Connect with us

शहर सियासत

राम मंदिर का मुद्दा हल करेगी कांग्रेस बीजेपी नही, कंप्यूटर बाबा

Published

on

फाइल फोटो

लखनऊ । राजधानी लखनऊ से कांग्रेस के लोकसभा प्रत्याशी आचार्य प्रमोद कृष्णम लगातार राजधानी की जनता को आकर्षित करने का प्रयास कर रहे हैं । इसी क्रम में आचार्य प्रमोद कृष्णम ने आज सैकड़ों की संख्या में साधु संतों के साथ झूलेलाल वाटिका से लेकर हजरतगंज गांधी प्रतिमा तक पदयात्रा निकाली इस यात्रा में आचार्य प्रमोद कृष्णम के साथ में कंप्यूटर बाबा और गरीब नवाज फाउंडेशन के चेयरमैन मौलाना अंसार रजा समेत सैकड़ों की संख्या में साधु – संत पैदल मार्च में सम्मिलित हुए ।

यह भी पढ़ें : बसपा सुप्रीमो मायावती कल गोंडा के बाद सीतापुर में जनसभा को करेंगी संबोधित…

इस अवसर पर आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि इस बार नफरत की हार होगी और मोहब्बत की जीत साथ ही कहा कि भारतीय जनता पार्टी के झूठे वादों से परेशान होकर साधु संतों ने कांग्रेस को समर्थन करने की बात कही है । उन्होंने कहा कि विगत 5 वर्षों में राजनाथ सिंह के बतौर सांसद कार्यकाल में किसी भी प्रकार का लखनऊ में विकास नहीं हुआ वहीं कंप्यूटर बाबा का कहना है कि इस बार आचार्य प्रमोद कृष्णम का सहयोग निस्वार्थ कर रहे हैं । हमें उम्मीद है कि कांग्रेस सरकार आई तो राम मंदिर जरूर बनाएगी । आगे बोलते हुए कंप्यूटर बाबा ने कहा कि हमें कांग्रेस पर भरोसा है बीजेपी पर नहीं हम चाहते हैं कि राजधानी लखनऊ से एक अच्छा सांसद चुनकर दिल्ली जाए । आचार्य प्रमोद कृष्णम ने कहा कि राजधानी लखनऊ में उनकी प्राथमिकता होगी यहां भाईचारे और एकता को नई दिशा दिया जाए साथ ही युवाओं के लिए रोजगार के प्रबंध किए जाएं । http://www,satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

शहर सियासत

लखनऊ में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने डीएम कार्यालय पर प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन

Published

on

कोरोना संकट से बेहाल जनता को राहत देने की मांग

लखनऊ। कोरोना संकट से उपजे हालात से बेहाल जनता को राहत दिलाने के लिए उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने आज प्रदेश भर में धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन सौपा। लखनऊ जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मुकेश सिंह चौहान के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन के बाद राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन एडीएम को सौंपा। लखनऊ में हुए धरना-प्रदर्शन में मुख्य रूप से शहर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष मुकेश सिंह चौहान, जिला कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी, पूर्व विधायक श्याम किशोर शुक्ला, पार्षद मो. हलीम, डॉ. शहजाद आलम, इस्लाम अली, आरबी सिंह, राजेंद्र शुक्ला, प्रदीप सिंह, जगदीश बाल्मीकि,

सुशील तिवारी सोनू पंडित, शाहिद अली, केके आनंद, केके शुक्ला, अशोक उपाध्याय, संजय कश्यप, संजय श्रीवास्तव, प्रभाकर मिश्रा, रंजीत कुमार, प्रदीप कनोजिया, अंकित सक्सेना, आलोक सिंह रैकवार, रईस अहमद, मो. शोएब चांद, रवि शंकर मिश्रा, आनंद सिंह, अमित मिश्रा, माता प्रसाद, अजय वर्मा, मोहम्मद शकील, एसके द्विवेदी, सुशीला शर्मा, सिद्धिश्री, आरबी हल्दिया, ज्ञान प्रकाश सहित सैंकड़ों की संख्या में जिला एवं शहर कांग्रेस के कांग्रेसजन मौजूद रहे।

ज्ञापन में मांग

  • प्रदेश में संचालित यूपी बोर्ड, सीबीएसई बोर्ड, आईसीएसई बोर्ड एवं अन्य बोर्डों के छात्रों की विगत 4 माह की फीस माफ की जाये।
  • इन शिक्षण संस्थानों में कार्यरत मान्यता, गैर मान्यता प्राप्त शिक्षकों एवं कर्मचारियों को सरकार से कम से कम 8 हजार रूपये प्रतिमाह सहायता प्रदान की जाये।
  • नए साल की पाठ्य पुस्तकों में बदलाव न किया जाये। बच्चों की ड्रेस बार-बार न बदली जाये।
  • उप्र जैसे बड़े राज्य में स्थित विभिन्न न्यायालयों में लाखों की संख्या में प्रेक्टिस कर रहे वकीलों की आमदनी इस कोविड-19 महामारी में लाकडाउन के चलते नगण्य हो गयी। ऐसे में उन्हें सरकार द्वारा कम से 10 हजार रूपये महीने के हिसाब से सहयोग राशि मानदेय के रूप में प्रदान की जाये।
  • मध्यम वर्ग के वह परिवार जिन्हें न तो प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिला है न ही सरकार की अन्य पेंशन आदि योजनाओं का लाभ मिला है और उनकी वार्षिक आमदनी दो लाख रूपये से कम है ऐसे लोग जिन्होने मकान, वाहन या अन्य बुनियादी जरूरतों के लिए लोन ले रखा है उनकी 4 मीने की ईएमआई या मनरेगा मजदूरों के मानदेय के बराबर 20 हजार रूपये तक की रकम माफ करके उनको इस कोविड-19 महामारी में आयी बेकारी से सरकार द्वारा राहत दिलाई जाये।

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर हुआ धरना प्रदर्शन

बता दें कि कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के निर्देश पर आज पूरे प्रदेश में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जिला मुख्यालयों पर प्रदर्शन कर राज्यपाल को संबोधित ज्ञापन सौंपा। प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पिछले 4 महीने से देश में वैश्विक महामारी कोविड-19 से बुरे हालात हैं। मार्च के आखिरी सप्ताह में हुए लाॅकडाउन ने लाखों लोगों की नौकरियां छीन ली हैं, जबकि कारोबार चौपट हो गए हैं।

यह भी पढ़ें-कोरोना के ‘खूनी पंजे’ में लखनऊ, 24 घण्टे में मिले 707 नए मरीज, 13 की मौत

ऐसे में मध्यम आय वर्ग के लाखों अभिभावक अपने बच्चों की स्कूल फीस नहीं भर पा रहे हैं। अदालतों में कार्य बंद होने से प्रदेश के लाखों वकीलों के सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है। कांग्रेस की मांग है कि प्रदेश सरकार जनता के लिए विशेष राहत पैकेज का ऐलान करे।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों का पर्दाफाश करें कार्यकर्ता: अखिलेश यादव

Published

on

पीड़ित, दुःखी तथा असहाय लोगों की मदद करने की भी अपील

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों का आव्हान किया है कि वे राज्य और केन्द्र की भाजपा सरकारों की अक्षम्य गलतियों तथा जनविरोधी नीतियों का जन-जन के बीच जाकर पर्दाफाश करें और पीड़ित, दुःखी तथा असहाय लोगों की यथासम्भव मदद करें।

अखिलेश यादव ने पार्टी मुख्यालय में समाजवादी पार्टी का आव्हान अपील जारी करते हुए ये बातें कही। उन्होंने कहा कि किसान लुट रहा है, मजदूर भूखों मर रहा है, बेरोजगारी सुरसा की तरह आकार बढ़ाती जा रही है, नौकरी के नाम पर युवकों को धोखा दिया जा रहा है, छात्र वर्ग कुंठित है। बुनकर, दस्तकार और छोटा, मझोला, बड़ा उद्यमी किसानों की तरह आत्महत्या करने को विवश है। देश की सीमाएं सिकुड़ रही हैं।

यह भी पढ़ें :- चोरों ने पराग एटीएम का शटर तोड़ नगदी की पार

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने सत्ता में आने के बाद जनहित का कोई उल्लेखनीय कार्य नहीं किया है। जनता अपने साथ हुए विश्वासघात को भूल नहीं सकती है। इसलिए हमारा मुख्य लक्ष्य उत्तर प्रदेश में कुशासन का पर्याय बन गई भाजपा सरकार को 2022 के चुनावों में सत्ता से बेदखल करना है। उन्होंने कहा कि भाजपा की केन्द्र सरकार ने देश को आर्थिक अराजकता, मंदी, अपराध और लोकतंत्र के अवमूल्यन की दिशा में ढकेला है। साजिश और अफवाह, यही भाजपा के हथियार है। उन्होंने कहा भाजपा की एकाधिकारी प्रवृत्ति की आशंका प्रबल होती दिखती है।

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आज के दिन ही देश में लोकतंत्र को तानाशाही का शिकार बनाया गया था। जब उसके विरोध में जनता उठी तो दूसरी आजादी की रक्षा हो सकी। आज फिर वैसी संक्रमण कालीन स्थिति बन रही है। किसान के विरूद्ध गहरी साजिश के तहत कारपोरेट पूंजीवाद को बढ़ावा दिया जा रहा है। संवैधानिक संस्थाओं को कमजोर किया जा रहा है। साम्प्रदायिकता और जातियों के बीच नफरत लोकतंत्र को कमजोर करती है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

शहर सियासत

यूपी सरकार की तानाशाही रवैया गरीबों की मदद करने से नही रोक सकती- अजय लल्लू

Published

on

कहा- मैं श्रमिकों के लिए हजार बार जेल जाने को तैयार हूँ

लखनऊ। जेल से रिहा होने के बाद कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू ने कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस वार्ता करते हुए कहा, कि मैं श्रमिकों के लिए हजार बार जेल जाने को तैयार हूँ। योगी आदित्यनाथ की तानाशाही हमें गरीबों की सेवा करने से नहीं रोक सकती। मैं खुद मजदूर रहा हूँ इसलिए मजदूर भाई बहन का दर्द समझता हूँ। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की गरीब विरोधी मानसिकता साफ हो गई है। मजदूरों की सेवा करने उन्हें सुरक्षित लाने की पहल करने पर जेल भेजा जाता है। फर्जी मुकदमें भी दर्ज किए जाते हैं। लेकिन भाजपा देश विरोधी गरीब मजदूर विरोधी नीतियों और तानाशाही के दम पर हमारा सेवा कार्य नहीं रोक सकती।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू को 20 मई को जेल भेज दिया गया था 17 जून को शाम को अजय कुमार लल्लू की रिहाई हुई। जेल से रिहा होने के बाद अजय लल्लू हजरतगंज स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, बाबा साहेब भीमराव अंबेडकर और लौह पुरुष सरदार पटेल की प्रतिमा पर पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की थी। अजय लल्लू ने कहा कि उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी की एकजुटता सीमा पर लड़ रहे जवानों के साथ है। उन्होंने सवाल उठाते कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 36 घंटे से चुप क्यों हैं। देश जानना चाहता है कि आखिर किसके आदेश पर हमारे देश के जवानों की यूनिट को निहत्थे भेजा गया था। प्रदेश अध्यक्ष ने शहीद हुए जवानों के परिवारों के प्रति अपनी शोक संवेदना भी प्रकट की।

इसे भी पढ़ें-भारत-चीन हिंसक झड़प पर दुनियाभर की नजर, अमेरिका व रूस ने जताई चिंता

अजय लल्लू ने कहा कि हमारी राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने पैदल चल रहे प्रवासी श्रमिकों के लिए बसें चलाने की अनुमति मांगी थी। लेकिन सरकार ने अपनी गरीब विरोधी मानसिकता का परिचय देते हुए मजदूरों की सेवा में लगे हमारे नेताओं के ऊपर फर्जी मुकदमा दर्ज कर दिया और मुझे जेल भेज दिया गया। लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार भूल गई है कि हम अंग्रेजों से लड़े हैं और आप जैसे तानाशाह गरीब विरोधी और अंहकारी हमें मानवता की सेवा करने से नहीं रोक पाएंगे। अजय लल्लू ने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार नहीं चाहती गरीबों को राहत मिल पाए। उन्होंने कहा मैं मजदूर रहा हूँ मैंने खुद मजदूरी की है मैं श्रमिकों का दर्द समझता हूँ और उनके पैरों के छालों का दर्द महसूस कर सकता हूँ मैं उनकी भूख को समझ सकता हूँ उनके हर दर्द से मैं वाकिफ हूँ। प्रदेश के मुख्यमंत्री कान खोल कर सुन ले मैं अपने श्रमिक भाई बहनों के लिए सौ बार जेल जाने को भी तैयार हूँ।

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि प्रदेश की कायर और विरोधी सरकार ने मुझे 27 दिनों तक जेल में रखा। मुझे अपने वकील से नहीं मिलने दिया। मुझे इस बात की परवाह नहीं है मुझे सिर्फ इस बात की फिक्र थी कि सड़कों पर हजारों की तादात में लोग पैदल चल रहे होंगे मुझे इस बात की चिंता थी लोगों तक खाना कैसे पहुंच रहा होगा और जो लोग प्रदेश में उनकी मदद कैसे हो रही होगी। उन्होंने कहा कि मुझे अपने एक एक कांग्रेसी कार्यकर्ता और नेताओं पर बहुत गर्व है। मेरे बहादुर साथियों ने सेवा के सत्याग्रह को रुकने नहीं दिया। उन्होंने कहा कि मैं तमाम कांग्रेस जनों और प्रदेश की इंसाफ पसंद आवाम से कहना चाहता हूँ कि इस सत्य की लड़ाई में आपने हमारा साथ दिया।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

August 15, 2020, 3:46 am
Thunderstorms
Thunderstorms
28°C
real feel: 33°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 90%
wind speed: 1 m/s ENE
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 5:08 am
sunset: 6:13 pm
 

Recent Posts

Trending