Connect with us

प्रदेश

लखनऊ कैंट, गंगोह व बलहा सीट पर भाजपा का कब्जा, रामपुर में आजम का जलवा कायम

Published

on

लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानसभा की 11 सीटों पर 21 अक्टूबर को हुए उपचुनावों की मतणना जारी है। दोपहर 1 बजे तक हुई मतगणना के अनुसार लखनऊ कैंट से भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी सुरेश चन्द्र तिवारी सबसे आगे चल रहे हैं। अब तक की मतगणना में भाजपा प्रत्याशी सुरेश चन्द्र 56,153 वोटों के साथ सबसे आगे हैं। जबकि समाजवादी पार्टी के मेजर आशीष चतुर्वेदी 20,952 वोटों के साथ दूसरे नंबर पर, कांग्रेस प्रत्याशी दिलप्रीत सिंह डीपी 19,283 वोटों के साथ तीसरे नंबर पर और बहुजन समाज पार्टी के अरुण द्विवेदी 10,561 वोटों के साथ चौथे नंबर पर हैं।

बहराइच की बलहा विधानसभा सीट (सुरक्षित ) विधानसभा पर भाजपा की सरोज सोनकर ने जीत दर्ज कर की है। भाजपा प्रत्याशी को कुल 89,627 मत मिले हैं। सरोज सोनकर ने सपा प्रत्याशी किरण भारती को 46,481 मतों से हराया है। किरण भारती को कुल 43,146 वोट मिले। वहीं बसपा प्रत्याशी को कुल 31,633 वोट मिले।

बसपा यहां 31,633 वोटों के साथ तीसरे नंबर पर रही। जबकि कांग्रेस प्रत्याशी मन्नू देवी को सबसे कम 1,350 वोट मिले। कांग्रेस प्रत्याशी की जमानत जब्त हो गयी। बलहा विधानसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी पहले राउंड की मतगणना से ही आगे रही। कुल 30 राउंट की मतणना में सरोज सोनकर ने भारी मतों से जीत दर्ज की।

सपा नेता आजम खां के सांसद बनने के बाद रिक्त हुई रामपुर विधानसभा सीट से आजम की पत्नी व सपा प्रत्याशी तंजीन फात्मा ने जीत दर्ज की है। तंजीन फात्मा ने भाजपा प्रत्याशी भारत भूषण गुप्ता को 7589 मतों से हराया। तंजीन फात्मा को कुल 78815 जबकि भारत भूषण को कुल 71226 वोट मिले। आजम के गढ़ में कांग्रेस और बसपा प्रत्याशी अपनी जमानत भी नहीं बचा सके। रामपुर सीट से चुनाव मैदान में उतरे कांग्रेस के अरशद अली गुड्डू को 4,159 जबकि बसपा प्रत्याशी जुबैर मसूद खान को कुल 3435 मत मिले।

गंगोह सीट पर भाजपा के चौधरी कीरत सिंह ने जीत दर्ज की है। कीरत सिंह ने कांग्रेस के नोमान मसूद को 5362 वोटों से हराया है।

यह भी पढ़ें-हरियाणा: अमित शाह की फटकार के बाद BJP अध्यक्ष सुभाष बराला ने दिया इस्तीफा…

बता दें कि 21 अक्टूबर को यूपी की 11 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव हुआ था। जिनमें लखनऊ कैंट, रामपुर, सहारनपुर की गंगोह और बहराइच की बलहा विधानसीट के साथ ही अलीगढ़ की इगलास, कानपुर नगर की गोविन्दनगर, प्रतापगढ़, बाराबंकी की जैदपुर, अम्बेडकर नगर की जलालपुर, चित्रकूट की मानिकपुर और मऊ की घोसी विधानसभा सीट शामिल हैं।

फिलहाल अन्य सीटों पर अभी मतगणना जारी है। दोपहर तक के रुझानों में इगलास सीट पर भाजपा प्रत्याशी बढ़त बनाए हुए है। कानपुर की गोविंदनगर सीट पर भी बीजेपी जीत की ओर बढ़ रही है। प्रतापगढ़ में अपना दल का प्रत्याशी बढ़त बनाए हुए है। जैदपुर में सपा और भाजपा प्रत्याशी के बीच कांटे की टक्कर चल रही है। जलालपुर विधानसभा सीट पर बसपा व भाजपा प्रत्याशी आगे चल रहे हैं। जबकि घोसी सीट पर भाजपा प्रत्याशी को निर्दलीय प्रत्याशी कड़ी टक्कर दे रहे हैं। हालांकि यहां भी भाजपा जीत की ओर बढ़ रही है।

प्रदेश

सीएम योगी ने नीति आयोग के उपाध्यक्ष से मुलाकात कर कई मुद्दों पर की चर्चा…

Published

on

नीति आयोग

फाइल फोटो

लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सीएम आवास पर नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार से मुलाकात की है। इस मुलाकात के दौरान सीएम योगी ने कई मुद्दों पर चर्चा भी की है।

सीएम योगी ने नीति आयोग के उपाध्यक्ष संग सारनाथ में पर्यटन, प्रदेश में औद्योगिक निवेश, बुंदेलखंड जल आपूर्ति योजना, पुराने कुओं व तालाबों का पुनर्निर्माण, वर्षा जल का संरक्षण, ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार के लिए मनरेगा की मदद लेना और प्रदेश में 14 नए मेडिकल कॉलेजों के प्रस्ताव केंद्र को भेजने पर चर्चा की है।

ये भी पढ़ें:आजादी की लड़ाई का साक्षी है लखनऊ विश्वविद्यालय, हॉस्टलों के रखे गए ये नाम….

इतना ही नहीं सीएम योगी ने प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में डॉक्टरों की कमी पर भी बात की। इसके अलावा, योगी ने बताया कि प्रदेश में करीब एक करोड़ 18 लाख लोगों को आयुष्मान योजना का लाभ मिल रहा है। वहीं, मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का 10 लाख और लोगों को भी लाभ मिलेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

अब कानपुर में भी दौड़ेगी मेट्रो, शहरवासियों का इंतजार होगा खत्म

Published

on

लखनऊ: सूबे के मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी आज उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में मेट्रो का शिलान्यास करने जा रहे हैं, जिसके लिए उनकी सुरक्षा के मद्देनजर विशेष इंतजाम किये गये हैं। बताया जा रहा है कि ड्रोन से भी निगरानी रखी जाएगी।

सुरक्षा के मद्देनजर भारी पुलिस बल तैनात

मिली जानकारी के मुताबिक डेढ़ हजार जवानों को सुरक्षा में तैनात किया गया है। आईआईटी परिसर के आसपास के घरों की छतों पर भी पुलिस के जवान मुस्तैद रहेंगे। आईजी मोहित अग्रवाल ने बताया कि मुख्यमंत्री का डेढ़ घंटे(दोपहर एक से ढाई बजे तक) का कार्यक्रम है। सुरक्षा व्यवस्था में 15 सीओ, पांच एएसपी, तीन आईपीएस, बीस इंस्पेक्टर समेत डेढ़ हजार सिपाहियों के साथ एक कंपनी पीएसी भी रहेगी।

कानपुर में दौड़ेगी मेट्रो

आईआईटी के आसपास बगैर वर्दी भी पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। एलआईयू भी सक्रिय रहेगी। सुरक्षा व्यवस्था के संबंध में गुरुवार को आईआईटी में बैठक हुई। बैठक में डीएम विजय विश्वास पंत, एडीजी प्रेम प्रकाश, आईजी मोहित अग्रवाल, एसएसपी अनंत देव, एसपी पश्चिम अनिल कुमार प्रमुख रूप से मौजूद रहे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

प्रदेश

आजादी की लड़ाई का साक्षी है लखनऊ विश्वविद्यालय, हॉस्टलों के रखे गए ये नाम….

Published

on

लखनऊ विश्वविद्यालय

फाइल फोटो

लखनऊ। लखनऊ विश्वविद्यालय आजादी की लड़ाई का साक्षी है। लखनऊ विश्वविद्यालय के 100 साल पूरे होने पर प्रोफेसर इतिहास साझा कर रहे हैं। लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्रावासों से क्रांतिकारी गतिविधियों का संचालन होता था। महान क्रांतिकारी चंद्रशेखर आजाद, सुखदेव विश्वविद्यालय के मेस्टन हॉस्टल में रखकर पढ़ाई करते थे।

आजादी के पहले के मेस्टन हॉस्टल को आज तिलक हॉस्टल के नाम से जाना जाता है। आजादी के बाद विश्वविद्यालय के अंग्रेजो के नाम पर बने होस्टल के नाम को बदला दिया गया है।

विश्वविद्यालय में पहले हीवेट, मेस्टन और बटलर छात्रावास थे।आजादी के बाद इन छात्रावासों के नाम हीवेट का नाम सुभाष, मेस्टन का नाम तिलक, बटलर का नाम गोल्डन जुबली दिया गया है।

जानकारी के मुताबिक लखनऊ विश्वविद्यालय अपने 100वें साल पूरे होने जा रहा है। मगर इसका जन्म 155 साल पहले ही हो गया था। एक मई 1864 को हुसैनाबाद में कैनिंग कॉलेज की स्थापना हुई थी, जो आगे चलकर लखनऊ विश्वविद्यालय बना। हुसैनाबाद कोठी में अस्थायी स्कूल के तौर शुरू होकर यह अमीनाबाद के अमीनुद्दौला पार्क, कैसरबाग में परीखाना (वर्तमान भातखंडे संगीत सम संस्थान), लाल बारादरी होते हुए आखिर में बादशाहबाग स्थित वर्तमान परिसर तक पहुंचा है। इसी कैनिंग कॉलेज को 25 नवंबर 1920 को विश्वविद्यालय का दर्जा दिया गया और 1921 में यहां पढ़ाई की शुरुआत हो गई।

ये भी पढ़ें:पीएफ घोटाले में ट्रस्ट के सचिव पीके गुप्ता के बेटे अभिनव गुप्ता को EOW ने किया गिरफ्तार….

खान बहादुर शेख सिद्दीकी अहमद साहब की उर्दू में लिखी गई मशहूर किताब अंजुमन-ए-हिंद में कैनिंग कॉलेज की स्थापना का विस्तृत ब्योरा दिया गया है। इसके अनुसार भारत के गवर्नर जनरल लॉर्ड चार्ल्स कैनिंग की मृत्यु के बाद अवध के ताल्लुकेदारों ने उनके सम्मान में स्कूल खोलने की इच्छा जताई। इसके लिए 18 अगस्त 1862 में अवध में बैठक हुई।

22 नवंबर को ताल्लुकेदार्स की दूसरी बैठक में इस आशय की सूचना सरकार को देने पर सहमति बनी। तीसरी बैठक 7 दिसंबर 1862 को हुई, जिसमें तय किया गया कि हर ताल्लुकेदार अपने यहां की मालगुजारी (कर के रूप में प्राप्त रकम) का आधा फीसदी इस शैक्षणिक संस्था को देगा। बैठक में यह भी तय हुआ कि इसी रकम के बराबर की राशि सरकार से देने का अनुरोध किया जाएगा। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 15, 2019, 12:16 pm
Sunny
Sunny
28°C
real feel: 30°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 47%
wind speed: 1 m/s WSW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:55 am
sunset: 4:46 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending