Connect with us

लखनऊ लाइव

शिवपाल ने बुआ-बबुआ के साथ वसीम रिजवी पर भी साधा निशाना, प्रसपा में शामिल हुए मुस्लिम नेता

Published

on

लखनऊ। प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि मायावती को पूरा देश जानता है वह विश्वास करने लायक नहीं हैं। उन्होंने अखिलेश यादव को धोखेबाज बताते हुए कहा कि जिस ने नेताजी को धोखा दिया, अपमान किया, इन पर कौन विश्वास करेगा। वह मंगलवार को पार्टी कार्यालय में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। शिवपाल सिंह यादव ने स्पष्ट किया कि लोकसभा के चुनाव पर हमें 80 सीटों पर चुनाव लडऩा है। उन्होंने कहा कि हम एक समान विचारधारा के लोगों से बात करेंगे, हमारी सेक्यूलर लोगों से बात चल रही है,और जल्द ही फैसला होगा। उन्होंने कहा कि यह निश्चित तय है कि अबकी केन्द्र में जो सरकार बनेगी वह बिना प्रसपा लोहिया के सहयोग से नहीं बनेगी। उन्होंने अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा कि बेटा ने बाप को धोखा दिया और बहन ने भाई को। ऐसे लोग आप के क्या होंगे। ऐसे लोगों का कोई भरोसा नहीं है, कभी भी किसी को धोखा दे सकते हैं।

 

मायावती ने अपने बीजेपी के भाइयों को धोखा दिया जबकि अखिलेश ने अपने बाप और चाचा को धोखा दिया। उन्होंने यह भी स्पष्ठï कर दिया है कि उनकी लड़ाई गठबंधन से नही बीजेपी से हैं। उन्होंने कहा कि इवीएम से जनता का विश्वास नहीं है तो वैलेट पेपर से चुनाव कराया जाए तो बेहतर है। उन्होंने कहा कि वसीम रिजवी को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि वह सेक्युलर नहीं हैं। उन्होंने कहा कि वह बीजेपी से मिले हुए है। शिवपाल यादव का भाजपा पर प्रहार करते हुए कहा कि देश भर में भाजपा हटाओं अभियान चलाया जायेगा पहले देश से भाजपा को हटाने का काम किया जाएगा। इसके बाद उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार को हटाकर प्रसपा की सरकार बनायी जायेगी। इवीएम से जनता का विश्वास नहीं है तो वैलेट पेपर से चुनाव कराया जाए।

 प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) जॉइन करने वाले मुस्लिम बुद्धिजीवी, समाजसेवी व धार्मिक -राजनीतिक नेता

1. पूर्व राज्यसभा सांसद व अलीग? मुस्लिम विश्वविद्यालय छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष मोहम्मद अदीब साहब,
2. ऑल इंडिया सुन्नी उलेमा काउंसिल के महासचिव हाजी मोहम्मद सलीस साहब (समर्थन)
3. हज कमेटी   इंडिया के पूर्व सदस्य और मरहूम सैय्यद मुख्तार अशरफ, सज्जादा नशीन दरगाह किछौंछा शरीफ, अम्बेडकर नगर, के पौत्र सैय्यद मसूद अशरफ ‘अरशद मियां’ साहब
आप आल इंडिया उलमा एंड मशायाख बोर्ड और वर्ल्ड सूफी फोरम के चेयरमैन मौलाना सैय्यद मोहम्मद अशरफ साहब किछौछवी के चचेरे भाई हैं ।
4. अशगर खान साहब , अधिवक्ता
5. राष्ट्रवादी समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी जियाउल इस्लाम साहब
6. जावेद उमर फारूकी साहब, सामाजिक कार्यकर्ता व पूर्व एडमिनिस्ट्रेटर, बहराइच दरगाह शरीफ जावेद अहमद फारूकी साहब
7. नफीस अख्तर खान साहब , खादिम आस्ताना, दरगाह किछौंछा शरीफ, अम्बेडकर नगर
8. शहंशाह, खादिम आस्ताना, दरगाह किछौंछा शरीफ, अम्बेडकर नगर
9. हसरत मोहानी एजुकेशनल एंड सोशल वेलफेयर सोसाइटी के अध्यक्ष हाजी अख्तर कमाल साहब
10. मुस्लिम लीग उत्तर प्रदेश से हाजी इश्तियाक अहमद निजामी साहब
11. अंसार यूथ फेडरेशन के प्रमुख श्री मुफरान अहमद चाँद साहब
12. इमरान अहमद साहब
13. मंसूर यूथ फेडरेशन के अध्यक्ष अब्दुल रज्जाक मंसूरी साहब
14- सैय्यद हम्मान अशरफ
15- फैजुल हसन, पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष,  मुस्लिम विश्वविद्यालय
16- इंद्रमणि उर्फ पप्पू यादव

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लखनऊ लाइव

संदिग्ध परिस्थितियों में युवक की चार मंजिला भवन से गिर कर मौत

Published

on

लखनऊ। विकासनगर थाना क्षेत्र के कुर्सी रोड स्थित यादव लोहा भंडार के पास एक नवनिर्मित चार मंजिला भवन से संदिग्ध परिस्थितियों में एक युवक के गिरने से मौत हो गई। उसके शरीर पर चोट के कई निशान भी मिले हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

यह भी पढ़ें: योगी सरकार के खिलाफ कानून व्यवस्था को ‘नया मुद्दा’ बनाएगी यूपी कांग्रेस

प्रभारी निरीक्षक विकासनगर धीरज शुक्ला ने बताया मूलरूप से गौरीगंज अमेठी के रहने वाले आदित्य मिश्रा (30) शेखुपुरा कालोनी में रहते हैं। वह प्राइवेट नौकरी करते थे। बीती रात करीब 10 बजे यादव लोहा भंडार के पास बनी एक नवनिर्मित मकान से एक युवक के नवनिर्मित भवन से नीचे गिरने की सूचना मिली। सूचना पर पहुंची पुलिस आदित्य को ट्रामा सेंटर ले गई। रात करीब एक बजे इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पुलिस मामले मामले की जांच कर रही है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

विकास दुबे की तलाश में लखनऊ में छापेमारी, मां व भाई को साथ ले गई पुलिस

Published

on

लखनऊ। कानपुर में बदमाशों के हमले में अपने 8 जवानों की शहादत से यूपी पुलिस में काफी रोष और शोक है। इस पुलिस नरसंहार को अंजाम देने वाले अपराधी विकास दुबे की तलाश के लिए यूपी पुलिस ने पूरी ताकत झोंक दी है। एसटीएफ और पुलिस की कई टीमों के साथ करीब 8 हजार जवानों को विकास दुबे की खोज में लगाया है। प्रदेश भर में विकास दुबे के सभी संभावित ठिकानों व परिचितों के यहां पुलिस की टीमें दबिश दे रही हैं। शुक्रवार शाम लखनऊ के कृष्णानगर स्थित विकास दुबे के घर पर एसीपी दीपक कुमार के नेतृत्व में छापेमारी की गयी।

यह भी पढ़ें-कानपुर: बदमाशों के हमले में सीओ, एसओ सहित 8 पुलिसकर्मी शहीद

हालांकि विकास दुबे का यहां भी कोई सुराग नहीं मिला। कुछ दिन पहले लखनऊ एसटीएफ ने विकास दुबे को इसी घर से दबोचा था। पुलिस ने पूरे घर की तलाशी ली। इस दौरान कई थानों की फोर्स मौके पर मौजूद रही। लखनऊ पुलिस विकास दुबे के अवैध हथियारों की तलाश में थी। काफी सर्च के बाद भी पुलिस को यहां से कुछ खास हासिल नहीं हुआ।

मां ने कहा, मैं उसका मुंह कभी नहीं देखूंगी…उसे मार दो…

पुलिस ने विकास की मां, भाई, भाई की पत्नी, बेटी को हिरासत में ले लिया है। सभी से पूछताछ की जा रही है। विकास दुबे की मां ने कहा कि उसने बहुत गलत काम किया है। मैं उसका चेहरा कभी नहीं देखूंगी। पुलिस उसे कड़ी से कड़ी सजा दे। उसे पुलिस जवानों की हत्या नहीं करनी चाहिए थी। एसीपी दीपक कुमार ने बताया कि विकास दुबे की तलाश में ऑपरेशन चलाया जा रहा है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

सीएए हिंसाः नुकसान की भरपाई के लिए मौलाना सैफ अब्बास के घर पहुंची पुलिस

Published

on

रिकवरी धनराशि जमा करने के लिए शुक्रवार तक का दिया समय

लखनऊ। 19 दिसंबर 2019 को लखनऊ में सीएए-एनआरसी विरोधी हिंसा व प्रदर्शन में हुए सरकारी नुकसान की भरपाई की कार्यवाही तेज हो गयी है। इस हिंसा के लिए मौलाना सैब अब्बास को भी ठहराया गया है। सरकारी संपत्ति को हुए नुकसान की भरपाई के लिए फरवरी 2020 में जिलाधिकारी ट्रांस गोमती की कोर्ट ने 57 दोषियों से 1.55 करोड़ रुपए वसूलने का आदेश दिया था। दोषियों द्वारा रकम न जमा करने पर उनकी संपत्ति कुर्क कर मुआवजा वसूलने का आदेश दिया था।

जिसके क्रम में पुलिस व प्रशासनिक अफसरों की एक टीम गुरुवार को मौलाना सैफ अब्बास के घर पहुंची। एडीएम पश्चिमी की कोर्ट ने मौलाना सैफ अब्बास सहित 10 दोषियों से 67 लाख 73 हजार 900 रुपए की वसूली करने का आदेश दिया था। मौलाना ने अब तक अपने हिस्से की हर्जाना धनराशि नहीं जमा की है।

यह भी पढ़ें-लखनऊ में सीएए हिंसा: नुकसान की भरपाई के लिए 3 दोषियों की दुकानें सील

गुरुवार को जब जिला प्रशासन की टीम मौलाना सैफ अब्बास के घर पहुंची तो उनका बेटा व समर्थक पुलिस से उलझ गए। हालांकि समझाने के बाद सभी शांत हो गए। अफसरों ने मौलाना सैब अब्बास को हर्जाना की धनराशि जमा करने के लिए शुक्रवार तक का समय दिया है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 4, 2020, 3:01 pm
Partly sunny
Partly sunny
32°C
real feel: 40°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 79%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 5
sunrise: 4:48 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending