Connect with us

लखनऊ लाइव

पीएफ घोटाला: ऊर्जा मंत्री के बयान पर बिजली कर्मचारी आगबबूला, दी चेतावनी

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति ने पीएफ घोटाले के मामले में चल रहे बिजली कर्मचारियों के शांतिपूर्ण आंदोलन के दौरान प्रदेश के ऊर्जा मंत्री के रवैये को गैर जिम्मेदाराना करार दिया। समति ने का कहना है कि ऊर्जा मंत्री के बयानों से ऊर्जा निगमों में अनावश्यक तौर पर टकराव का वातावरण बन रहा है। संघर्ष समिति ने गुरुवार को प्रदेश सरकार व ऊर्जा निगमों के प्रबंधन को 28 नवंबर से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार की नोटिस दे दी है। अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार के अभियान में बिजली कर्मचारियों, जूनियर इंजीनियरों व अभियंताओं ने आज राजधानी लखनऊ सहित प्रदेश भर में समस्त परियोजनाओं व जिला मुख्यालयों पर विरोध सभायें और प्रदर्शन किये।

राजधानी लखनऊ में शक्ति भवन पर हुई सभा में बिजली कर्मचारियों ने ऊर्जा मंत्री के बयान पर आक्रोश व्यक्त किया, जिसमें उन्होंने प्राविडेन्ट फण्ड घोटाले के लिए ट्रस्ट के कर्मचारी प्रतिनिधियों को जिम्मेदार ठहराया है। संघर्ष समिति के पदाधिकारियों ने कहा कि श्रीकांत शर्मा के ऊर्जा मंत्री रहते हुए ट्रस्ट की एक भी बैठक नहीं हुई और अरबों रूपये का घोटाला होता रहा। ऐसे में यह ट्रस्ट के कर्मचारी प्रतिनिधियों की नहीं बल्कि ऊर्जा मंत्री की नैतिक जिम्मेदारी है। संघर्ष समिति ने स्पष्ट किया है कि बिजली कर्मचारियों का शांतिपूर्ण आंदोलन प्रदेश सरकार के नहीं बल्कि घोटाले के विरोध में है। इसिलिए ऊर्जा मंत्री को ऐसे बयानों से बचना चाहिए जिससे समाधान के बजाय टकराव बढ़ता हो।

संघर्ष समिति ने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से एक बार फिर अपील की है कि वे प्रभावी हस्तक्षेप कर बिजली कर्मचारियों के प्राविडेन्ट फण्ड के भुगतान की गजट नोटिफिकेशन जारी करें। जिससे बिजली कर्मचारी निश्चिंत होकर प्रदेश की बिजली व्यवस्था को सुचारू बनाये रखने में जुटे रह सकें। संघर्ष समिति ने यह भी मांग की है कि घोटाले के मुख्य आरोपी पूर्व चेयरमैनों को जो ट्रस्ट के भी चेयरमैन रहे हैं सेवा से बर्खास्त कर तत्काल गिरफ्तार किया जाये।

संघर्ष समिति की 28 नवंबर से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार की नोटिस में यह चेतावनी दी गयी है कि अगर शांतिपूर्ण ध्यानाकर्षण आंदोलन के दौरान किसी का भी उत्पीड़न किया गया या किसी को भी गिरफ्तार किया गया तो बिना और कोई नोटिस दिये उसी समय सभी ऊर्जा निगमों के तमाम बिजली कर्मचारी, जूनियर इंजीनियर व अभियन्ता अनिश्चितकालीन पूर्ण हड़ताल और सामूहिक जेल भरो आंदोलन प्रारंभ करने के लिए बाध्य होंगे, जिसकी सारी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार व प्रबंधन की होगी।

ये भी पढ़ें: रक्षा मंत्रालय की संसदीय समिति में साध्वी प्रज्ञा, कांग्रेस ने उठाए सवाल

आज शक्ति भवन लखनऊ में हुई विरोध सभा में राजीव सिंह, जय प्रकाश, गिरीश पाण्डे, सदरूद्दीन राणा, सोहेल आबिद, विनय शुक्ला, शशिकान्त श्रीवास्तव, पवन श्रीवास्तव, डी के मिश्रा, सुनील प्रकाश पाल, राम प्रकाश, जी वी पटेल, वारिन्दर शर्मा, महेन्द्र राय, वी सी उपाध्याय, परशुराम, पी एन तिवारी, पी एन राय, ए के श्रीवास्तव, कुलेन्द्र प्रताप सिंह, मो. इलियास, के एस रावत, भगवान मिश्र, करतार प्रसाद, आर एस वर्मा, पी एस बाजपेयी, वी के सिंह ‘कलहंस’ मौजूद रहे।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

लखनऊ में CAA के खिलाफ हुई हिंसा के आरोपी दारापुरी और सदफ जफर जेल से रिहा

Published

on

लखनऊ: नागरिकता अधिनियम कानून (CAA) के खिलाफ राजधानी लखनऊ में हुई हिंसा और तोड़फोड़ के आरोप में गिरफ्तार किए गए रिटायर्ड आईपीएस एसआर दारापुरी और कांग्रेस कार्यकर्ता सदफ जफर समेत दर्जनभर आरोपियों की मंगलवार सुबह जेल से रिहाई हो गई।  आरोप था कि ये सभी लखनऊ में 20 दिसम्बर को सीएए के विरोध में हुई हिंसा में शामिल थे।

ये भी पढ़ें: गणतंत्र दिवस में शामिल होने वाली झांकियों के क्रम लाटरी से तय

बता दें कि इन सभी के अलावा करीब 150 अन्य आरोपी अभी भी जेल में बंद हैं। हालांकि कोर्ट ने शनिवार को दारापुरी और सदफ समेत 13 आरोपियों की जमानत अर्जी मंजूर कर ली थी। वहीं सोमवार शाम देर से इनकी रिहाई का आदेश जेल प्रशासन को मिला था। जिसके बाद मंगलवार सुबह जेल प्रशासन ने कानूनी कार्रवाई पूरी करने बाद सुबह करीब 10 बजे इन्हें रिहा कर दिया।  

Continue Reading

लखनऊ लाइव

लखनऊ में रहकर सिविल की तैयारी कर रहे दारोगा के भाई ने की आत्महत्या

Published

on

लखनऊ। जानकीपुरम थाना में तैनात दारोगा शिव नारायण सिंह के भाई ने सोमवार को अपने कमरे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वह जानकीपुरम के सेक्टर-एफ में किराए पर रहकर यहां सिविल की तैयारी कर रहा था। मृतक ओम नारायण (38) लखनऊ में रहकर सिविल की तैयारी के साथ ही बच्चों को ताईक्वांडो सिखाते थे। सोमवार को दिन भर कमरे से बाहर न निकले पर देर रात मकान मालिक ने ओम नारायण के कमरे में खिड़की से देखा तो उनका शव पंखे के कुंडे से लटक रहा था।

यह भी पढ़ें-लोगो व पोस्टर लांचिंग के कुछ ही घण्टे बाद दोबारा टला लखनऊ महोत्सव का आयोजन

जानकारी के मुताबिक मकान मालिक घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने कमरे का दरवाजा तोड़कर शव नीचे उतारा। मृतक के कमरे से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।http://www.satyodaya.cpm

Continue Reading

लखनऊ लाइव

आप की छात्र सभा ने किया प्रदर्शन, अमित शाह का पुतला जलाया

Published

on

लखनऊ। जेएनयू में छात्रों व शिक्षकों पर हमले पर सियासी पारा चढ़ गया है। सोमवार को राजधानी लखनऊ में कांग्रेस, सपा और आम आदमी पार्टी सड़कों पर उतर आई। हजरतगंज के जीपीओ पर आम आदमी पार्टी के की छात्र सभा ने जोरदार प्रदर्शन किया है। अमित शाह मुर्दाबाद…गुण्डागर्दी नहीं चलेगी जैसे नारे लगा रहे छात्र सभा के युवाओं ने गृह मंत्री का पुतला भी फूंका। जिसके बाद पुलिस ने आप कार्यकर्ताओं को जबरन हिरासत में ले लिया। आप कार्यकर्ताओं ने कहा कि हमारी मांग है कि हमलावरों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए। हम लोग अमित शाह की गुण्डागर्दी के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें-जेएनयू घटना के लिए कांग्रेस ने भाजपा पर लगाया आरोप, जीपीओ पर किया प्रदर्शन

आम आदमी पार्टी छात्र सभा के प्रदेश अध्यक्ष वंशराज दुबे ने पुलिस पर आरोप लगाया कि हमें प्रदर्शन भी नहीं करने दिया जा रहा है। आरोप है कि पुलिस ने हमारे साथ गाली-गलौज करते हुए मारपीट की है। भाजपा तानाशाही कर रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

January 7, 2020, 12:21 pm
Partly sunny
Partly sunny
17°C
real feel: 20°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 74%
wind speed: 2 m/s SE
wind gusts: 2 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 6:26 am
sunset: 4:59 pm
 

Recent Posts

Trending