Connect with us

लखनऊ लाइव

आदि शंकराचार्य व बुद्ध जयन्ती पर संस्कृत संस्थान में कार्यक्रम आयोजित

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश संस्कृत संस्थान परिसर में आदि शंकराचार्य जयंती एवं बुद्ध जयन्ती समारोह के दूसरे दिन शनिवार को विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए। संस्थान के अध्यक्ष डाॅ. वाचस्पति मिश्र, उपाध्यक्ष शोभन लाल उकिल तथा मंचासीन अतिथियों ने दो दिवसीय समारोह का शुभारम्भ सरस्वती प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलित कर किया। भगवान बुद्ध के उपदेशों पर प्रकाश डालते हुए राष्ट्रिय संस्कृत संस्थान के प्राचार्य प्रो. विजय कुमार जैन ने कहा कि सम्राट अशोक ने बौद्ध धर्म को पूरी दुनिया में फैलाया। आज 2600 वर्ष बाद भी भगवान बुद्ध की शिक्षा प्रासंगिक है। सभी पापों को छोड.कर कुशल कर्मों का करना तथा चित्त की परिशुद्धि यही बुद्ध का शासन है। मध्याह्न में राष्टीय संस्कृत संस्थान परिसर के छात्रों ने धम्मपद का पाठ किया।

यह भी पढ़ें-रमजान की रहमतों- बरकतों से अपनी जिन्दगी के साथ पूरे समाज को एक नई राह दिखाएं: हाजी आरिफ शफी मनिहार

शंकराचार्य के स्तोत्रों पर आधारित गीत प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें 37 छात्र-छात्राओं ने प्रतिभाग किया। शंकराचार्य एवं बुद्ध के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर आधारित प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता में कुल 265 प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। प्रत्येक प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं सांत्वना पुरस्कार विजेता छात्र-छात्राओं को क्रमशः रू0 5000, 3000, 2000 तथा 1000 की नगद धनराशि तथा स्मृति चिन्ह से पुरस्कृत किया गया।

सायंकाल में निनाद संस्था की अध्यक्ष आरती नातू के निर्देशन में 11 कलाकारों ने भगवान बुद्ध के जीवन ‘‘बैशाली की नगर वधू आम्रपाली‘‘ पर आधारित नृत्य नाटिका को प्रस्तुत किया। समारोह का संचालन जगदानन्द झा ने किया। संस्थान में आये हुए अतिथियों एवं निर्णायकों को अंगवस्त्र, माल्यार्पण दिनेश कुमार मिश्र, वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी, द्वारा किया गया। http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लखनऊ लाइव

प्रदेश के किसान संरक्षित खेती की तरफ हो रहे आकर्षित: कृषि उत्पादन आयुक्त

Published

on

लखनऊ। एकीकृत बागवानी विकास मिशन योजना की राज्य स्तरीय कार्यपरिषद की 35वीं बैठक में उत्तर प्रदेश के कृषि उत्पादन आयुक्त एवं अध्यक्ष, राज्य औद्यानिक मिशन  राजेन्द्र कुमार तिवारी ने अधिकारियों को निर्देश देते हुये कहा कि जनपदवार आलू, सब्जी एवं फल आदि कृषि उत्पाद के भण्डारण की आवश्यकता एवं वर्तमान भण्डारण क्षमता का आंकलन कराया जाए। उन्होंने कहा कि माली प्रशिक्षण हेतु विभाग के अन्तर्गत संचालित 05 औद्यानिक प्रयोग एवं प्रशिक्षण केन्द्रों को एग्रीकल्चर स्किल काउंसिल ऑफ इण्डिया से अनुमोदित प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों का अनुश्रवण सुनिश्चित किया जाए। इसके अतिरिक्त प्रदेश के जिन क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य किये जा रहे है, उनके सफलता की कहानियों का विभिन्न माध्यमों से व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए। जिससे प्रदेश के अन्य किसानों में भी औद्यानिकी के प्रति जागरूकता पैदा हो तथा उनके द्वारा भी नई तकनीकी से औद्यानिक फसलों का उत्पादन करके अधिकाधिक लाभ प्राप्त किया जा सके।

उन्होंने कहा कि प्रदेश में संरक्षित खेती के कार्यक्रम के प्रति किसानों की रूचि बढ़ रही है। इससे बेमौसमी सब्जी एवं फूलों की खेती करने से सामान्य फसल की तुलना में 4-5 गुना अधिक गुणवत्तायुक्त उत्पादन होगा। इस क्षेत्र में नवयुवकों के द्वारा विशेष रूचि प्रदर्शित की जा रही हैं उनके द्वारा अपने क्षेत्र में स्वरोजगार के साथ-साथ अन्य लोगों को भी रोजगार के अवसर सुलभ कराये जा रहे हैं।

बैठक में राज्य स्तरीय कार्यपरिषद की 34वीं बैठक 12 फरवरी, 2019 में लिए गए निर्णय की पुष्टि एवं अनुपालन की समीक्षा की गई। बैठक के दौरान निदेशक, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण डा. एस.बी. शर्मा द्वारा कार्य परिषद के समक्ष वर्ष 2019-20 की धनराशि 10361.50 लाख रुपये की कार्य योजना प्रस्तुत की गई। बैठक में ग्रीन हाउस, शेडनेट हाउस, कोल्ड स्टोरेज की स्थापना एवं राईपेनिंग चैम्बर, रिफर वैन एवं माली ट्रेनिंग के परियोजना प्रस्ताव के सापेक्ष 7098.51 लाख रुपये के अनुदान के प्रस्ताव पर स्वीकृति प्रदान की गई। उन्होंने कहा कि इन प्रस्तावों के स्वीकृत होने तथा निर्माण पूर्ण होने के उपरान्त फूलों एवं सब्जियों के उत्पादन में वृद्धि होने से प्रदेश के बागवानी विकास को अपेक्षित गति मिलेगी साथ ही भण्डारण क्षमता में अतिरिक्त वृद्धि होगी।

ये भी पढ़ें: बीमार बच्ची के रोने से नींद में पड़ी खलल, पति ने दिया तीन तलाक

बैठक में शासन स्तर से प्रमुख सचिव, उद्यान एवं खाद्य प्रसंस्करण सुधीर गर्ग के अतिरिक्त वित्त, नियोजन, कृषि, पंचायती राज मण्डी विभाग के प्रतिनिधि, भारत सरकार के संस्थानों से केन्द्रीय उपोष्ण बागवानी संस्थान, रहमान खेड़ा, लखनऊ, सीमैप, एन.बी.आर.आई. लखनऊ, केन्द्रीय आलू अनुसंधान मेरठ तथा राज्य सरकार के विभाग एवं संस्थाओं में से डास्प, राज्य कृषि विश्वविद्यालयों एवं उपकार के पदाधिकारीगणों के साथ ही औद्यानिक उत्पादक  डी.के. शर्मा द्वारा प्रतिभाग किया गया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

जन्माष्टमी पर इस्कॉन मंदिर में होगा दो दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन

Published

on

लखनऊ। राजधानी के निजी होटल में श्री राधा रमण बिहारी इस्कॉन मंदिर में होने वाले दो दिवसीय श्री कृष्ण जन्माष्टमी महोत्सव के लिए बुधवार को प्रेसवार्ता का आयोजन किया गया। यहां इस्कॉन मंदिर के अध्यक्ष अपरिमेय श्याम दास ने मंदिर परिसर में होने वाले दो दिवसीय कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी है। इनमें मुख्यता महाभिषेक सांस्कृतिक कार्यक्रम और सबसे ज्यादा चर्चित दही हांडी का कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

ये भी पढ़ें: हांगकांग प्रदर्शन: 23 साल का लड़का बना चीन की आफत, ट्विटर-फेसबुक ने भी चलाया चाबुक

वही, मंदिर परिसर के अध्यक्ष ने बताया कि इस दो दिवसीय कार्यक्रम में दोपहर 12:00 से रात्रि 12:00 तक श्री कृष्ण जी का दूध, दही, घी, शहद व 1008 तीर्थों के जल से महाभिषेक किया जाएगा। उसके बाद लगभग 6 घंटे तक विभिन्न स्कूलों से आए बच्चों की ओर से सांस्कृतिक कार्यक्रम किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि लगभग ठीक 12:00 बजे श्री कृष्ण जन्मोत्सव पर आतिशबाजी करके श्री कृष्ण की जन्म को मनाएंगे। उन्होंने बताया कि श्री कृष्ण जन्माष्टमी के दिन विशेषकर दही-हांडी का आयोजन किया जाएगा जिसमें बड़ी संख्या में प्रदेश समेत देश के कई श्रद्धालु भी कार्यक्रम में शिरकत करेंगे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ-कानपुर आने-जाने वाली ये ट्रेनें 30 अगस्त तक रहेंगी निरस्त

Published

on

लखनऊ: जहां ट्रेन के सफर से कानपुर और लखनऊ के बीच की दूरी लोग आसानी से तय कर लेते थे, वहीं दूसरी ओर अब यात्रियों की मुसीबत बढऩे वाली है। बता दें कि  रेलवे ने 30 अगस्त तक कई ट्रेनें निरस्त कर दी हैं, जिससे रोजाना सफ़र करने वाले यात्रियों को दिक्कत का सामना करना पड़ेगा। दोनों शहरों से प्रतिदिन हजारों नौकरी पेशा लोग ट्रेन से यात्रा करते हैं और एमएसटी भी बनवा रखी है।  

ये भी पढ़ें: शादी के बाद नुसरत जहां कुछ इस तरह एन्जॉय कर रहीं अपनी लाइफ, देखें तस्वीरें…

बता दें कि कानपुर से लखनऊ के बीच रोजाना यात्रा करने वाले यात्रियों को निरस्त मेमो ट्रेनों की सुविधा अभी नहीं मिलेगी। रेलवे ने काफी टाइम से निरस्त चल रहीं मेमू ट्रेनों को 20 अगस्त से बढ़ाकर 30 अगस्त तक निरस्त कर दिया है। उत्तर मध्य रेलवे द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार मेमू संख्या 64207, 64212, 64213, 64254, 64208, 64209, 64235, 64236 के अलावा रायबरेली-कानपुर पैसेंजर भी निरस्त रहेगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 22, 2019, 1:44 am
Fog
Fog
27°C
real feel: 34°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 94%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:11 am
sunset: 6:07 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending