Connect with us

अपना शहर

यूपी सरकार के आदेश की धज्जियां उड़ाते नजर आ रहे है शहर के अस्पताल, 12 दिनों से इलाज के लिए दर-दर भटक रही है मासूम…

Published

on

मासूम के जीवन के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं शहर के अस्पताल

लखनऊ। राजधानी में लगातार सरकारी अस्पतालों की मनमानी सामने आ रही है जिसके कारण ही आये दिन मरीजों की मौत के मामले सामने आते रहते हैं। ऐसी ही एक घटना एक बार फिर देखने को मिली है जिसमें बताया जा रहा है कि कानपुर से एक पिता अपनी बच्ची को लेकर लगभग 12 दिन पहले सिविल अस्पताल पहुंचे थे जहां बच्ची को भर्ती तो कर लिया गया लेकिन उसका इलाज नहीं किया गया।

साथ ही बताया कि जब पांच दिनों के बाद एक डाक्टर पहुंचे जिन्होंने उसको देखते साथ ही ट्रामा रेफर करने की बात कही, लेकिन ट्रामा पहुंचते ही वहां के डॉक्टरों ने पीड़ित से कहा कि ट्रामा में बर्न यूनिट नहीं है जिसके बाद ही उसको बलरामपुर अस्पताल ले जाने की सलाह दे दी। मगर जब बच्ची को लेकर उसके पिता बलरामपुर पहुंचे तो वहां भी उसको लेने से मना कर वापस सिविल भेज दिया गया।

यह भी पढ़ें- कला अभिरुचि पाठ्यक्रम: ‘सुसज्जा कलाएं’ और ‘सुसज्जित कलाएं’ है भारत की विशाल कला श्रृंखला की मजबूत कड़ी…

अब सोचने वाली बात यह है कि यूपी सरकार द्वारा बजट पास किया गया था जिसमें अस्पतालों को ध्यान में रखते हुए सबसे ज्यादा बजट अस्पताल के नाम पर ही आया था लेकिन फिर भी सरकारी अस्पतालों में सुविधा ना होने की बात कहकर मरीज को चलता कर दिया जाता है । कानपुर से लखनऊ इलाज के लिए पहुंची मासूम बच्ची को लेकर उसके पिता लगभग 12 दिनों से सरकारी अस्पतालों के चक्कर काट रहें है और डॉक्टर उसका इलाज करने के बजाये उससे मुंह मोड़ते नजर आ रहे है। जिसके कारण ही बच्ची की हालत गंभीर होती जा रही है।

वहीं मासूम बच्ची के पिता नरेन्द्र सिंह कुशवाहा का कहना है कि 2 फरवरी को कानपुर से लाकर लखनऊ के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया था लेकिन उसको इलाज नहीं मिल रहा है बस उसको सरकारी अस्पतालों के चक्कर लगवाये जा रहे हैं जिससे उसकी बच्ची की हालत गम्भीर होती जा रही है।http://www.satyodaya.com

अपना शहर

लोक मंगल दिवस पर महापौर ने सुनीं जनता की समस्याएं, अधिकारियों को निस्तारण के दिए निर्देश

Published

on

लखनऊ। अगस्त माह के तीसरे मंगलवार पर महापौर संयुक्ता भाटिया ने लोक मंगल दिवस कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस दौरान महापौर ने लोगों की समस्याएं सुनीं और संबंधित अधिकारियों को समस्याओं के निस्तारण के निर्देश भी दिए। लोक मंगल दिवस कार्यक्रम का आयोजन जोन 5 व जोन 6 में किया गया। जोन 5 में चन्दर नगर स्थित जोनल कार्यालय में सुबह 10 बजे से अपराह्न 2 बजे तक महापौर ने स्थानीय जनता की समस्याएं सुनीं।
इस दौरान जयप्रकाश नगर निवासी कैसर बिहारी ने शिकायत की कि उनके मोहल्ले में लोगों ने अवैध तरीके से सड.कों पर कब्जा कर रखा है। जिस पर महापौर ने अधिकारियों को अतिक्रमण हटवाने का निर्देश दिया। इसी तरह हरिओम नगर निवासी ओपी द्विवेदी ने बताया कि उनके नगर में गली नंबर 4 में पड़ोसी ने नई बनी नाली को मिट्टी डालकर बंद कर दिया है। जिससे जलनिकासी नहीं हो पा रही है, नाली का पानी सड.क पर बह रहा है। महापौर संयुक्ता भाटिया ने जोनल अधिकारी को तुरंत मौके पर जाकर नाली की सफाई करवाने का निर्देश दिया। जोन 5 में कुल 35 शिकायतें दर्ज कराई गईं।

लोक मंगल दिवस में जन सुनवाई के दौरान महापौर के साथ नगर आयुक्त, जलकल महाप्रबंधक एसके वर्मा, मुख्य अभियन्ता एससी सिंह, कार्यकारिणी सदस्य सुधीर मिश्रा, गिरीश मिश्रा, पार्षद रेखा भटनागर, जोनल अधिकारी सुभाष त्रिपाठी समेत अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।
जोन 6 में लोक मंगल दिवस हुसड़िया चौराहे पर स्थित नगर निगम के जोनल कार्यालय में आयोजित किया गया। इस मौके पर कैम्पबेल रोड के स्थानीय निवासियों ने महापौर को बताया कि क्षेत्र में अवैध डेयरियों का आतंक है, जिस पर महापौर ने पशु चिकित्सा अधिकारी को डेयरियों पर कार्रवाही करने का निर्देश दिया। बालागंज निवासी अमित जोशी ने बताया कि बालागंज के आस-पास स्थित दुकानों पर गंदगी का अंबार है, जिस पर महापौर ने जोनल अधिकारी को बालागंज में सफाई करवाने का निर्देश दिया। जोन 6 में कुल 65 शिकायतें दर्ज कराई गईं। जोन 6 में जन शिकायतों की सुनवाई के दौरान महापौर के साथ नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी, पार्षद मोनू कनौजिया, संतोष राय, जोनल अधिकारी सुजीत श्रीवास्तव व अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे।http://wwwsatyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

पीएम मोदी की प्रशंसा के बाद अब इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हुआ श्री शिशु बाल रामलीला समिति का नाम

Published

on

लखनऊ। चौक के फूल वाली गली के नेपाली पार्क में होने वाली श्री शिशु बाल रामलीला की ख्याति यूं तो दूर-दूर तक है। इस रामलीला ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का दिल जीतने के अलावा एक और कीर्तिमान स्थापित कर दिया है। अक्टूबर 2018 में भव्य आयोजन के लिए रामलीला समिति का नाम इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज हो गया है। अपने स्वर्ण जयंती वर्ष के अवसर पर श्री शिशु बाल रामलीला में इस बार रावण के 50 पुतले दहन किए गए थे, जो एक रिकार्ड है।

इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड के डाॅ. विश्वरूप राय चौधरी ने समिति को एक प्रमाण जारी करते हुए कहा कि दशहरा पर श्री शिशु बाल रामलीला ने 50 रावण दहन कर एक रिकार्ड बनाया है। इतनी बड़ी संख्या में और विशालकाय रावण के पुतलों का दहन अब तक पूरे भारत की किसी भी रामलीला में नहीं हुआ है।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी चौक की श्री शिशु राम लीला समिति को इस भव्य आयोजन के लिए अपना बधाई संदेश भेजा था और शुभकामनाएं दी थीं।
बता दें कि अक्तूबर 2018 में चौक की इस रामलीला ने अपनी स्वर्ण जयंती मनाई थी। इस मौके पर आयोजन को और भव्य और मनोरम बनाते हुए रामलीला में पहली बार एक साथ 50 रावणों का दहन किया गया था। जिसमे दो पुतले 35 फुट के और बाकी 18 फुट के थे।

नेपाली कोठी पार्क में होने वाली इस रामलीला को यादगार बनाने के लिए कृष्ण लीला भी पेश की गयी थी। रामलीला का शुभारम्भ 10 अक्टूबर 2018 से हुआ था। इस मौके पर स्वर्ण जयंती स्मारिका का विमोचन भी हुआ था। कार्यक्रम में उप मुख्यमंत्री डाॅ. दिनेश शर्मा, महापौर संयुक्ता भाटिया सहित यूपी सरकार के कई मंत्री व शहर के गणमान्य अतिथि उपस्थित थे।

शिशु बाल रामलीला समिति के अध्यक्ष पंकज अग्रवाल ने बताया कि रामलीला का 50वां आयोजन 10 अक्टूबर से बाग टोला फूलवाली गली, नेपाली पार्क चौक में भव्य स्तर पर हुआ था।
श्री शिशु बाल रामलीला समिति के महामंत्री व मीडिया प्रभारी राहुल गुप्ता ने बताया कि जयंती वर्ष में आयोजित रामलीला में मथुरा की स्वमी लेखराज ओम प्रकाश मंडली ने लीला पेश की थी। उन्होंने बताया कि 21 अक्तूबर 2018 को खुनखुनजी डिग्री कॉलेज परिसर में रावण वध, 22 को भरत मिलाप और 23 अक्तूबर को राजगद्दी का प्रसंग पेश किया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

ओला चालक के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए परिजनों ने किया प्रदर्शन

Published

on

लखनऊ। एक माह पूर्व ओला चालक मुकेश पाल की हत्या हुई थी, जिसमें अभी तक पीड़ित परिवार को न्याय नहीं मिल सका है। जिसको लेकर मृतक के परिजनों ने मंगलवार को हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर मृतक के हत्यारों की गिरफ्तारी को लेकर विरोध प्रदर्शन किया। जिसमें बड़ी संख्या में मृतक के मित्र और परिवारजन शामिल हुए। इस अवसर पर मृतक के भाई अनुज कुमार पाल ने बताया कि एक महीने से अधिक उनके भाई की हत्या को हो गया है। वह इंस्पेक्टर से लेकर पुलिस के आला-अधिकारियों तक इंसाफ की गुहार लगा-लगा कर थक चुके हैं। मगर ना ही तो उन्हें इंसाफ मिल रहा है और ना ही किसी प्रकार की कोई सहायता मिल रही है।

ये भी पढ़ें: यूपी: बहू ने धारदार हथियार से सास की गला रेतकर की हत्या

अनुज ने बताया कि एक माह बीत जाने के बाद भी गोसाईगंज पुलिस के द्वारा कोई कार्रवाई नहीं की गई है। जिसके कारण वह विरोध प्रदर्शन करने पर मजबूर हो गए और गांधी प्रतिमा पर इंसाफ की मांग को  लेकर एकत्रित हुए हैं। अनुज कुमार ने अपनी मांगों को लेकर कहा कि जल्द से जल्द मुकेश पाल के हत्यारों की गिरफ्तारी हो और उसके साथ ही उन्होंने इस केस में सीबीआई जांच की मांग भी की है। उन्होंने कहा कि मृतक मुकेश की पत्नी विधवा और बच्चे यतीम हो गए हैं, अब उनके जीवन का आगे पालन पोषण कैसे होगा? इसके लिए उन्हें सरकार के द्वारा आर्थिक सहायता दी जाए। बच्चों की शिक्षा को मुफ्त करवाया जाए। इन तमाम मांगों को लेकर मृतक के परिवार वालों के द्वारा एसीएम प्रथम को ज्ञापन सौंपा गया। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 21, 2019, 8:01 am
Partly sunny with thundershowers
Partly sunny with thundershowers
25°C
real feel: 30°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 100%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 5:11 am
sunset: 6:08 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending