं कि स्व. कमलेश तिवारी के सपनों को हर कीमत पर पूरा किया जाएगा।
किरण कमलेश तिवारी ने योगी सरकार पर भी जमकर हमला बोला। हिन्दू समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कमलेश तिवारी की हत्या पर सरकार ने 15 लाख का चेक देकर उनका अपमान किया है। इससे हिन्दू समाज दुखी है। कहा कि मैंने यह पैसे खर्च नहीं किए हैं और न करूंगी। जिस दिन किसी भाजपा के वरिष्ठ नेता की इसी तरह हत्या होगी। उस दिन मैं भाजपा सरकार के ये 15 लाख और अपनी पार्टी की तरफ से 15 लाख मिलाकर कुल 30 लाख रुपए वापस कर दूंगी।

प्रेस वार्ता के दौरान हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव राजेश मणि त्रिपाठी ने कहा कि कमलेश तिवारी हत्याकांड की जांच एनआईए से इसलिए नहीं कराना चाहती क्योंकि इससे सरकार के तमाम अधिकारी और भाजपा नेता बेनकाब हो जाएंगे। कमलेश तिवारी की हत्या शासन-प्रशासन की भयानक चूक का परिणाम है।

यह भी पढ़ें-दीपावली पर श्वांस के मरीज व गर्भवती महिलाएं बरतें सावधानी: डॉ. वेद प्रकाश

श्री त्रिपाठी ने कहा कि मैं सीएम योगी को याद दिलाना चाहता हूं कि किस तरह वह अपनी सुरक्षा को लेकर संसद में खड़े होकर रोये थे, क्या वह दिन भूल गए?। आपका जीवन, जीवन है और दूसरे को जीने का अधिकार नहीं है। कहा कि कमलेश तिवारी की हत्या में परोक्ष या अपरोक्ष रूप से शासन, प्रशासन दोनों जिम्मेदार हैं। उनकी सुरक्षा जिस तरह से हटाई गई और तमाम विजिलेंस रिपोर्टों की अनदेखी की गयी, उससे साफ है कि भाजपा सरकार और उसके नेता नहीं चाहते थे कि कमलेश तिवारी जिन्दा रहें।

अखलाक और कमलेश की हत्या पर भेदभाव क्यों?

राष्ट्रीय महासचिव ने कहा कि भाजपा सरकार अगर समझती है कि कमलेश तिवारी की हत्या के बाद पार्टी खत्म हो जाएगी तो यह भाजपा की भूल है। हिन्दू समाज पार्टी अब दोगुनी ताकत से उठेगी। योगी सरकार जिस तरह से कमलेश तिवारी के परिजनों को 15 लाख रुपए का सहायता राशि व उनके पैतृक तहसील में आवास की व्यवस्था कर रही है, निश्चित तौर पर एक साजिश है। यह कमलेश तिवारी को अपमानित करने का षडयंत्र है। इसी सरकार में जेहादी अखलाक की हत्या पर उसके परिजनों को 50 लाख रुपए तथा आवास, नौकरी सब दी गयी। मैं सीएम योगी से पूछना चाहता हूं क्या आपकी निगाह में कमलेश तिवारी की हैसियत अखलाक के सामने शून्य है।

सीएम योगी और ओवैसी पर तीखा हमला

राजेश मणि त्रिपाठी ने कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ खुद को हिन्दूवादी कहते हैं। शर्म आती है ऐसे हिन्दूवादियों पर। श्री त्रिपाठी ने असदुद्दीन ओवैसी को भी खुला चैलेंज किया है। कहा, तुम कमलेश तिवारी की हत्या पर नाच कर खुशी जाहिर कर रहे हो, ओवैसी तुम कायर हो। आज तक तुम्हारी हिम्मत नहीं हुई कि कमलेश तिवारी के सामने बैठकर दो शब्द बोल सको। मैं तुम्हें चुनौती देता हूँ कि एक बार आमने-सामने बैठ और हिन्दू धर्म तथा कमलेश तिवारी का अपमान करके देख तेरी जबान खींचकर तेरे हाथ में दे दूंगा।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

अधिवक्ता हत्याकांड: वकीलों ने शव को कलेक्ट्रेट में रखकर किया प्रदर्शन

Published

on

लखनऊ: राजधानी के कृष्णानगर थाना क्षेत्र में मंगलवार देर रात बदमाशों ने अधिवक्ता शिशिर त्रिपाठी की ईंट व पत्थर से कूच-कूच कर हत्या कर दी। जिसकी जानकारी पाते ही पूरे परिवार में कोहराम मच गया। साथ ही इलाके में सनसनी मच गई है। मृतक के भाई शरद त्रिपाठी ने पांच लोगों के खिलाफ नामजद एफआईआर दर्ज कराई है। वहीं यह मामला आपसी रंजिश का बताया जा रहा है। पुलिस ने शिशिर की हत्या के बाद अधिवक्ता विनायक ठाकुर को हिरासत में ले लिया है और अन्य लोगों की तलाश में जुटी हुई है।

ये भी पढ़ें: राजस्थान: पिकअप पलटने से 1 मजदूर की मौत, एक दर्जन से अधिक घायल

वहीं दूसरी तरफ अधिवक्ता की हत्‍या मामले में शहर के अधिवक्ताओं में पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर रोष दिखाई दे रहा है। अधिवक्ताओं ने कलेक्ट्रेट परिसर जाने के रास्ते को बंद कर सड़कों पर उतरकर पुलिस विरोधी जमकर नारे लगाए। साथ ही मामले की कार्रवाई कर 50 लाख मुआवजे की मांग व पीड़ित परिवार के लिए इंसाफ और सुरक्षा की मांग की।

बताया जा रहा है कि हत्या के बाद मृतक शिशिर के शव का पोस्टमार्टम किया गया। जिसके बाद साथी अधिवक्ता शिशिर के शव के साथ कोर्ट रूम पहुंच गए हैं।जहां मृत के शव को रखकर वकील कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन कर रहे हैं और साथ ही डीएम के आने की मांग कर रहे हैं।

मामले की जानकारी लगते ही प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव भी कलेक्ट्रेट पहुंचे। वहीं अधिवक्ता हत्या मामले में लापरवाही बरतने के आरोप में इंस्पेक्टर कृष्णा नगर प्रदीप कुमार सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। वहीं अगले आदेश मिलने तक अपराध शाखा के इंस्पेक्टर राम कुमार की कृष्णानगर थाने में तैनाती की गई है। बता दें कि पुलिस ने अधिवक्ता हत्याकांड में तीन आरोपियों की गिरफ्तारी कर ली है और 4 फरार आरोपियों की सरगर्मी से तलाश भी पुलिस जारी रखे है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

UP TET: समय से पहले पहुंच जाने के बाद भी नहीं मिली एंट्री, छात्रों ने किया प्रदर्शन

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा बुधवार सुबह शुरू हो गई है। हालांकि कई जिलों में बारिश और जगह-जगह लगे भीषण जाम के कारण हजारों अभ्यर्थियों की परीक्षा छूट गई है।प्रदेश भर के सभी जिलों में परीक्षा दो पालियों में हो रहा है। प्राथमिक स्तर की परीक्षा सुबह 10 से 12.30 बजे तक 1986 केंद्रों और उच्च प्राथमिक स्तर की परीक्षा दोपहर बाद 2.30 से 5.00 बजे तक 1063 केंद्रों पर होगी।

पहली पाली की परीक्षा सुबह 10 से शुरू हुई। लखनऊ में कई परीक्षार्थी पहली पाली की परीक्षा में शामिल नहीं हो सके। अभ्यर्थियों को परीक्षा के लिए एक से डेढ़ घंटे पहले पहुंचना था। लेकिन कई परीक्षार्थी समय से नहीं पहुंच सके। इसके चलते दर्जनों अभ्यर्थी पहली पाली की परीक्षा देने से वंचित रह गए। छात्रों ने कहा कि रास्ते में लगे जाम के चलते वे समय से नहीं पहुंच सके।

यह भी पढ़ें: यूपीटीईटी परीक्षा आज,जल्द आएगा आंसर-की और परिणाम

राजधानी लखनऊ के विनयखण्ड गोमती नगर में टीईटी छात्रों को ऐनी बेसेंट स्कूल में परीक्षा नहीं देने दिया गया। छात्रों का कहना है कि समय से पहले कॉलेज पहुच जाने के बाद भी अंदर एंट्री नही दी गई।वहीं छात्रा रेनू का कहना है कि समय से पहले ही कालेज ने गेट बंद कर दिया। काफी कहने के बाद भी हमें एंट्री नहीं दी गई। एंट्री ना मिलने से छात्र मे रोष है। छात्र स्कूल के बाहर प्रदर्शन कर रहे है। छात्रों स्कूल में एंट्री ना मिलने की सूचना दी। जिसके बाद सूचना पाकर मौके पर पहुची पुलिस ने छात्रों को शांत कराया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ में बूंदाबांदी के बाद एक बार फिर बढ़ी ठंड

Published

on

लखनऊ पिछले कई दिनों से मौसम साफ रहने के बाद हवा का रुख अचानक बदल गया है। मंगलवार देर रात से ही पूरे यूपी में झमाझम बारिश का सिलसिला जारी है। सुबह से ही अंधेरा छाया हुआ है और ठंड एक बार फिर बढ़ गई है। राजधानी लखनऊ समेत प्रदेश के कई जिलों में जोरदार बारिश हो रही है। वहीं कई जगहों से ओले गिरने की भी खबरें आ रही हैं। मौसम विभाग के मुताबिक पश्चिमी विक्षोभ के कारण बारिश और ठंडी हवाएं अगले लगभग दस दिनों तक ठंड बढ़ाएंगी। ठंड बढ़ने से स्कूली बच्चों की मुश्किलें एक बार फिर बढ़ गई हैं।

यह भी पढ़ें: राष्ट्रीय युवा उत्सव पर खर्च होंगे 25 करोड़, देश भर से कलाकार करेंगे प्रतिभाग

बीते दो-तीन दो दिनों से प्रदेश के विभिन्न जिलों में तापमान में वृद्धि दर्ज हुई। इससे लोगों को ठंड और गलन से कुछ राहत मिली। मगर मंगलवार देर रात से मौसम में अचानक बदलाव आया। गरज-चमक के साथ बूंदाबादी शुरू हो गई जो सुबह होते-होते बढ़ गई। मौसम विभाग के अनुसार मानें तो बारिश और ठंडी हवाओं के चलते पूरे उत्तर प्रदेश मे ठंड एक बार फिर बढ़ जाएगी। तापमान में गिरावट और कोहरे का प्रकोप बढ़ेगा। 13 और 14 जनवरी को फिर मौसम का मिजाज बदलेगा और यह सिलसिला लगभग दस दिनों तक चलेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 8, 2020, 4:21 pm
Cloudy
Cloudy
15°C
real feel: 13°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 89%
wind speed: 4 m/s ESE
wind gusts: 5 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:27 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending