Connect with us

लखनऊ लाइव

पश्चिमी उत्तर प्रदेश से चुनावी शंखनाद करेगा गठबंधन, तीनों दलों के शीर्ष नेता साझा करेंगे मंच

Published

on

फ़ाइल फोटो

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोक दल की संयुक्त चुनाव रैलियां चरणबद्ध तरीके से होली बाद शुरू हो जाएंगी। पश्चिमी उत्तर प्रदेश से इन संयुक्त रैलियों की शुरूआत नवरात्र के पवित्र दिनों में होगी। यह जानकारी समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने दी। उन्होंने कहा कि पहली संयुक्त रैली सात अप्रैल 2019 को देवबंद में होगी जिसको बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्षा मायावती, समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एवं राष्ट्रीय लोक दल के अध्यक्ष अजीत सिंह सम्बोधित करेंगे। इस तरह की रैलियां पूरे सूबे में होंगी जिसमें गठबंधन के नेता संयुक्त रूप से मंच साझा करेंगे।

राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि भाजपा राज में जीएसटी, नोटबंदी के चलते कुटीर उद्योग धंधे बंद हो गए है। बड़ी संख्या में नौजवान बेरोजगार हो गए हैं। उनका भविष्य अंधकारमय है। किसान बदहाली की जिंदगी जी रहा है। उसको फसल का लागत मूल्य भी नहीं मिल रहा है। गन्ना किसान बकाये की आस में सांसे गिन रहा है। कानून व्यवस्था की स्थिति बद से बदतर होती जा रही हैं। महिलाएं असुरक्षा की शिकार हैं।

उन्होंने कहा कि बड़ी विडम्बना है कि भाजपा का किसानों और खेती से ज्यादा ताल्लुक नहीं रहा फिर भी वे गांवों की बात करते हैं। भाजपा के एजेण्डा में कभी खेत और किसान भी नहीं रहा है। भाजपा राज में कृषि क्षेत्र में कोई निवेश भी नहीं हुआ है। उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव किसानों और गांव से जुड़े हुए हैं। समाजवादी सरकार में 75 प्रतिशत बजट गांव-खेती और किसान को आवंटित था। भाजपा ने कृषि की पूर्णतया उपेक्षा की तभी भाजपा के राज में 50 हजार से ज्यादा किसानों को आत्महत्या करनी पड़ी।

सपा के राष्ट्रीय सचिव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के गठबंधन से राजनीति में एक नई लहर पैदा हुई है। अखिलश यादव का मानना है कि विचारधारा पर आधारित इस गठबंधन के प्रति जनता में बढ़ते रूझान से भाजपा खेमे में घबराहट और बौखलाहट है। इसी के कारण भाजपा नेता उल्टी-सीधी बयानबाजी कर रहे हैं। लेकिन जनता अब उनके बहकावे में आने वाली नहीं है। उसे भाजपा का पूरा चरित्र मालूम हो गया है इसलिए अब 2019 के चुनावों में नया प्रधानमंत्री और नई सरकार चुनने के दृढ़ संकल्प से मतदाता को कोई भी ताकत डिगा नहीं सकती है।   http://www.satyodaya.com

लखनऊ लाइव

मंत्री से मजिस्ट्रेट तक लगाई गुहार, नर्सिंग कर्मियों की नहीं सुनी जा रही पुकार

Published

on

लखनऊ। प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में तैनात आउटसोर्सिंग नर्सिंग महिला कर्मचारियों को नौकरी से निकाले जाने के बाद वो सड़क पर आ चुकी हैं। पिछले कई महीनों से मंत्री, अधिकारियों के दफ्तर का चक्कर लगा रही लेकिन उनकी पुकार को कोई सुनने को तैयार नहीं है। यही नहीं अपनी मांग को लेकर कई बार धरना भी दे चुकी हैं बावजूद इसके सरकार की नज़र इनपर नहीं जा रही है। अब संविदा बेस पर तैनात महिला नर्सिंग कर्मियों ने सरकार को चेतावनी दे दी है। हम लागातर गांधी प्रतिमा पर धरने पर बैठे रहेंगे। बावजूद सरकार हम सभी की मांगो पर अमल नहीं की तो यही आत्यदाह करने के बाध्य होंगे।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस समेत अन्य दलों के नेता भाजपा में हुए शामिल…

पूरा मामला आउटसोर्सिंग महिला नर्स कर्मियों का है जिन्हें सरकार द्वारा मंजूरी के बाद प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में नर्स के रुप में तैनात किया गया था। लेकिन अस्पतालों से सम्बन्धित अधिकारी बिना नोटिस दिये इन लोगों को नौकरी से निकाल दिया गया हैं और ये लोग सड़कों पर भटक रही हैं। अपनी मांगों को लेकर एसीएम प्रथम को ज्ञापन सौंपा इसके साथ ही मांग की है कि हम सभी को नौकरी पर तैनात किया जाए। साथ ही जितने महीने के पैसे बाकी हैं उसे भुगतान किया जाए।

वहीं राजधानी स्थित गांधी प्रतिमा पर प्रदर्शन कर रही महिला नर्सिंग कर्मियों का कहना है कि पहले तो सरकार ने ये कहकर हम सभी को संविदा पर रखा कि नर्स के पद पर जब तक स्थायी नियुक्त नहीं हो जाती तब तक आप सभी ऐसे ही तैनात रहेेगें। लेकिन सरकार ने न ही स्थायी की नियुक्त की। अब तो हम सभी को बिना नोटिस दिये ही नौकरी से निकाल दिया गया और तो और बचे महीनों का पैसा भी नहीं दिया गया है। वहीं सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि हम सभी ऐसे ही धरने पर बैठे रहेंगे बावजूद सरकार हम सभी की मांगों पर अमल नहीं की तो हम सभी आत्यदाह करने से बाध्य होंगे। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

अपनी मांगों को लेकर अधीनस्थ कृषि सेवा संघ निकालेगा पैदल मार्च

Published

on

फाइल फोटो:

लखनऊ। कृषि विभाग के प्राविधिक अपने उत्पीड़न के विरोध एवं नौ सूत्रीय मांगों के समर्थन में 22 अगस्त को कृषि भवन मुख्यालय पर घेराव कर मुख्यमंत्री आवास तक पैदल मार्च निकालेंगे। इसके साथ ही अपनी समस्याओं के समाधान की मांग करेंगे।

बता दें, इसके पहले कृषि भवन लखनऊ पर 25 जुलाई एवं प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों पर 31 जुलाई को धरना प्रदर्शन कर जिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम नौ सूत्रीय मांग पत्र का ज्ञापन भेजा जा चुका है।

संगठन के महामंत्री अम्बा प्रकाश शर्मा ने बताया कि उनकी मांगों पर कोई कार्यवाही नहीं हो रही है। उन्होंने मांग रखी थी कि अनीति पूर्वक एवं अव्यवहारिक तरीके से किए गए स्थानान्तरणों को रद्द किया जाए, बीमार बिकलांग एवं दाम्पत्य नीति के क्रम में नीति का पालन किया जाए, लंबे समय से लंबित वेतन विसंगति, मृतक आश्रितों की तैनाती, रिक्त पदों पर पदोन्नति, वर्ग-1 को राजपत्रित एवं अवशेष बीज को लेकर शोषण एवं कृषि महानिदेशक के पद पर आई.ए.एस. की तैनाती किए जाने सहित किसी भी मांग पर अब तक ध्यान दिया गया है।

ये भी पढ़ें: …जानिए आखिर क्यों मांग रहा पुर्तगाल बकरियों से मदद?

प्रदेश अध्यक्ष राधारमण मिश्र ने बताया कि 30 जुलाई को शासन में विशेष सचिव से हुई वार्ता के बाद भी अभी तक कोई सकारात्मक परिणाम नहीं निकला है। जिससे मजबूर होकर अब पदयात्रा निकाल कर मुख्यमंत्री तक अपनी समस्याओं को पहुंचाने के अलावा कोई रास्ता नहीं है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

जन्माष्टमी व मोहर्रम को लेकर एसएसपी ने कई थानों पर की बैठक…

Published

on

लखनऊ। राजधानी में मंगलवार को एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा तहसील दिवस के अवसर पर आगामी जन्माष्टमी और मोहर्रम आदि त्योहारों को लेकर थाना मोहनलालगंज, निगोहा, नगराम, गोसाईगंज पर बैठक की। इसके साथ ही आलाधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिए।

एसएसपी ने थाना मोहनलालगंज पर जनसुनवाई करते हुए संबंधित अधिकारियों व कर्मचारियों को त्वरित गति से समस्याओं के निस्तारण हेतु कड़े निर्देश देते हुए आगामी त्योहार मोहर्रम और कृष्ण जन्माष्टमी के अवसर पर तैयारियों हेतु निर्देशित किया। थाना मोहनलालगंज के अतिरिक्त निगोहा, नगराम व थाना गोसाईगंज पहुंच कर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने उक्त सभी थानों को आगामी त्यौहार के संबंध में उनकी तैयारियों का जायजा लेते हुए संबंधित को कड़े निर्देश दिए।

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के नवनियुक्त पदाधिकारियों ने ली शपथ

साथ ही जनसुनवाई के सम्बन्ध में एसएसपी ने उक्त सभी थानों को गंभीरता से त्वरित निस्तारण हेतु निर्देशित किया एवं आईजीआरएस, सीएम हेल्पलाइन पर विशेष जोर देते हुए सम्बंधित को निर्देशित किया। थाने की उच्च कोटि व बेहतर साफ सफाई व्यवस्था बनाये रखने हेतु संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। आगामी मोहर्रम को देखते हुए एसएसपी ने सभी चौकी प्रभारियों को अपने-अपने चौकी क्षेत्रो के अंतर्गत सभी सिपाहियों के साथ मीटिंग कर संवेदनशील और अतिसंवेदनशील स्थानों को चिन्हित करने हेतु निर्देशित किया।

इसी क्रम में जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने तहसील दिवस की कार्यवाही के दौरान सभी आलाधिकारियों को निर्देश दिशा-निर्देश दिए और कहा कि पिछले तहसील दिवस में जिन शिकायतों के निस्तारण हुये हैं, उसमें से 50 प्रकरणों को छाटकर उनके निस्तारण आख्या की जांच कर अधिकारियों को उपलब्ध कराया गया है। वहीं डीएम ने निर्देश दिया कि प्रकरण के निस्तारण की गुणवत्ता की जांच कर अपनी रिपोर्ट तहसील दिवस में उपलब्ध कराएंगे। साथ ही निर्देश दिया कि यह सत्यापन की प्रक्रिया आगामी सभी तहसील दिवसो में चलाई जाएगी। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 20, 2019, 6:12 pm
Fog
Fog
27°C
real feel: 34°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 94%
wind speed: 1 m/s WNW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:10 am
sunset: 6:09 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 9 other subscribers

Trending