Connect with us

लखनऊ लाइव

मकान का नक्शा पास कराने के लिए एलडीए का बाबू मांग रहा था घूस, ईओडब्ल्यू की टीम ने रंगे हाथ दबोचा

Published

on

लखनऊ। लखनऊ विकास प्राधिकरण (एलडीए) में घूसखोरी किस कदर हावी है यह किसी से छिपा नहीं है। यहां हर काम की एक कीमत तय है। छोटे-छोटे से काम के लिए भी साहब की जेब गरम करनी पड.ती है। बुधवार को एक बार फिर यहां के घूसतंत्र की पोल खुल गयी। ईओडब्ल्यू लखनऊ की टीम ने एलडीए के सहायक जनसूचना अधिकारी (नियोजन) देशराज को पांच हजार रुपए की घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया। सूत्रों के अनुसार एलडीए में मकान का नक्शा पास कराने के लिए भी यहां बाबू की जेब गरम करनी पड.ती है। देशराज भी एक मकान का नक्शा पास कराने संबंधी फाइल को आगे बढ़ाने के लिए 5000 की घूस मांग रहा था। ईओडब्ल्यू की टीम ने उसे बुधवार शाम घूस लेते धर दबोचा।

लखनऊ लाइव

पर्वतीय संस्कृति की अपनी एक अलग ही पहचान है: राज्यपाल

Published

on

राज्यपाल ने उत्तरायणी कौथिग मेले का उद्घाटन किया

लखनऊ। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने महानगर में रामलीला मैदान में मंगलवार को पर्वतीय महापरिषद द्वारा आयोजित उत्तरायणी कौथिग (मेला)-2020 का उद्घाटन किया। इस मौके पर राज्यपाल ने कहा, भारतीय संस्कृति की समृद्वि में लोक संस्कृतियों का विशिष्ट योगदान है, जिसमें पर्वतीय संस्कृति की अपनी एक अलग ही पहचान है। पर्वतीय धरती हमारे ऋषि-मुनियों की तपोस्थली रही है। पर्वतीय क्षेत्र का देश के स्वाधीनता आन्दोलन में भी गौरवशाली इतिहास रहा है। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजन से हमारी उत्सवधर्मी संस्कृति को बढ़ावा मिलता है।

राज्यपाल ने कहा कि प्रत्येक राज्य की बेमिसाल सांस्कृतिक विरासत की अलग पहचान है। भारत भूमि हर राज्यों को आपस में जोड़ती है और हमारी विलक्षण संस्कृति हम सबको एक सूत्र में बांधती है। अनेकता में एकता ही हमारे देश की विशेषता है। उन्होंने मेले की प्रशंसा करते हुए कि इसके माध्यम से उत्तराखण्ड की सांस्कृतिक परम्परा के साथ-साथ राष्ट्रीय एकता एवं साम्प्रदायिक सौहार्द के मूल्यों को स्थापित करने का प्रयास किया गया है। राज्यपाल ने मेले में उपस्थित लोगों से आग्रह किया कि बच्चों में नैतिकता का बोध कराना हमारे हाथ में है। बच्चे चरित्रवान नागरिक बनने का प्रयास करें।

यह भी पढ़ें-उप्र विधानसभा अध्यक्ष व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने दी मकर संक्रांति की बधाई

बच्चों को अन्य संस्कारों के साथ-साथ अन्न की बर्बादी न करने, पानी का दुरूपयोग रोकने और पर्यावरण का संरक्षण करना सीखना होगा। कम से कम एक पौधा जरूर लगायें और उसके बड़ा होने तक उसकी देखभाल अवश्य करें। उन्होंने कहा कि बच्चों को नैतिक विकास और अच्छे संस्कार उत्पन्न करने वाली ज्ञानवर्द्धक पुस्तकों को पढ़ना चाहिए। राज्यपाल ने कौस्तुभ आनन्द चंदोला का उपन्यास ‘चन्द्रवंशी’ और ज्ञान पंत का काव्य संग्रह ‘बाटुई’ का लोकार्पण भी किया। समारोह में पर्वतीय महापरिषद के अध्यक्ष भवान सिंह रावत, महासचिव गणेश चन्द्र जोशी, मुख्य संयोजक दिलीप सिंह बाफिला, संयोजक टीएस मनराल सहित बड़ी संख्या में अन्य लोग उपस्थित रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

स्वामी विवेकानंद का पूरा जीवन सकारात्मक ऊर्जा से ओत-प्रोत: स्वामी निखिलेश्वरानंद

Published

on

राष्ट्रीय युवा महोत्सव में ‘सुविचार एवं युवा समागम‘ कार्यक्रम आयोजित

लखनऊ। राजधानी में चल रहे 23वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव के तीसरे दिन मंगलवार को सविचार एवं युवा समागम कार्यक्रम में रामकृष्ण मिशन आश्रम के स्वामी निखिलेश्वरानंद और युवा आईकॉन हरि भाई ने अपने विचार रखे। कार्यक्रम का शुभारंभ राष्ट्रीय सेवा योजना लक्ष्य गीत से हुआ। इसके बाद अतिथियों ने स्वामी विवेकानंद को पुष्पांजलि अर्पित की और शांति दीप प्रज्ज्वलित किया। प्रतिष्ठान के स्वामी विवेकानंद मंडप में राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए स्वामी निखिलेश्वरानंद ने कहा, स्वामी विवेकानंद का पूरा जीवन सकारात्मक ऊर्जा से ओत-प्रोत था। उन्होंने पूरी दुनिया को प्रेम और भाईचारे का संदेश दिया।

कहा कि वर्ष 1985 से स्वामी विवेकानंद की जयंती (12 जनवरी) को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाया जाता है। इसका उद्देश्य युवाओं में राष्ट्रीय चेतना जागृत करना और युवाओं को राष्ट्र के विकास के कार्यों से जुड़ने के लिए प्रेरित एवं प्रोत्साहित करना है। उन्होंने राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों आह्वान करते हुए कहा, स्वामी विवेकानंद के विचारों को जीवन का सूत्र वाक्य बनाएं।
स्वामी निखिलेश्वरानंद ने कहा, स्वामी विवेकानंद के राष्ट्र निर्माण की परिकल्पना को साकार करते हुए युवाओं को मनसा, वाचा, कर्मणा एक होने का संदेश दिया।

यह भी पढ़ें-रंगारंग कार्यक्रमों से सराबोर रहा राष्ट्रीय युवा महोत्सव का तीसरा दिन

स्वामी विवेकानंद ने शिव ज्ञान से जीव सेवा के संकल्प को चरितार्थ करने के लिए जिन संदेशों का युवाओं तक प्रसार किया, वह तभी संभव है, जब हमारे युवा आत्म संयम और आत्मनिर्भरता के मूल मंत्र को समझ पाएंगे और उसे अपनाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने चरित्र निर्माण राष्ट्र निर्माण और विश्व निर्माण को साकार करने के लिए शिक्षण संस्थानों के प्रमुखों के साथ-साथ माता-पिता और शिक्षकों की अहम भूमिका को रेखांकित किया। कहा कि भारत के युवा अपने आत्मज्ञान से दुनिया को एक नई दिशा प्रदान करेंगे ऐसी परिकल्पना है।

सुविचार एवं युवा समागम कार्यक्रम के दूसरे प्रमुख वक्ता हरि भाई ने युवाओं का आह्वान किया कि राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आंदोलन को सफल बनाने के लिए समाज और राष्ट्र के हर क्षेत्र में विकास के सभी मानदंडों को अपनाने और उस पर प्रमुखता के साथ कार्य करने का संकल्प लें। भारत दुनिया भर में अग्रणी राष्ट्र है, जिसकी सांस्कृतिक विविधता ही उसकी असली पहचान है। श्री हरि ने कहा कि जिस देश के युवा यह समझ जाएंगे कि उनका जीवन देश को समर्पित है तो उस देश को श्रेष्ठ बनने से कोई रोक नहीं सकता।

यह भी पढ़ें-चंद्रशेखर की गिरफ्तारी पर दिल्ली पुलिस को कोर्ट ने लगाई फटकार

उन्होंने युवाओं को संदेश दिया कि उनके जीवन का मूल उद्देश्य अपने राष्ट्र की सेवा करना और राष्ट्र की जन-जन को जो तमाम सुविधाएं सरकार की ओर मुहैया कराई गई हैं, उन तक पहुंचाने के लिए कार्य करना है। हरि भाई ने कहा, जाली नोटों का व्यापार करने वालों, तस्करी करने वालों और जालसाजी करने वालों को देश से समूल नष्ट करने के लिए युवाओं को संगठित होकर कार्य करने का आह्वान किया। सुविचार एवं युवा समागम कार्यक्रम के आयोजन की महत्ता पर बोलते हुए राष्ट्रीय सेवा योजना क्षेत्रीय केंद्र लखनऊ के निदेशक डॉ अशोक कुमार श्रोती ने कहा, ऐसे कार्यक्रमों के आयोजन का मूल उद्देश्य राष्ट्रीय सेवा योजना के सेवकों को एक बेहतर प्लेटफार्म प्रदान करना है।

कार्यक्रम में काशी हिंदू विश्वविद्यालय के कार्यक्रम समन्वयक, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के कार्यक्रम अधिकारी और क्षेत्रीय केंद्रों के निदेशक उपस्थित रहे। इस अवसर पर राष्ट्रीय सेवा योजना के स्वयंसेवकों ने वक्ताओं से कई मूलभूत प्रश्न किए जिनका उत्तर वक्ताओं ने दिया, और युवाओं का मार्गदर्शन किया। इसके बाद विवेकानंद के जीवन पर पर राष्ट्रीय युवा पुरस्कार विजेताओं और यूथ आईकॉन की ओर से संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें अनेक राष्ट्रीय युवा पुरस्कार विजेताओं और युवाओं ने हिस्सा लिया।

Continue Reading

लखनऊ लाइव

इस बार मतदाता दिवस के एक दिन पहले ही दिलाई जाएगी शपथ

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने प्रदेश के समस्त अपर मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव, सचिव उत्तर प्रदेश शासन तथा समस्त मण्डलायुक्तों को निर्देश राष्ट्रीय मतदाता दिवस से एक दिन पहले ही अपने अधीनस्थ कर्मचारियों को शपथ दिलाने के निर्देश दिये हैं। मुख्य सचिव ने कहा है कि 25 जनवरी को अवकाश हैं इसलिए अधिकारी शपथ दिलाने का कार्यक्रम एक दिन पहले ही आयोजित कर लें।

मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने बताया कि प्रत्येक वर्ष 25 जनवरी को पूरे देश में राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन पूरे उत्साह के साथ वर्ष 2011 से किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष भी भारत निर्वाचन आयोग के निर्देश पर 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस का आयोजन विभिन्न स्तरों पर किया जायेगा।

येे भी पढ़ें: आगरा: I LOVE AGRA लिखकर विदेशी युवती ने की आत्महत्या

मुख्य सचिव ने बताया कि मतदाताओं द्वारा ली जाने वाली शपथ का प्रारूप ‘हम भारत के नागरिक, लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए यह शपथ लेते हैं कि हम अपने देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाएं रखेंगे तथा स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गारिमा को अक्षुण्ण रखते हुए, निर्भीक होकर, धर्म, वर्ग, जाति, समुदाय, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना सभी निर्वाचनों में अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे’ है। उन्होंने बताया कि शपथ का प्रारूप मुख्य निर्वाचन अधिकारी की वेबसाइट पर उपलब्ध है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 15, 2020, 7:16 am
Mostly sunny
Mostly sunny
13°C
real feel: 15°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 85%
wind speed: 0 m/s NNW
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 6:27 am
sunset: 5:05 pm
 

Recent Posts

Trending