Connect with us

लखनऊ लाइव

उत्तर प्रदेश में दूसरे चरण के मतदान की तैयारियां पूरी, 8 सीटों पर होगी वोटिंग

Published

on

मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल वेंकटेश्वर लू ने प्रेस वार्ता कर दी जानकारी

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 के द्वितीय चरण में 18 अप्रैल को होने वाले चुनाव में स्वतंत्र और निष्पक्ष शांतिपूर्ण मतदान कराने के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गयी हैं। यह जानकारी देते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी एल वेंकटेश्वर लू ने बताया कि मतदान सुबह 7ः00 बजे से शाम 6ः00 बजे तक होगा।
दूसरे चरण में यूपी की नगीना, अमरोहा, बुलंदशहर, अलीगढ़, हाथरस, मथुरा, आगरा, फतेहपुर सीकरी में मतदान होना है। इन आठ लोकसभा सीटों पर कुल 1,41,94,232 मतदाता हैं जिसमें से पुरूष मतदाताओं की संख्या 76,36,857 है जबकि महिला मतदाताओं की संख्या 65,56,504 है। वहीं 771 थर्ड जेन्डर भी अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। आगरा लोकसभा क्षेत्र में सबसे अधिक मतदाता 19,34,850 हैं जबकि नगीना लोकसभा क्षेत्र में सबसे कम 15,84,111 मतदाता हैं।

यह भी पढ़ें-अपनी ही पार्टी पर भड़कीं प्रियंका, कहा-गुण्डों को दी जा रही तरजीह

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया है कि इन सभी सीटों पर मतदान के लिए 8751 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं जबकि 16163 मतदेय स्थल बनाए गए हैं। जिनमें से 3314 संवेदनशील मतदेय स्थल हैं जहां प्रशासन ने किसी भी स्थिति से निपटने के लिए पुख्ता तैयारियां की हैं। उपरोक्त आठ सीटों के लिए कुल 85 प्रत्याशी मैदान में हैं। नगीना में 07, अमरोहा में 10, बुलंदशहर में 09, अलीगढ़ में 14, हाथरस में 08, मथुरा 13, फतेहपुर सीकरी में 15 तथा आगरा में 09 प्रत्याशी हैं।
राजनीतिक दलों की बात की जाए तो भाजपा और कांग्रेस के 8-8, बसपा के 6 और सपा और रालोद के 1-1 प्रत्याशी हैं जबकि कई निर्दलीय प्रत्याशी भी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। कुल दावेदारों में से 10 महिला प्रत्याशी भी मैदान में हैं।
दूसरे चरण में कुल 1,06,203 मतदान कर्मियों को लगाया गया है। जिनमें से 1,598 माइक्रो आबजर्वर तैनात किए गए हैं, 1346 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 187 जोनल मजिस्ट्रेट, 617 स्टैटिक मजिस्ट्रेट, सामान्य प्रेक्षक की संख्या-8, पुलिस प्रेक्षक-4, व्यय प्रेक्षक-8, सहायक व्यय प्रेक्षक-41 की तैनाती की गयी है।

यह भी पढ़ें-कानून बनने के बाद भी महिला को विवाहेतर संबंध बनाने के लिए खाने पड़े कोड़े…!!

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया है कि चुनावों में पारदर्शिता लाने के लिए सभी मतदेय स्थलों पर कैमरे लगवाए गए हैं। उन्हों ने बताया कि विभिन्न मतदान स्थलों पर 1121 डिजिटल कैमरे, 781 वीडियो कैमरे और 1614 वेबकास्टिंग कैमरों की व्यवस्था की गयी है। इसके अलावा सभी मतदान केन्द्रों पर पर्याप्त संख्या में पुलिस व सुरक्षाबलों की तैनाती की गयी है। जो किसी भी विषम परिस्थिति से निपटने में सक्षम हैं। श्री लू ने बताया कि इस बार शत प्रतिशत मतदेय स्थलों पर वीवीपैट का प्रयोग किया जाएगा। स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शान्तिपूर्ण चुनाव सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त संख्या में अर्द्धसैनिक बल एवं पीएसी की तैनाती की गयी है।
मतदान वाले जिलांे में निगोशिएबल इन्स्ट्रमेन्ट एक्ट के तहत सार्वजनिक अवकाश के अलावा कारखाने, सभी वाणिज्यिक अधिष्ठान एवं दुकानें बंद रहेंगी।http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

सीएए हिंसाः नुकसान की भरपाई के लिए मौलाना सैफ अब्बास के घर पहुंची पुलिस

Published

on

रिकवरी धनराशि जमा करने के लिए शुक्रवार तक का दिया समय

लखनऊ। 19 दिसंबर 2019 को लखनऊ में सीएए-एनआरसी विरोधी हिंसा व प्रदर्शन में हुए सरकारी नुकसान की भरपाई की कार्यवाही तेज हो गयी है। इस हिंसा के लिए मौलाना सैब अब्बास को भी ठहराया गया है। सरकारी संपत्ति को हुए नुकसान की भरपाई के लिए फरवरी 2020 में जिलाधिकारी ट्रांस गोमती की कोर्ट ने 57 दोषियों से 1.55 करोड़ रुपए वसूलने का आदेश दिया था। दोषियों द्वारा रकम न जमा करने पर उनकी संपत्ति कुर्क कर मुआवजा वसूलने का आदेश दिया था।

जिसके क्रम में पुलिस व प्रशासनिक अफसरों की एक टीम गुरुवार को मौलाना सैफ अब्बास के घर पहुंची। एडीएम पश्चिमी की कोर्ट ने मौलाना सैफ अब्बास सहित 10 दोषियों से 67 लाख 73 हजार 900 रुपए की वसूली करने का आदेश दिया था। मौलाना ने अब तक अपने हिस्से की हर्जाना धनराशि नहीं जमा की है।

यह भी पढ़ें-लखनऊ में सीएए हिंसा: नुकसान की भरपाई के लिए 3 दोषियों की दुकानें सील

गुरुवार को जब जिला प्रशासन की टीम मौलाना सैफ अब्बास के घर पहुंची तो उनका बेटा व समर्थक पुलिस से उलझ गए। हालांकि समझाने के बाद सभी शांत हो गए। अफसरों ने मौलाना सैब अब्बास को हर्जाना की धनराशि जमा करने के लिए शुक्रवार तक का समय दिया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

लाभार्थियों की सूची का होगा डिजिटलीकरण, आईसीडीएस निदेशक ने जारी किये निर्देश

Published

on

लखनऊ। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा दी जा रही सेवाओं के लाभार्थियों की सूची का अब डिजिटलीकरण होगा। इस सम्बन्ध में उत्तर प्रदेश बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग (आईसीडीएस) की निदेशक डॉ. सारिका मोहन ने सभी जिला कार्यक्रम अधिकारियों को पत्र भेजकर आवश्यक दिशा निर्देश जारी किये हैं।

पत्र के अनुसार, बाल विकास परियोजना अधिकारियों (सीडीपीओ) को लाभार्थियों का डाटा अपडेट करने के निर्देश दिए गए हैं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता गर्भवती एवं धात्री महिलाओं, छह माह से तीन वर्ष की आयु के बच्चों, तीन से छह वर्ष की आयु के बच्चों एवं स्कूल न जाने वाली किशोरियों को विभाग की तरफ से चलने वाली सभी योजनाओं का लाभ समय-समय पर पहुंचाती रही है।

यह भी पढ़ें :- शिक्षक भर्ती घोटाले में अयोध्या विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति पर केस दर्ज

पत्र के हवाले से सूची के डिजिटलीकरण की जिम्मेदारी ग्राम पंचायतों में खुले कॉमन सर्विस सेंटर (सीएससी) को दी गयी है। सेंटर संचालक गांव में आंगनबाडी केंद्र पर जाकर कार्यकर्ता व सहायिकाओं से पंजीकृत लाभार्थियों के नाम, पते, राशन कार्ड, मोबाइल नम्बर आदि की डिटेल लेंगे। प्रत्येक आंगनबाड़ी केंद्र के लाभार्थी की जानकारी हर महीने की 25 से 30 तारीख के मध्य अपडेट की जाएगी। इसके बाद गूगल फॉर्म में 1 से 5 जुलाई के बीच दर्ज करेंगे। फीडिंग के बाद पूरा डाटा विभाग को देगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

कोरोना वायरस

नगर निगम के बाबू समेत 32 में कोरोना संक्रमण की पुष्टि

Published

on

जोन-8 निगम कार्यालय को सेनेटाइज करते हुए 48 घंटे के लिए बंद

लखनऊ। राजधानी में कोरोना वायरस ने पूरी तरह से पांव फैला लिया है। कोरोना के चपेट में नगर निगम का बाबू भी आ गया है। माना जा रहा है कि जोन-8 में हाउसटैक्स जमा करने आए हुए लोगों से यह संक्रमित हुआ है। बाबू की तैनाती हाउसटैक्स वसूलने के लिए की गई थी। हांलाकि बाबू तबीयत खराब होने पर खुद छुट्टी लेकर घर में ही क्वारंटीन हो गया था। उसे केजीएमयू में भर्ती कराया गया है। इसके साथ ही जोन-8 कार्यालय को सेनेटाइज करते हुए 48 घंटे के लिए बंद करा दिया गया है। वहीं उसके निवास स्थान सआदतगंज को भी सील कर दिया गया है। उसके संपर्क में आए लोगों के नमूने भेजे गए हैं।

सीएमओ प्रवक्ता योगेश रघुवंशी के मुताबिक नगर निगम के बाबू समेत 32 लोगों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है। बाबू के अलावे सआदतगंज में तीन और मरीज कोरोना की चपेट में आए हैं। वहीं विजयनगर में चार व गोमतीनगर एवं इन्दिरानगर के तीन-तीन मरीज कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं। इसके अलावा आलमबाग, माल एवेन्यू, आईआईएम रोड के दो-दो मरीज शामिल हैं। जबकि त्रिवेणीनगर, चिनहट, अलीगंज, महानगर, विकासनगर, चैक, वृन्दावन योजना, राजाजीपुरम, कृष्णा नगर, तुलसीदास मार्ग, जफर खेड़ा, गोमती नगर विस्तार के एक-एक मरीज में कोरोना संक्रमण की पुष्टि की गई है। इन सभी को शहर के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है।

यह भी पढ़ें :- केजीएमयू में कोरोना जांच का आंकड़ा एक लाख के पार

सीएमओ प्रवक्ता ने बताया कि सर्विलान्स एवं कान्टेक्ट ट्रेसिंग के आधार पर 439 लोगों के सैम्पल टीम द्वारा लेकर जांच के लिए केजीएमयू भेजे गये। इसके अलावा नैपियर रोड, नगरिया ठाकुरगंज, शीशमहल, वजीरबाग, हुसैनाबाद, बालागंज, चैैपटिया आदि क्षेत्रों में संक्रमण से मुक्ति के लिए टीमों द्वारा कार्य किया गया। टीम ने घर-घर जाकर लोगों को जागरूक किया। टीम द्वारा कुल 2985 घर का भ्रमण किया गया तथा 13395 जनसंख्या को आच्छादित भी किया।

कोरोना से जीती जंग

कोरोना से मचे दहशत के बीच इससे मरीज भी पूरी तरह से स्वस्थ हो रहे हैं। 16 मरीजों ने कोरोना से जंग जीत लिया है। यह मरीज राजधानी के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती थे। जिन्हें छुट्टी दे दी गई है। इनमें केजीएमयूू के 5, एलबीआरएन-9, ईएसआई हास्पिटल-2 के स्वस्थ मरीज शामिल हैं।

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 2, 2020, 11:39 pm
Partly cloudy
Partly cloudy
32°C
real feel: 39°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 70%
wind speed: 1 m/s ESE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:47 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending