Connect with us

प्रदेश

बिजली दरों में बढ़ोतरी के खिलाफ भाकपा ने किया प्रदर्शन

Published

on

प्रतिकात्मिक चित्र

लखनऊ। बढ़ी हुई बिजली दरों को लेकर भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के लोगों ने पूरे उत्तर प्रदेश के जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर उन्हें वापस लेने की मांग की है। जारी एक प्रेस बयान में भाकपा के राज्य सचिव डा. गिरीश ने कहा कि राज्य विधानसभा और लोकसभा चुनावों में भाजपा को भारी बहुमत प्रदान करने की सजा उत्तर प्रदेश की जनता को दी जा रही है। एक ओर दिल्ली की केजरीवाल सरकार मुफ्त समान रेट पर बिजली दे रही है। तो वहीं उत्तर प्रदेश की सरकार जनता को बड़ी कीमतों के बोझ तले दबाये दे रही है।

उन्होंने कहा कि आने वाले कल से लागू होने जा रही विद्युत दर वृद्धि के द्वारा गरीब, मध्य और उच्च सभी तबकों को आहत किया गया है। खेती और लघु उद्योग तक इसके दायरे में आ गए हैं। महंगाई और आर्थिक मंदी से पीड़ित जनता को सरकार ने यह करारा झटका दिया है।

इससे पहले प्रदेश सरकार ने डीजल और पेट्रौल पर वैट बढ़ा कर उनकी कीमतें बढ़ा दीं। अभी हाल में केन्द्र सरकार ने रसोई गैस की कीमतें बढ़ा दीं। अब राज्य सरकार डीजल वाहनों की टैक्स दर बढ़ाने जा रही है। आवागमन के साधनों पर तमाम टैक्सों के बावजूद अधिकतर मार्गों पर टोल टैक्स वसूला जारहा है। अब नये मोटर वाहन कानून के तहत लोगों से भारी जुर्माना वसूला जारहा है। अपने ही नागरिकों को दोनों हाथों से लूटा जा रहा है।

लूट खसोट और भ्रष्टाचार में लिप्त व फासीवाद की राह पर चल रही इस सरकार ने प्रतिरोध की आवाज दबाने का अभियान छेड़ रखा है। मध्यान्ह भोजन में नमक के साथ रोटी परोसने का वीडियो जारी करने वाले मिर्जापुर के पत्रकार के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इससे पूर्व भी कई मीडिया कर्मियों को प्रताड़ित किया गया। आज भी यह उत्पीड़न जारी है।

यह भी पढ़ें: वादाखिलाफी के खिलाफ विद्युत मजदूर संगठन ने किया धरना-प्रदर्शन

डा. गिरीश ने कहा कि भाजपा दोगलेपन की राजनीति करती है। उत्तर प्रदेश में उसकी सरकार ने बिजली की कीमतें बढ़ा कर आम जनता की कमर तोड़ कर रख दी है। तो वहीं पश्चिम बंगाल में इसी सवाल पर भाजपा उपद्रव कर रही है। भाकपा राज्य काउंसिल द्वारा लिए गये निर्णय के तहत आज उपरोक्त सवालों पर जिलों में प्रदर्शन कर राष्ट्रपति और राज्यपाल के नाम ज्ञापन दे रही है। डा. गिरीश ने कहा कि यह आंदोलन आगे भी जारी रहेगा। भाकपा की जिला कमेटियां योजना बना कर इन सवालों को जनता के बीच ले जाएंगी।http://www.satyodaya.com

प्रदेश

यूपी विधानसभा: विपक्ष ने मुंह पर पट्टी बांधकर कार्यवाही में लिया हिस्सा

Published

on

तय समय से पहले सत्र के समापन पर विपक्ष नाराज

लखनऊ। सदन के बजट सत्र को तय समय से पहले खत्म करने करने पर विपक्ष ने शनिवार को मुंह पर पट्टी बांधकर कार्यवाही में हिस्सा लिया। विपक्ष ने मांग की कि सदन को 7 मार्च तक चलाया जाए। लेकिन उससे पहले ही सरकार सत्रावसान कर रही है। न मानने पर नेता विरोधी दल राम गोविंद चौधरी ने कहा, आप सदन चलाइए, हम लोग मुंह पर पट्टी बांध ले रहे हैं। कोई भी सदस्य सवाल नहीं पूछेगा।

यह भी पढ़ें-विधानसभा कार्यवाही: विपक्ष के सवालों पर असहज हुए कृषि मंत्री

नेता विरोधी दल श्री चौधरी ने कहा, विधान सभा अध्यक्ष सदन चलाना चाहते हैं, विपक्ष सदन चलाना चाहता है, संसदीय कार्य मंत्री सदन चलाना चाहते हैं। 99 प्रतिशत भाजपा विधायक भी सदन चलने के पक्ष में हैं। तो फिर ऐसा कौन व्यक्ति है जिसके कारण सदन नहीं चल रहा है। राम गोविंद चौधरी के साथ सभी विपक्षी सदस्यों ने इसके बाद मुंह पर पट्टी बांध ली। आप को बता दे पहले सदन 7 मार्च तक सदन चलना था, सरकार ने आज अचानक ही सदन का सत्रावसान किया।

विपक्ष ने विशेष बजट लंच का किया बाॅयकाट

बजट सत्र के समापन पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी सदस्यों को विधानसभा की कैंटीन में लंच दिया। खुद मुख्यमंत्री ने भी भाजपा विधायकों के साथ कैंटीन में विशेष बजट लंच किया। लेकिन सत्र के जल्द समापन से नाराज विपक्ष ने लंच का बाॅयकाट किया। पारंपारिक तौर पर हर बार यह लंच होता है। जिसमें सत्ता और विपक्ष दोनों मिलकर लंच करते हैं। लेकिन इस बार यह परंपरा टूट गयी। मुख्यमंत्री के साथ कैंटीन में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, मंत्री सुरेश राणा, मंत्री आशुतोष टण्डन सहित तमाम मंत्री, भाजपा नेता व अधिकारी मौजूद रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

जुमे की नमाज़ में देश की अमन और भाईचारे के लिए की गई दुआ

Published

on

जुमे की नामाज़

फाइल फोटो

लखनऊ। दिल्ली में हिंसा थमने के बाद से ही देशभर में राजधानी के लिए अमन और चैन की दुआ का दौर शुरू हो गया है। शुक्रवार को जुमे की नामाज़ को देखते हुए लखनऊ में जहां कड़े बंदोबस्त किए गए, तो वहीं मस्जिदों से भी देश की सलामती और अमन की सदाएं सुनाई दीं। जुमे की नामाज़ में लखनऊ ईदगाह में बड़े पैमाने पर लोगों ने नामाज़ के बाद मुल्क की हिफाज़त और आपसी भाईचारे की सलामती की दुआ की गई है।

बता दें कि, पिछले कुछ दिनों से बिगड़े दिल्ली के हालात और दंगो की आग बुझने के बाद देशभर से दिल्ली के लिए दुआएं हो रही है। शुक्रवार को जुमे की अहम नामाज़ में विशेष तौर से मस्जिदों से अमन और चैन की दुआएं की गई। प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जुमे की नामाज़ को देखते हुए सभी मस्जिदों के बाहर कड़ी सुरक्षा तैनात रही। वहीं मस्जिदों में भी बड़े पैमाने पर पहुंचकर लोगों ने नामाज़ अदा की है।

ये भी पढ़ें:विधानसभा कार्यवाही: विपक्ष के सवालों पर असहज हुए कृषि मंत्री

लखनऊ ईदगाह में धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद राशीद फ़िरंगी महली ने जुमे की नामाज़ अदा कराई। इसके साथ ही नामाज़ के बाद दिल्ली के लिए विशेष दुआ की गई। मीडिया से बात करते हुए ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के वर्किंग कमिटी के सदस्य और मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना ख़ालिद राशीद फ़िरंगी महली ने कहा कि दिल्ली में जो फ़साद हुए वह बेहद अफ़सोसजनक है और उसकी सख्त अल्फ़ाज़ में निंदा करते हैं। सरकार से फिर एक बार मांग करते है कि हाई लेवल ज्यूडिशियल इंक्वायरी ऑर्डर करें। जांच तय समय सीमा के तहत हो और जो लोग भी कसूरवार हो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाई की जाए। फिरंगी महली ने बताया कि लखनऊ शहर के साथ मुल्क के कई शहरों में दिल्ली के लिए अमन शांति की दुआ की गई है। जिनकी जाने इस दंगे में गई हैं।  उन सबके परिवारों को अल्लाह हिम्मत दें और जिनको कारोबारी नुकसान हुआ है उनका व्यापार फिर से पटरी पर लौट सकें।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

विधानसभा कार्यवाही: विपक्ष के सवालों पर असहज हुए कृषि मंत्री

Published

on

बजट सत्र के आखिरी दिन विभागीय बजट पर हुई चर्चा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा का बजट सत्र तय समय से 7 दिन पूर्व ही समाप्त हो गया। बजट सत्र के आखिरी दिन दोनों सदनों में तमाम विभागीय बजटों पर चर्चा हुई। जिसमें विपक्ष ने विभागीय मंत्रियों से सवाल भी पूछे। शुक्रवार को सदन में नियोजन विभाग, प्रशासनिक सुधार विभाग, गृह विभाग (पुलिस), गोपन विभाग, सतर्कता विभाग, खाद्य एवं रसद विभाग, परिवहन विभाग, कृषि एवं अन्य संबंध विभाग, श्रम और सेवायोजन विभाग, ऊर्जा विभाग, नगर विकास विभाग, गन्ना एवं चीनी विभाग, कृषि विपणन और कृषि, विदेश व्यापार सहित अन्य विभागों के बजट पर चर्चा हुई।

यह भी पढ़ें-कुत्तों को आईकार्ड बांटेगा वाराणसी नगर निगम, ‘आवारागर्दी’ पर लगेगी लगाम

इससे पहले सदन में कार्यवाही शुरू होते ही प्रश्नकाल में सपा विधायकों ने सरकार से कई सवाल पूछे। कृषि विभाग के बजट पर चर्चा के बीच विपक्ष के सवाल पर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही काफी असहज हो गए। विपक्ष ने आरोप लगाया कि कृषि मंत्री पिछले अनुपूरक बजट की धनराशि ही नहीं खर्च कर पाए हैं। किसानों को फसल का मुआवजा तक नहीं मिला है। कृषि मंत्री की सफाई पर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। नेता विरोधी दल राम गोविंद चौधरी ने कहा, कृषि मंत्रि सदन में असत्य प्रलाप कर रहे हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

February 28, 2020, 5:25 pm
Partly sunny
Partly sunny
25°C
real feel: 25°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 57%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 1
sunrise: 6:02 am
sunset: 5:36 pm
 

Recent Posts

Trending