Connect with us

लखनऊ लाइव

वादाखिलाफी के खिलाफ विद्युत मजदूर संगठन ने किया धरना-प्रदर्शन

Published

on

लखनऊ। विद्युत मजदूर संगठन उत्तर प्रदेश ने बुधवार को 4a गोखले मार्ग स्थित प्रबंधक निदेशक मध्यांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड पर एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया। मध्यांचल डिस्कॉम के अध्यक्ष श्याम कुमार श्रीवास्तव नेतृत्व में हुए इस प्रदर्शन में मध्यांचल निगम के 19 जिलों से लगभग 300 कर्मचारी और संगठन के पदाधिकारी सम्मिलित हुए।

संगठन के संयोजक आर एस राय ने कहा कि मध्यांचल विद्युत निगम ने स्थानांतरण नीति के विपरीत नियमों को ताक पर रखकर कर्मचारी विरोधी नियत से लिपिकीये तथा tg2 संवर्ग के स्थानांतरण किए गए हैं। जबकि स्थानांतरण नीति में स्पष्ट है कि ऐसे कर्मचारी जिनके माता-पिता आश्रित अथवा स्वयं गंभीर बीमारी से ग्रसित है उनका स्थानांतरण नहीं किया जाएगा। लेसा में कार्यरत अजय भट्टाचार्य जिनके लिवर सिरोसिस बीमारी से गंभीर रूप से ग्रस्त माता जी का इलाज केजीएमसी में चल रहा है उसके बावजूद उनका स्थानांतरण कर दिया गया। इसी प्रकार अवनीश श्रीवास्तव की पत्नी शिक्षा विभाग लखनऊ में, दिलीप पांडे की पत्नी शक्ति भवन लखनऊ में  कार्यरत है, उन्हें भी लखनऊ से बाहर स्थानांतरित कर दिया गया। जिसके कारण इनके परिवार का उत्तपीड़न हो रहा है।                                           

संगठन के मुख्य महामंत्री आलोक सिन्हा ने बताया कि आर एस राय के नेतृत्व में संगठन के एक प्रतिनिधिमंडल ने 28 अगस्त को प्रबंधक निदेशक संजय गोयल आईएएस से मिलकर स्थानांतरण के कारण कर्मचारियों को हो रही कठिनाई की ओर ध्यान आकर्षित कराया था। जिस पर उन्होंने स्थानांतरण निरस्त करने पर विचार करने का आश्वासन दिया। लेकिन अभी तक कोई आदेश जारी नहीं किया गया।  

 वहीं, संगठन के महामंत्री श्री चंद ने कहा कि शासन ने निर्धारित अंतिम तिथि 15 जुलाई के डेढ़ महीने बाद 26 अगस्त को स्थानांतरण करने का कोई औचित्य नहीं बनता। लेकिन मनमाने तरीके से मुख्य अभियंता संवर्ग के कार्यालय कर्मियों का स्थानांतरण कर दिया गया, जो कर्मचारी विरोधी कार्रवाई है। 

 संगठन के मीडिया प्रभारी विमल चंद्र पांडे ने बताया कि वादाखिलाफी के विरोध में किए जा रहे आज के धरना प्रदर्शन के बाद भी नियम विरुद्ध और शासन की नीतियों के खिलाफ किए गए स्थानांतरण रद्द नहीं किए गए तो स्थानांतरण के कारण कर्मचारियों और उनके परिवारों का हो रहा उत्पीड़न समाप्त कराने के लिए संगठन मध्यांचल निगम पर आंदोलन जारी रहेगा, जिसका संपूर्ण उत्तरदायित्व प्रबंधन का होगा।

ये भी पढ़ें: शिक्षक महासंघ अपनी मांगो को लेकर करेगा प्रदर्शन

धरना कार्यक्रम को संगठन के संयोजक आरएस राय के अलावा अरुण कुमार अध्यक्ष, आर सी पाल कार्यवाहक अध्यक्ष, आलोक सिंनहा मुख्य महामंत्री, श्रीचंद महामंत्री, आर वाई शुक्ला उपाध्यक्ष, नवीन चंद्र श्रीवास्तव कोषाध्यक्ष, एसके सिंह मध्यांचल महामंत्री, पुनीत राय प्रदेश संयोजक संविदा मजदूर संगठन, गंगाधर त्रिपाठी जेपी त्रिपाठी, राजीव अवस्थी, शैलेंद्र कुमार, कमल किशोर, अभिषेक सिंह, अजय भट्टाचार्य, के के सिंह, अवनीश श्रीवास्तव, मनीष श्रीवास्तव, राजीव श्रीवास्तव आदि पदाधिकारियों एवं विमल चंद्र पांडे मीडिया प्रभारी ने संबोधित किया।http://www.satyodaya.com                     

लखनऊ लाइव

बाबा की मौत से दुखी छात्रा को नरही चौकी इंचार्ज ने रायबरेली स्थित घर पहुंचाया

Published

on

लखनऊ। लाॅकडाउन के बीच फंसे लोगों की मदद करने में लखनऊ पुलिस मिसाल पेश कर रही है। खाकी की पूरी कार्यशैली में इन दिनों मानवता की भी झलक देखी जा सकती है। गरीबों व जरूरतमंदों को भोजन, राशन उपलब्ध कराने के साथ ही अन्य समस्याओं को भी तत्परता से निपटा रही है। रविवार को हजरतगंज कोतवाली के अंतर्गत नरही चैकी इंचार्ज भूपेन्द्र सिंह ने ऐसी ही एक मिसाल पेश की।

इंस्पेक्टर संतोष सिंह के नेतृव में नरही चौकी इंचार्ज भूपेंद्र सिंह ने लॉक डाउन में पेश की मानवता। रायबरेली निवासी एक छात्रा यहां रहकर पढ़ाई करती है। लाॅकडाउन के बीच छात्रा नरही में फंसी रह गयी। रविवार को रायबरेली में उसके बाबा की मृत्यु हो गई। बाबा की मौत की खबर लगते ही छात्रा परेशान हो गयी। छात्रा का रो-रोकर बुरा हाल हो गया। किसी तरह यह सूचना नरही चौकी इंचार्ज को लगी। उन्होंने तत्काल मौके पर पहुंचकर छात्रा को ढांढस बंधाया।

यह भी पढ़ें-उत्तर प्रदेश के सभी टोल प्जाजा पर आज रात से शुरू हो जाएगी वसूली

चौकी इंचार्ज भूपेंद्र सिंह ने छात्रा को उसके घर भेजने के लिए एक सिपाही को जिम्मेदारी सौंपी। सिपाही ने छात्रा को बाइक पर बैठाकर उसके रायबरेली स्थित घर पहुंचा दिया। चौकी इंचार्ज के इस कार्य के लिए नरही में स्थानीय लोगों ने जमकर सराहना की। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

बांग्लादेशी कोरोना संक्रमित नागरिक केजीएमयू से डिस्चार्ज

Published

on

लखनऊ। कोरोना वायरस से पूरी दुनिया हाहाकार मचा है। बीमारी से बचने के लिए बड़ी आबादी घरों में है। वायरस का अभी तक सटीक इलाज नहीं मिल सका है। ऐसे में डर लगना स्वाभाविक है। लेकिन हिम्मत से कोविड-19 बीमारी से जंग जीती जा सकती है। इसलिए घबराने की जरूरत नहीं है। मगर वायरस से बचाव पर ध्यान देना भी बेहद जरूरी है। केजीएमयू में भर्ती बांग्लादेशी नागरिक ने कोरोना से जंग जीत ली है और उसे घर भेज दिया गया है।

यह भी पढ़ें-दिल्ली : आम आदमी पार्टी के विधायक से परेशान होकर डाक्टर ने की खुदकुशी

रोगी 9 अप्रैल को केजीएमयू में भर्ती हुआ था। 50 वर्षीय बांग्लादेशी नागरिक का सफल उपचार कर सीतापुर भेज दिया गया है। उसे कोरोना संक्रमण के साथ साथ रोगी को मधुमेह और हृदय की बीमारी थी। वहीं ECG जांच भी की गई। शनिवार संक्रमण मुक्त होने पर पूर्ण स्वस्थ दशा में डिस्चार्ज कर दिया गया। इस प्रकार केजीएमयू में अभी तक 11 रोगियों का सफलतापूर्वक उपचार किया जा चुका है। वहीं 5 कोरोना संक्रमित अभी भी भर्ती हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

केजीएमयू : महिला नर्स के साथ छेड़छाड़ का आरोपी वार्ड इंचार्ज निलंबित

Published

on

मामले की जांच करेगी विशाखा कमेटी 

लखनऊ। केजीएमयू में संविदा पर तैनात महिला नर्स के साथ अश्लील हरकत व छेडख़ानी करने वाले वार्ड इंचार्ज पुरुष नर्स को निलंबित कर दिया गया है। इसके साथ ही इस मामले की जांच के लिए विशाखा कमेटी को सौंपा गया है। ट्रॉमा के जनरल सर्जरी विभाग के तहत आरएसओ वार्ड का संचालन हो रहा है। 27 मार्च को संविदा पर तैनात महिला नर्स ड्यूटी पर आई। नर्सिंग स्टेशन पर मरीजों से जुड़ा काम निपटा रही थी। इसी दौरान वार्ड इंचार्ज पुरुष नर्स पीछे से आया। उसे संविदा नर्स को पकड़ लिया। उससे अश्लील हरकत शुरू कर दी। किसी तरह नर्स भागी।

पीडि़ता ने पुरुष नर्स की हरकतें मोबाइल में कैद करने की कोशिश की। पुरुष नर्स ने उसे जान से मारने की धमकी दी। मोबइल छीन कर वीडियो डिलीट कर दिया। पीडि़ता का आरोप है कि पुरुष नर्स ने धमकाया। कहा यदि किसी से शिकायत करोगी तो मैं तुझे नौकरी से निकवा दूंगा। तेरी बदनामी कर दूंगा। डरी सहमी पीडि़ता किसी तरह वार्ड से भागी। पांच अप्रैल को महिला कर्मचारी ने हिम्मत जुटाकर कुलसचिव से शिकायत की। वहीं आरोपी पुरुष नर्स ने आरोपों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि नर्स काम नहीं करती थी वह मोबाइल पर सोशल मीडिया पर व्यस्त रहती थी।

यह भी पढ़ें-पीडीएस के माध्यम से जनता को 35 किलो राशन व जरूरी सामान फ्री में देने की मांग

कई बार समझाया। फिर भी वह समझने को तैयार नहीं थी। मुझे झूठे आरोपों में फंसाया है। वहीं लिखित शिकायत के आधार पर कुलसचिव आशुतोष कुमार द्विवेदी ने आरोपी पुरुष नर्स को निलंबित कर दिया है। कुलसचिव ने कहा कि इस तरह की घटनाओं से केजीएमयू की छवि खराब हो रही है। इस तरह की घटना को किसी भी हाल में बर्दाश्त नहीं की जाएगी।http://www.satyodaya.com 

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 21, 2020, 12:26 am
Thunderstorms
Thunderstorms
23°C
real feel: 20°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 73%
wind speed: 4 m/s N
wind gusts: 4 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:07 am
sunset: 6:04 pm
 

Recent Posts

Trending