Connect with us

लखनऊ लाइव

पूनम सिन्हा सपा में शामिल, लखनऊ में राजनाथ के खिलाफ विपक्ष की होंगी साझा उम्मीदवार

Published

on

सपा कार्यालय में डिंपल यादव ने ग्रहण कराई सपा की सदस्यता

लखनऊ। भाजपा के मजबूत गढ़  लखनऊ लोकसभा सीट से सपा-बसपा और रालोद गठबंधन किस महारथी को उतारेगा? अभी तक यह सवाल शहर की सियासी फिजां में तेजी से तैर रहा था लेकिन अब स्थिति साफ होती दिख रही है। भाजपा के बागी सांसद और बालीवुड अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा मंगलवार दोपहर लखनऊ पहुंची। सपा मुखिया अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के सामने पूनम सिन्हा ने समाजवादी पार्टी की सदस्यता ली। इसी के साथ उनकी राजनीतिक पारी का आगाज हो गया। माना जा रहा है कि पूनम सिन्हा ही लखनऊ से गठबंधन की उम्मीदवार होंगी। उनके नाम के ऐलान की औपचारिकता ही शेष है। सूत्रों के अनुसार लखनऊ से कांग्रेस अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी। यहां आम चुनाव के पांचवें चरण में 6 मई को मतदान होगा। नामांकन की आखिरी तारीख 18 अपै्रल है।

यह भी पढ़ें-आजम की ऐंठन है कि जाती ही नहीं…अब पत्रकारों पर बरसा रहे जहरबुझे बचन

मंगलवार सुबह से ही बूंदाबांदी के साथ चलीं हवाओं ने जहां मौसम का मिजाज सर्द रखा तो वहीं दूसरी ओर राजनीतिक सरगर्मियां तेज रहीं। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के नामांकन को लेकर सुबह से ही राजनीतिक और प्रशासनिक हलचलें तेज थी। दोपहर होते-होते ही सपा ने भी अपना दांव चल दिया है। उम्मीद जतायी जा रही है लखनऊ में अब राजनाथ और पूनम सिन्हा के बीच ही मुख्य मुकाबला होगा। बता दें कि पूनम की राजनीतिक पारी की पटकथा पहले ही लिखी जा चुकी थी। एक मुलाकात में बालीवुड के शाॅटगन ने अखिलेश यादव से पूनम के लिए टिकट मांगा था। सपा चाहती थी कि शत्रुघ्न पहले कांग्रेस में शामिल हो जाएं ताकि लखनऊ में विपक्ष का एक साझा उम्मीदवार हो सके। 6 अप्रैल को भारतीय जनता पार्टी के 39वें स्थापना दिवस पर भाजपा के बागी शत्रु कांग्रेस में शामिल हुए थे। सूत्रों के अनुसार कांग्रेस ने पूनम सिन्हा के नाम का समर्थन कर दिया है।

बता दें कि लखनऊ लोकसभा सीट पर 1991, 1996, 1998, 1999 और 2004 में पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी जीते थे। 2009 में लाल जी टंडन और 2014 में राजनाथ सिंह ने इस सीट से भारी मतों से बाजी मारी थी। इस बार भाजपा ने फिर राजनाथ सिंह को लखनऊ से उतारा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लखनऊ लाइव

संत और साहित्य समाज को जोड़ने का कार्य करता है : प्रो. नन्द किशोर

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान के तत्वावधान में मंगलवार को रामचन्द्र शुक्ल पुस्तकालय हिन्दी भवन में संत साहित्य के विविध आयाम विषय पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरूआत दीप प्रज्वलन व सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्पांजलि के साथ हुआ। इस दौरान कामिनी त्रिपाठी वाणी वन्दना प्रस्तुति की गयी। मुख्य वक्ता के रूप में आमंत्रित प्रो. नन्द किशोर पाण्डेय ने कहा कि संत और साहित्य समाज को जोड़ने का कार्य करता है। भक्ति साहित्य समाज के प्रत्येक वर्ग को समर्थवान बनाता है। समाज को जोड़ने का काम भक्ति साहित्य करता है। उन्होंने कहा कि नाभादासए रामानुजाचार्य आदि भक्त कवियों ने अपने काव्य से समाज को नयी दिशा प्रदान की। नामदेव जैसे भक्त कवियों ने जाति भाषा की सीमाओं को तोड़ने का काम किया। संत कवियों ने समाज में समरसता लाने का कार्य किया। वहीं मुख्य अतिथि के रूप में आमंत्रित डॉ उदय प्रताप सिंह ने कहा कि संत साहित्य का विषय क्षेत्र व्यापक है। साहित्य में अनेक संत हुए हैं जिनका साहित्य मिलना दुलर्भ हो रहा है। भक्ति साहित्य का स्वर्ण युग है। हिन्दी के चारों युगों में लोक कहीं जुड़ता है तो वह भक्ति काल ही है। संत साहित्य समाज की सामाजिकता एवं एकता पर बल देता है। सामाजिक समरसता की शिक्षा संत साहित्य में मिलता है।

यह भी पढ़ें-सीएम योगी ने सत्यमित्रानन्द गिरि महाराज के निधन पर शोक जताया

अध्यक्षीय सम्बोधन में डॉ सदानन्द प्रसाद गुप्त कार्यकारी अध्यक्ष उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान ने कहा कहा कि संत साहित्य में सगुण-निर्गुण के भेद को मिटा देना चाहिए। अपनी बात को कहने के लिए आलम्बन का सहारा लेना पड़ता है। संतों का केन्द्रीय बिन्दु प्रेम रहा है। आज की हिन्दी आलोचना समकालीनता से ग्रस्त हो चुकी है। मंचासीन अतिथियों का उत्तरीय द्वारा स्वागत डॉ सदानन्द प्रसाद गुप्त, कार्यकारी अध्यक्ष, उत्तर प्रदेश हिन्दी संस्थान ने किया। समारोह का संचालन एवं आभार डॉ अमिता दुबे, सम्पादक हिन्दी संस्थान ने किया, साथ ही यह भी बताया कि आगामी 31 जुलाई को प्रेमचन्द एवं मैथिलीशरण गुप्त स्मृति समारोह का आयोजन हिन्दी संस्थान में किया जायेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

हज यात्रियों को मिलेगी फ्री मेडिकल किट

Published

on

लखनऊ। हज यात्रियों को बेहतर सुविधा देने के मकसद से हर साल की तरह इस साल भी यूपी के हज यात्रियों को फ्री मेडिकल किट मुहैया करायी जायेगी। जिसका मकसद किसी भी हाजी को हज के दौरान स्वास्थ्य से संबंधित किसी परेशानी का सामना न करना पड़े। हिंदुस्तान में हज के पाक और मुकद्दस सफर पर सबसे ज्यादा हाजी उत्तर प्रदेश से इस साल जाएंगे। सऊदी हुकूमत की ओर से हज पर जाने वाले भारतीयों का कोटा बढ़ाए जाने से सबसे ज्यादा फायदा उत्तर प्रदेश के हाजियों को मिला है। जिसके चलते इस साल यूपी से तकरीबन 33900 यात्री हज के सफर पर रवाना होंगे, जिसमें 99 नमहरम महिलाये भी शामिल होंगी। इनके स्वास्थ्य का ख्याल के ऐतबार से एक निजी संस्था और यूपी हज समिति के तत्वधान में फ्री मेडिकल किट यात्रियों को दी जायेगी।

यह भी पढ़ें-पदोन्नति न होने से नगर निगम के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में रोष

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश से जाने वाले हज यात्रियों को किसी भी तरीके की परेशानी ना होने पाए। जिसके चलते उत्तर प्रदेश राज्य हज समिति ने तमाम तैयारियां पूरी कर ली है। यूपी के हज यात्रियों के लिए बनारस दिल्ली और लखनऊ से फ्लाइट रवाना होगी जिसमें लखनऊ से 21 जुलाई को पहली फ्लाइट अमौसी एयरपोर्ट से उड़ान भरेगी।

Continue Reading

लखनऊ लाइव

पदोन्नति न होने से नगर निगम के चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में रोष

Published

on

लखनऊ। नगर निगम में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की वर्षों से लंबित भर्ती व पदोन्नति को लेकर नगर निगम कर्मचारी संघ ने मंगलवार को नगर आयुक्त को पत्र भेजकर नाराजगी जतायी है। संघ ने पत्र में कहा है कि सरकार के आदेश के बावजूद नगर निगम में पिछले 9 वर्षों से न तो चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की भर्ती की गयी है और न ही द्वितीय श्रेणी लिपिक के पद पर उनकी पदोन्नति दी गयी है। चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी जिस पद नियुक्त किए गए थे उसी पद से सेवानिवृत्त हो रहे हैं जिसके चलते उनमें काफी रोष है। कर्मचारी संघ ने नगर आयुक्त को उनके आश्वासन की भी याद दिलाई जब पिछले वर्ष उन्होंने खुद संघ प्रतिनिधि को भरोसा दिया था कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की पदोन्नति की जाएगी।

यह भी पढ़ें-प्रदेश स्वास्थ्य मंत्री सिध्दार्थ नाथ ने दंपति प्रोजेक्ट का शुभारंभ किया

जिसके बाद योग्य चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों की पदोन्नति के लिए मई 2019 में अमीनाबाद इंटर काॅलेज में परीक्षा भी आयोजित की जा चुकी है। लेकिन अब वह परीक्षा भी रद्द कर दी गयी है जिससे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों में रोष है। नगर निगम कर्मचारी संघ ने नगर आयुक्त से मांग की है कि चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों के रिक्त पदों पर भर्ती की जाए। साथ ही योग्य चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को द्वितीय श्रेणी लिपिक के पद पर पदोन्नत किया जाए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

June 25, 2019, 10:32 pm
Mostly cloudy
Mostly cloudy
31°C
real feel: 37°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 65%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:45 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending