Connect with us

लखनऊ लाइव

एनआरसी और सीएए के खिलाफ शिया मौलानाओं ने किया विरोध प्रदर्शन

Published

on

लखनऊ। एनआरसी और नागरिक संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ मौलाना सैफ अब्बास नकवी और मौलाना जमीर अहमद इफ्तकारी ने सैकड़ों लोगों के साथ विरोध प्रदर्शन किया है। लखनऊ स्थित बड़े इमामबाड़े से लेकर टीले वाली मस्जिद तक विरोध मार्च निकाला गया है।

राजा साहब महमूदाबाद ने भी एनआरसी और सीएए के खिलाफ कैसरबाग में विरोध प्रदर्शन किया है। हालांकि, सभी ने शांतिपूर्ण ढंग से अपना विरोध दर्ज कराया है।

बता दें, लखनऊ के कई इलाकों में विरोध प्रदर्शन किये जा रहे हैं। बुधवार को ही प्रशासन ने धारा 144 लागू कर दी थी। बावजूद इसके आज बड़ी संख्या में लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया है। लखनऊ में कई जगहों पर पथराव भी लोगों ने किया है। कुछ पुलिसवाले जख्मी भी हुए हैं। ज्यादातर इलाकों में पुलिस ने बैरिकेडिंग कर रास्ता रोक दिया है।

ये भी पढ़ें: अजय कुमार लल्लू समेत कांग्रेस कार्यकर्ताओं को पुलिस ने लिया हिरासत में

हसनगंज थाना क्षेत्र स्थित मदेयगंज चौकी को भी प्रदर्शनकारियों ने आग के हवाले कर दिया। वहां खड़ी गाड़ियों में भी आग लगा दी। प्रशासन ने वहां इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया है। वहीं परिवर्तन चौक पर भी काफी भीड़ इकट्ठा हुई। कई राजनीतिक पार्टियों ने भी आज विरोध किया है, जिसे देखते हुए केडी सिंह बाबू स्टेडियम मेट्रो स्टेशन शाम पांच बजे तक बंद कर दिया गया है। http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

इमामबाड़ा ढहाने के मामले में वसीम रिजवी की तत्काल गिरफ्तारी की मांग

Published

on

शिया धर्म गुरू मौलाना कल्बे जवाद ने प्रेस कांफ्रेंस कर की मांग

लखनऊ। शिया धर्म गुरू मौलाना कल्बे जवाद ने उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी की तत्काल गिरफ्तारी की मांग की है। गुरुवार को एक प्रेस कांफ्रेंस कर मौलाना कल्बे जवाद ने कहा कि वसीम रिजवी ने वक्फ बोर्ड के चेयरमैन रहते हुए इलाहाबाद के ऐतिहासिक इमामबाड़े को ध्वस्त कराकर वहां एक कामर्शियल मार्केट बनवा दी। इस मामले में केन्द्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय, प्रधानमंत्री कार्यालय, अल्पसंख्यक आयोग और इलाहाबाद जिला प्रशासन ने अपनी जांच में वसीम रिजवी सहित तमाम अफसरों को दोषी ठहराया है। साथ ही इन सभी के खिलाफ कार्रवाई की भी सिफारिश की थी।

मौलाना ने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने भी वसीम रिजवी के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया है। लेकिन लेकिन वसीम रिजवी के खिलाफ कार्रवाई तो दूर उन्हें दोबारा वक्फ बोर्ड का चेयरमैन बनाने की तैयारी चल रही है।

यह सब प्रदेश के कुछ वरिष्ठ अफसरों के संरक्षण के चलते हो रहा है। धर्मगुरू ने कहा कि वसीम रिजवी ने प्रदेश की कई वक्फ संपत्तियों में धांधली की है। लेकिन अपने तमाम हथकंडों के चलते उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं हो पा रही है।

वसीम रिजवी की अफसरों के साथ सांठगाठ

मौलाना ने कहा कि इलाहाबाद के प्रयागराज में 200 साल पुराने इमामबाड़े गुलाम हैदर का नामो-निशान तक मिटा दिया गया है। यह सब तत्कालीन वक्फ बोर्ड चेयरमैन वसीम रिजवी के इशारे पर भू-माफिया ने किया। इमामबाड़े की जमीन पर चार मंजिला इमारत बनाई गई है। इमामबाड़े की जमीन पर अवैध निर्माण को लेकर कई लोगाों पर कार्रवाई हो चुकी है।

यह भी पढ़ें-अपने परिवेश को साफ-सुथरा रखना सबसे अच्छी सेवा: कुमार केशव

शासन से 153 ए की कार्रवाई करने की अनुमति मिलने के बाद भी वसीम रिजवी आजाद घूम रहे हैं। मौलाना कल्बे जवाद और अन्य ने कहा कि वसीम रिजवी की कई अधिकारियों से साठगांठ है, जिसकी वजह से वह कानून की गिरफ्त से दूर है। धर्मगुरू ने कहा कि हमारी मांग है कि वसीम रिजवी की तत्काल गिरफ्तारी कर उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

राहुल-प्रियंका की गिरफ्तारी के विरोध में सड़कों पर उतरे कांग्रेसी, सियासी हंगामा शुरू

Published

on

लखनऊ। राहुल और प्रियंका की गिरफ्तारी की खबर लगते ही प्रदेश भर में सियासी हंगामा शुरू हो गया है। उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने प्रदेश भर में विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया है। प्रदेश नेतृत्व ने सभी जिला, तहसील व ब्लॉक मुख्यालयों का घेराव करने और प्रदर्शन करने का निर्देश दिया है। राजधानी लखनऊ में सीएम आवास का घेराव करने जा रहे सैकड़ों कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया है।

बहराइच

कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा और एमएलसी दीपक सिंह को लखनऊ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

फ़ैजाबाद

एक प्रेस नोट जारी कर कहा गया कि हाथरस जा रहे राहुल गांधी के साथ जिस तरह धक्का-मुक्का कर उन्हें जमीन पर गिराया गया और फिर गिरफ्तार किया गया, वह बेहद अफसोसजनक है। हम अपने नेता के साथ इस तरह के अभद्र व्यवहार को बर्दाश्त नहीं करेंगे।

यह भी पढ़ें-हाथरस जा रहे राहुल-प्रियंका के साथ पुलिस ने की धक्का-मुक्की, गिरफ्तार

राहुल-प्रियंका की गिरफ्तारी के विरोध में लखनऊ के अलावा फ़ैजाबाद, बहराइच में भी कांग्रेस कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए हैं। यहां नगर कोतवाली क्षेत्र में कांग्रेस कार्यकर्ताओं को काबू करने में पुलिस के पसीने छूट गए है। बहराइच पुलिस ने लाठीचार्ज के बाद दर्जनों कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

पिता के लिए इंसाफ मांग रहीं बेटियों पर लखनऊ पुलिस ने दिखाया जोर

Published

on

हजरतगंज में शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहीं युवतियों को जबरन हिरासत में लिया गया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था वेंटिलेटर पर पहुंच चुकी है। लगभग हर दिन महिलाओं-युवतियों के साथ रेप, गैंगरेप और हत्या की घटनाएं सामने आ रही हैं। वहीं दूसरी तरफ गंभीर से गंभीर अपराधों में भी न तो सुनवाई हो रही है और न ही कार्रवाई। उल्टे आवाज उठाने पर पीडि.तों पर ही पुलिस अपना जोर दिखा रही है। हाथरस कांड के बाद चौतरफा घिरी यूपी पुलिस का एक और शर्मनाक चेहरा सामने आया है। अपने पिता की हत्या में इंसाफ और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग लेकर हजरतगंज पहुंचीं दो बेटियों को पुलिस ने जबरन पीट-घसीटकर थाने भेज दिया। मामला काकोरी कोतवाली क्षेत्र के ग्राम गदाई खेड़ा का है।

जिम्मेदारों को जगाने के लिए हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहीं दो बहनों ने बताया कि 23 जुलाई को बड़ागांव के प्रधानपति और बेटों ने उनके पिता की हत्या कर दी थी। मृतक गांव के ही झंडेस्वर महादेव मंदिर में पुजारी था। बेटियों का आरोप है कि आरोपियों के साथ मिलकर स्थानीय पुलिस ने हत्या का मुकदमा दर्ज नहीं किया। उल्टे आरोपी ग्राम प्रधान व प्रधान पति ने पुलिस से मिलकर पीड़ितों पर ही गलत मुकदमा दर्ज करा दिया।

यह भी पढ़ें-शासन के मूक आदेश पर प्रशासन ने मृतका के परिजनों को दौड़ा-दौड़ाकर मारा-अखिलेश

पीड़ित बेटियों ने पिता को न्याय दिलाने के लिए कई उच्च अधिकारियों को शिकायती पत्र दिया। जिसके बाद काकोरी पुलिस ने हल्की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया। हत्या के दो महीने बाद भी अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। आरोपी खुलेआम घूम रहे हैं।

बेटियों की मांग

विरोध प्रदर्शन कर रहीं बेटियों ने सात सूत्रीय ज्ञापन दिखाते हुए कहा, हमारी मांग है कि हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार कर उन्हें जेल भेजा जाए। उन पर लगाया गया फर्जी मुकदमा हटाया जाए। ग्राम बधाई खेड़ा में खसरा संख्या 558 का पट्टा उनके परिवार के नाम किया जाए। मृतक पुजारी के परिवार के भरण-पोषण के लिए सरकार 2,50,0000 का मुआवजा दे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

October 1, 2020, 11:47 pm
Fog
Fog
26°C
real feel: 32°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 88%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:29 am
sunset: 5:21 pm
 

Recent Posts

Trending