Connect with us

लखनऊ लाइव

LIVE : मायावती बोलीं- 38-38 सीटों पर लड़ेंगे दोनों, अमेठी और रायबरेली कांग्रेस के लिए छोड़ा

Published

on

Featured Video Play Icon
clickretina digital marketing company
clickretina digital marketing company

 लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की मौजूदगी में शनिवार को ताज होटल में सपा-बसपा गठबंधन का ऐलान किया गया। इस मौके पर बसपा मुखिया मायावती ने कहा कि सपा-बसपा के गठबंधन से नरेन्द्र मोदी तथा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की नींद उड़ गयी है। उन्होंने कहा कि भाजपा घोर साम्प्रदायिक पार्टी है।

जनहित और देशहित को ध्यान में रखकर यह गठबंधन किया गया है। मायावती ने कहा कि जनहित में गेस्ट हाउस कांड को भुला दिया गया है। यह दो पार्टियों का गठबंधन नहीं, दो समाज का गठबंधन है। भाजपा को इस बार सत्ता में आने से रोका जाएगा।

भाजपा की जातिवादी संकीर्ण व पूंजीवादी रवैये के कारण पूरे देश में गरीब मजदूर किसान व व्यापारी, दलित, आदिवासी व मुस्लिम अपनी समस्याओं को लेकर दुखी हैं।

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

देश

हिंदी साहित्य जगत का एक और सितारा टूट गया, नहीं रहे मशहूर साहित्यकार नामवर सिंह

Published

on

clickretina digital marketing company
clickretina digital marketing company

फाइल फोटो

लखनऊ । हिंदी के मशहूर साहित्यकार और आलोचक नामवर सिंह का निधन हो गया है । उन्होंने दिल्ली एम्स में मंगलवार रात को आखिरी सांस ली । नामवर सिंह 93 साल के थे । वे पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे । जनवरी के महीने में वे अचानक अपने कमरे में गिर पड़े थे । जिसके बाद उन्हें दिल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था । नामवर सिंह के निधन से हिंदी जगत शोक की लहर में है । उनके निधन पर वरिष्ठ पत्रकार ओम थानवी ने दुख जताया । उन्होंने ट्विटर पर लिखा ”नायाब आलोचक, साहित्य में दूसरी परंपरा के अन्वेषी डॉ. नामवर सिंह का निधन हो गया है । 26 जुलाई को वो 93 साल के हो जाते । नामवर ने अच्छा जीवन जिया, बड़ा जीवन जिया । नतशीश नमन ।”

दिग्गज साहित्कार नामवर सिंह का जन्म वाराणसी के जीयनपुर गांव में हुआ था (अभी चंदौली जिले में है) । उन्होंने हिन्दी साहित्य में एमए और पीएचडी किया था । इसके बाद उन्होंने बीएचयू में बतौर शिक्षक के तौर पर काम किया । 1959 में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के उम्मीदवार के तौर पर लोकसभा चुनाव लड़े, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा । नामवर सिंह ने लंबे वक्त तक जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में भी बतौर शिक्षक काम किया । नामवर सिंह की हिन्दी के अलावा उर्दू और संस्कृत भाषा पर अच्छी पकड़ थी ।

 

उन्हें साहित्य अकादमी सम्मान से भी नवाजा गया था । बकलम खुद, हिंदी के विकास में अपभ्रंश का योग, आधुनिक साहित्य की प्रवृत्तियां, छायावाद, पृथ्वीराज रासो की भाषा, इतिहास और आलोचना, कहानी नई कहानी, कविता के नये प्रतिमान, दूसरी परंपरा की खोज, उनकी प्रमुख रचनाएं हैं ।

Continue Reading

प्रदेश

सामाजिक कार्यकर्ता शाह आलम से मुलाक़ात पर बोले अखिलेश ‘सरकार में आते ही चंबल घाटी की बदलूंगा तस्वीर’

Published

on

clickretina digital marketing company
clickretina digital marketing company

चंबल यूनिवर्सिटी पर भी होगा काम

चम्बल की समस्याओं और चुनौतियों को लेकर भारतीय क्रांतिकारी आंदोलन पर दो दशक से शिद्दत से काम कर रहे ‘अवाम का सिनेमा’ के संस्थापक शाह आलम ने पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात की।

बैठक के दौरान चंबल के क्रांतिकारी इतिहास, सिनेमा, पर्यटन सहित खूबसूरत चंबल घाटी पर संजीदगी से चर्चा हुई। इस दौरान शाह आलम ने देश के सबसे बड़े गुप्त क्रांतिकारी दल ‘मातृवेदी’ पर लिखी गयी अपनी पुस्तक भी उन्हें भेंट की।

मातृवेदी की स्थापना चंबल के बीहड़ो में ही हुई थी। शाह आलम ने बीहड़ में करीब 2800 किलोमीटर साइकिल यात्रा के जरिए यहां के क्रांतिकारी इतिहास का दस्तावेज तैयार किया है। पूर्व सीएम अखिलेश ने इस साइकिल यात्रा और दस्तावेज की न सिर्फ सराहना की बल्कि क्रांतिकारियों के इतिहास को जनता के सामने लाने के लिए कई सहयोग का भी आश्वासन दिया।

अखिलेश ने कहा कि चम्बल से उनका विशेष लगाव है वे उसकी बेहतरी के लिए हर सम्भव कोशिश करेंगे।

शाह आलम के प्रस्ताव पर उन्होंने चंबल संग्रहालय, चंबल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल, सुनील जाना स्कूल आफ फोटोग्राफी, चंबल जनसंसद पर चर्चा के साथ चंबल रेजीमेंट पर भी सहयोग की सहमति जताई।

वहीं, शाह आलम ने पूर्व सीएम अखिलेश यादव को चंबल अभियान के दूसरे चरण में पचनद घाटी में के. आसिफ स्कूल आफ फिल्म स्टडीज, कर्मवीर सुंदरलाल स्कूल आफ डिजीटल मीडिया के साथ चंबल प्रकाशन शुरु करने की योजना से अवगत कराया। इतना ही नहीं, नई पहल के तहत चंबल आरती की भी तैयारियां चल रही है। शाह आलम अपनी ड्रीम परियोजना चंबल यूनिवर्सिटी और चंबल रेजीमेंट के लिए साइकिल यात्रा करने वाले हैं। पूर्व सीएम ने इसमें भी सहयोग देने की बात कही है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ताओं ने आतंकी अजहर मसूद का पुतला चौराहे पर लटका कर जताया विरोध

Published

on

Featured Video Play Icon
clickretina digital marketing company
clickretina digital marketing company

लखनऊ । पुलवामा हमले के बाद लगातार राजधानी लखनऊ ही नहीं पूरे देश भर में विरोध प्रदर्शन और आक्रोश देखने को मिल रहा है । वहीं नवाबों के शहर लखनऊ में एक अनोखा प्रदर्शन देखने को मिला है जहां मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ताओं ने पाकिस्तान में बैठे आतंकी अजहर मसूद का पुतला बीच चौराहे पर फांसी देकर लटका दिया और पाकिस्तान, आतंकवाद मुर्दाबाद के नारे भी लगाए ।

आपको बता दें कि लगातार विरोध प्रदर्शन का दौर जारी है और राजधानी लखनऊ में बात करें तो दिनभर में सौ से ज्यादा विरोध प्रदर्शन कैंडल मार्च देखने को मिल रहे हैं । वहीं पुराने लखनऊ के घंटाघर चैराहे पर मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ताओं ने आतंकी अजहर मसूद का पुतला चौराहे पर लटका दिया जिसके बाद कार्यकर्ताओं ने पाकिस्तान और आतंकवाद मुर्दाबाद के नारे लगाए और प्रदर्शन किया । इतना ही नहीं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मांग करते हुए कहा कि पाकिस्तान और आतंकवाद के खिलाफ सख्त कार्रवाई करके उन्हें सबक सिखाएं ।

http://www.satyodaya.com

 

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 20, 2019, 11:17 am
Mostly cloudy
Mostly cloudy
22°C
real feel: 23°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 68%
wind speed: 1 m/s E
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 2
sunrise: 6:09 am
sunset: 5:31 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 7 other subscribers

Trending