Connect with us

लखनऊ लाइव

लखनऊ : शहीद पथ पर लूटपाट के इरादे से घूम रहे दो ईनामी बदमाश गिरफ्तार

Published

on

लखनऊ। शहीद पथ पर बस लूटने की फिराक में घूम रहे दो ईनामी बदमाशों को मुठभेड़ के बाद पुलिस ने दबोच लिया है। गिरफ्तार बदमाशों प्रदेश के विभिन्न जनपदों में वांछित हैं। इन पर 10-10 हजार रुपए का ईनाम भी घोषित है। बदमाशों के बारे में सरोजनीनगर पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली थी। जिसके बाद एसीपी कृष्णानगर दीपक कुमार सिंह में सरोजनीनगर पुलिस ने इन्हें पकड.ने के लिए जाल बिछाया। घेराबंदी होते देख शातिर बदमाश योगेंद्र कुमार उर्फ जंगी व महेश अहरिया ने इंस्पेक्टर सरोजनीनगर आनन्द कुमार शाही पर फाॅयर झोंक दिया। गनीमत रही कि इस हमले में इंस्पेक्टर बाल-बाल बच गए। इसके बाद पुलिस ने दोनों को घेर कर दबोच लिया।

यह भी पढ़ें-लखनऊः मामूली विवाद में पड़ोसी पर फाॅयरिंग करने के आरोपी पिता-पुत्र गिरफ्तार

पुलिस ने बदमाशों के पास से तमंचे व कारतूस समेत अन्य सामान बरामद किया है। पुलिस के अनुसार दोनों बदमाश लखनऊ समेत राजस्थान, फैजाबाद व अन्य कई जनपदों में सनसनीखेज वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने बदमाशों को दबोचने वाली पुलिस टीम को 20 हजार रुपए का इनाम देने की घोषणा की है।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

लखनऊ का मौलवीगंज व निशातगंज की पांचवीं गली बनी कोरोना हॉट स्पॉट

Published

on

सदर का तोपखाना और लालबाग का खंदारी लेन हॉट स्पॉट जोन से बाहर

लखनऊ। लखनऊ के मौलवीगंज चिक मंडी इलाका और निशातगंज की पांचवी गली को हॉट स्पॉट घोषित किया गया है। इन इलाकों से लगातार कोरोना पाॅजिटिव मरीज मिलने के बाद जिला प्रशासन ने यह निर्णय लिया है। वहीं दूसरी तरफ पिछले 21 दिनों से कोई नया पॉजिटिव केस नहीं मिलने के बाद सदर के तोपखाना और लालबाग के खंदारी लेन को हॉट स्पॉट एरिया से बाहर कर दिया गया है। फिलहाल राजधानी में 8 हॉट स्पॉट वाले इलाके घोषित किए गए हैं।

यह भी पढ़ें-‘अम्फन’ से तबाह पश्चिम बंगाल को 1000 करोड़ की फौरी राहत देगा केन्द्र

सीएमओ डॉ. नरेंद्र अग्रवाल ने बताया कि लालबाग और कैंट से 1-1 इलाके को हॉट स्पॉट से बाहर कर दिया गया है। ऐसे में इन इलाकों में रहने वाले लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। इसके साथ कुछ नये केस सामने आने के बाद निशातगंज व अमीनाबाद का 1-1 एरिया को हॉट स्पॉट में शामिल किया गया है। चिक मंडी समेत निशातगंज में केजीएमयू की नर्स और उसकी भतीजी में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई थी। इसके अलावा तोपखाना में 29 अप्रैल और खंदारी लेन में 30 अप्रैल के बाद से कोई नया केस नहीं आया है। जिसके बाद अधिकारियों ने इसे हॉट स्पॉट से हटाने का फैसला लिया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ में महामारी से दूसरी मौत, कोरोना पाॅजिटिव सब्जी विक्रेता ने दम तोड़ा

Published

on

हालत बिगड़ने पर परिजनों ने बलरामपुर अस्पताल में कराया था भर्ती

लखनऊ। राजधानी में कोरोना वायरस ने एक और व्यक्ति की जान ले ली है। मौलवीगंज निवासी सब्जी विक्रेता की अचानक तबीयत बिगड़ने पर परिजनों ने उसे बलरामपुर अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां करीब आधे घंटे बाद उसकी मौत हो गई। मौत के बाद उसमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई। इससे अस्पताल में हड़कंप मच गया। राजधानी में अब तक की कोरोना संक्रमित मरीज की दूसरी मौत है। रिपोर्ट आने के बाद गुरुवार को आनन-फानन में अस्पताल की एमरजेंसी को खाली करा लिया गया है। एमरजेंसी को 48 घंटे के लिए बंद करके सेनेटाइज कराया गया है। जबकि मृतक मरीज के सम्पर्क में आए डॉक्टर व स्टाफ को अस्पताल में ही क्वारंटीन किया गया है।

मौलवीगंज के रहने वाले सब्जी विक्रेता अधेड़ 51 अपने घर में ही चक्कर खाकर गिर गया। बेहोसी की हालत में तीमारदार मरीज को लेकर बलरामपुर अस्पताल लेकर पहुंचे। उसे सास लेने में भी तकलीफ थी। एमरजेंसी ओपीडी में डॉक्टर ने प्राथमिक उपचार देने के साथ ही उसे वार्ड में भेज दिया था। जहां पर स्टाफ व डॉक्टर ने उसका इलाज शुरू किया। इसी बीच मरीज की मौत हो गई। बलरामपुर अस्पताल निदेशक डॉ राजीव लोचन के मुताबिक मरीज दोपहर 1.20 पर भर्ती कराया गया था और उसकी मौत 1.50 पर यानि करीब आधे घंटे के बाद हुई।

यह भी पढ़ें-लोक गायिका मालिनी अवस्थी के पिता का निधन…

कोरोना संक्रमण की आशंका होने पर उसका नमूना लेकर जांच के लिए KGMU में भेजा गया था। जहां बुधवार सुबह रिपोर्ट में वह कोरोना पॉजिटिव निकला। यह जानकारी जैसे ही बलरामपुर अस्पताल प्रशासन को हुई तो हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में एमरजेंसी में भर्ती मरीजों को दूसरे वार्ड में शिफ्ट करवाया गया। वहीं मरीज के सपर्क में आये डॉक्टर व स्टाफ को क्वारंटीन में भेज जा रहा है। पांच दिन बाद सभी की जांच करवाई जाएगी। इसमें कई स्टाफ अभी क्वारंटीन का समय पूरा करके वापस लौटे थे।

अस्पताल का कोई भी वार्ड या परिसर सील नहीं

बलरामपुर अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ हिमांशु चतुर्वेदी का कहना है कि इमरजेंसी को वार्ड नंबर 8 में शिफ्ट किया गया है। जबकि मुख्य इमरजेंसी को सेनेटाइज कर अगले 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। हांलाकि अस्पताल निदेशक डॉ राजीव लोचन ने कहा है कि फिलहाल किसी भी वार्ड या परिसर को सील नहीं किया जाएगा। क्योंकि मृतक को पहले ही एक रूम में ले जाकर उपचार किया था। वहीं अस्पताल निदेशक के इस फरमान से यहां के डॉक्टरों व कर्मचारियों में आक्रोश है।

करीब 36 दिनों बाद दूसरी मौत

बता दें कि राजधानी में अब तक की कोरोना संक्रमित मरीज की यह दूसरी मौत है। इससे पूर्व कोरोना वायरस से संक्रमित 64 वर्षीय मधुमेह पीड़ित एक मरीज की केजीएमयू में 15 अप्रैल को मौत हो गयी थी। मधुमेह के चलते उसके गुर्दे भी खराब हो गए थे। उसके फेफड़ों में भी संक्रमण था। साथ ही वह कोरोना वायरस से भी संक्रमित पाया गया था। उसे आइसोलेशन वॉर्ड में वेंटिलेटर पर रखा गया था। लेकिन बचाया नहीं जा सका था। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

लखनऊः दो महीने बाद खुला हजरतगंज मार्केट, दुकानों पर पसरा सन्नाटा

Published

on

सामान्य दिनों में लोगों से भरे रहने वाले बाजार में नहीं दिख रहे ग्राहक

लखनऊ। लाॅकडाउन-4 में मिली राहत के क्रम में करीब 60 दिनों बाद गुरुवार (21 मई) को राजधानी के हजरतगंज मार्केट में कुछ दुकानें खुलीं। सामान्य दिनों में दिन-रात गुलजार रहने वाले हजरतगंज बाजार पर महामारी का साफ असर दिखा। लेकिन लाॅकडाउन की सख्ती और तीखी धूप के चलते बाजार में नाममात्र के ही लोग ही दिखे। दुकानों पर पर सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखा जा रहा है। इक्का-दुक्का जो कस्टमर दुकान पर आ रहे हैं, उनकी थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है। दुकान के बाहर तैनात गार्ड यह जिम्मेदारी निभा रहे हैं। लोगों को हैंड सैनिटाइजेशन भी कराया जा रहा है।

रेस्टोरेंट और मिठाई की दुकानें तो खुली हैं, लेकिन यहां कोई ग्राहक नहीं दिख रहा है। जिला प्रशासन ने इन दुकानों को केवल होम डिलीवरी की ही छूट दी है। ऐसा ही हाल शहर की अन्य बाजारों का भी है। सीमित दुकानें खुली हैं लेकिन महामारी का असर हर कहीं दिख रहा है। सड़कों पर ज्यादातर मुसाफिरों की ही भीड़ है।

हजरतगंज के नरही में नान्हू उर्फ शाकिर अली की टेलरिंग की दुकान भी करीब दो महीने बाद खुली है। दसको पुरानी यह दुकान पहली बार इतने लंबे समय तक बन्द रही है। अब साफ-सफाई के साथ दुकान पर काम शुरू किया गया है। दुकान मालिक ने बताया कि बिना मास्क के किसी को भी दुकान में आने की इजाजत नही हैं। इस दुकान से दस लोगों का परिवार चलता है। लॉक डाउन के दौरान दुकान बंद हुई तो मुसीबतों ने घेर लिया। अब जाकर कुछ राहत मिली है। अभी दुकान का आधा शटर ही खोला है। दुकान खुलने की खुशी तो है, लेकिन मन में भय भी है कि न जाने कब फिर बंद करना पड़ जाए।

लखनऊ ऑड-ईवन फार्मूले पर खुलेंगी दुकानें

लाॅकडाउन-4 में कोरोना मुक्त क्षेत्रों को काफी हद तक राहत मिल चुकी है। हालांकि इस कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, या यूं कहें कि महामारी का प्रकोप समय के साथ बढ.ता जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने भी लाॅकडाउन-4 के लिए नई गाइडलाइन्स जारी की हैं। जिसके तहत कंटेनमेंट व बफर जोन को छोड़कर अन्य स्थानों पर एकल दुकानों व बाजारों को खोलने की अनुमति दे दी है। राजधानी लखनऊ में भी 21 मई से ऑड-ईवन फार्मूले के आधार पर दुकानें व बाजार खोलने की अनुमति दी गयी है। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने दुकानें खोलने से पहले अनिवार्य रूप से सैनिटाइजेशन कराने की चेतावनी दी है।

यह भी पढ़ें-अलविदा और ईद को लेकर JCP संग मौलाना ख़ालिद रशीद फरंगी महली ने की मीटिंग

बुधवार को डीएम व नगर आयुक्त ने खुद हजरतगंज मार्केट को सैनिटाइज कराया था। डीएम के निर्देशानुसार शहर की सभी दुकानें सप्ताह में एक दिन अनिवार्य रूप से बंद रहेंगी। इस दिन सभी बाजारों व दुकानों का सैनिटाइजेशन होगा। रोड के एक तरफ वाली दुकानें जिस दिन खुलेंगी, उस दिन रोड के दूसरी तरफ वाली दुकानें बंद रहेंगी। अगले दिन रोड के दूसरी तरफ वाली दुकानें खुलेंगी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 22, 2020, 10:35 pm
Clear
Clear
32°C
real feel: 35°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 51%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:21 pm
 

Recent Posts

Trending