Connect with us

लखनऊ लाइव

गृहमंत्री पर पुष्पवर्षा कराने वाले संजय गुप्ता कुछ दिनों पहले थे भाजपा से नाराज, जानें क्यों…

Published

on

राजधानी के व्यापारियों में पुष्पवर्षा कर किया गृहमंत्री का स्वागत

लखनऊ। राजधानी के व्यापारियों ने लोकसभा प्रत्याशी राजनाथ सिंह का नामांकन जुलूस के दौरान स्वागत किया एवं उन्हें शुभकामनाएं दी। आदर्श व्यापार मंडल की ओर से हजरतगंज में लगाया गया था, स्वागत पंडाल राजनाथ सिंह ने भी व्यापारियों पर पुष्प वर्षा कर उन्हें धन्यवाद दिया। उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के बैनर तले प्रांतीय अध्यक्ष संजय गुप्ता के नेतृत्व में राजधानी के व्यापारियों ने और आदर्श व्यापार मंडल के पदाधिकारियों ने भारतीय जनता पार्टी के लोकसभा प्रत्याशी राजनाथ सिंह का उनके नामांकन जुलुस में उनका फूल मालाओं से स्वागत किया।

आदर्श व्यापार मंडल की ओर से हजरतगंज, हलवासिया मार्केट के सामने स्वागत पंडाल लगाया गया था। जिसमें भारी संख्या में राजधानी के व्यापारी शामिल हुए, स्वागत करने वाले व्यापारियों में संगठन के कोषाध्यक्ष मोहम्मद अफजल, ट्रांस गोमती के प्रभारी मनीष पांडे, लखनऊ के अध्यक्ष हरजिंदर सिंह, ट्रांसगोमती अध्यक्ष अनिरुद्ध निगम, मुनीष भार्गव, मोहम्मद राशिद, महेश सावलानी, अशोक भाटिया, गुरवीर सिंह नारंग, बेबी नंदा, राजा मनजीत सिंह ,आशीष गुप्ता, राजा राम रावत, मोहम्मद आदिल ,कमल अरोड़ा, गिरीश गुरनानी, राजीव शुक्ला, रज्जू चौरसिया ,सुदेश चानना,अमित, पप्पू, सहित पांच सौ से अधिक व्यापारी शामिल रहें।

(फाइल वीडियो)

आज यूं भाजपा का भव्य स्वागत कर रहे आदर्श व्यापार मंडल के अध्यक्ष संजय गुप्ता कल तक भाजपा से नाराज चल रहे थें।दरअसल, कुछ दिनों पहले संजय गुप्ता भाजोया की सदस्यता ग्रहण करने पहुंचे थें।उनके साथ ही भोजपुरी स्टार निरहुआ भी कार्यक्रम में मौजूद थें।जहां निरहुआ को सदस्यता ग्रहण करा दी गयी थी।वहीं संजय गुप्ता को बैठने के लिए कुर्सी तक नहीं दी गयी थी।इस बात से नाराज संजय गुप्ता ने कार्यक्रम छोड़ दिया और बाहर आ गए।जिसके बाद से ख़बरें आने लगी कि संजय गुप्ता ने भाजपा ज्वाइन करने से इनकार कर दिया है।

यह भी पढ़ें- भाजपा पर भड़के आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष संजय गुप्ता, पार्टी ज्वाइन करने से किया इंकार

http://www.satyodaya.com

प्रदेश

संचारी रोगों व दिमागी बुखार से बचाने के लिए पूरे प्रदेश में चलेगा जागरूकता अभियान

Published

on

01 जुलाई से 31 जुलाई तक पूरे माह गांव-गांव तक चलाया जायेगा

लखनऊ। प्रदेश के सभी 75 जनपदों में 1 जुलाई से संचारी रोग नियंत्रण जबकि 18 जनपदों में दिमागी बुखार के प्रति जागरूकता के लिए दस्तक अभियान चलाया जायेगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अभियान के शुभारंभ की जानकारी देते हुए ट्वीटर पर प्रदेश की जनता से इसमें सहयोगी की अपील की है। सीएम योगी ने अपने ट्वीट में कहा, हर बच्चे का जीवन हमारे लिए बहुत अनमोल है, उसके बेहतर स्वास्थ्य के लिए हम सभी लोग सजग हों, जागरूक हों और संचारी रोग नियंत्रण के इस पूरे अभियान में हम सब सहभागी हों। सीएम योगी ने एक के बाद एक तीन ट्वीट में कहा, प्रति वर्ष जुलाई से अक्टूबर माह के बीच विभिन्न प्रकार की विषाणु जनित बीमारियों का पूर्वी उ.प्र. में प्रकोप बढ़ जाता है।

विगत 2 वर्षों में हमारी सरकार द्वारा संचारी रोगों के नियंत्रण और उन्मूलन के लिए प्रभावी कार्यक्रमों को योजनाबद्ध ढंग से लागू किया गया है। इस जन आंदोलन का ही परिणाम था कि 33 प्रतिशत कमी इन रोगों में देखने को मिली है। अगर हम सभी जागरूक होकर इन सभी प्रकार के संचारी रोगों के नियंत्रण में छोटे-छोटे प्रयास जैसे स्वच्छता, जलजमाव न होने देना, बासी भोजन न खाना और दूषित जल का सेवन न करना, करें तो इस बीमारी को पूरी तरह रोका जा सकता है।
मिशन निदेशक राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन पंकज कुमार ने बताया कि इन बीमारियों से निपटने के लिए इस बार प्रदेश व्यापी तैयारियां की गयी हैं।

यह भी पढ़ें-…और जब मृतक ने मनाया अपना 25वां पुनर्जन्म दिन

पूरे प्रदेश में एक साथ यह अभियान प्रारम्भ किया जाएगा। पंकज कुमार ने बताया कि इस बार दिमागी बुखार के मामलों के लिए 18 जनपदों को संवेदनशील चिन्हित किया गया है। जिनमें गोरखपुर, देवरिया, महराजगंज, कुशीनगर, सिद्धार्थनगर, संतकबीरनगर, बस्ती, लखनऊ, हरदोई, लखीमपुर खीरी, रायबरेली, सीतापुर, उन्नाव, गोंडा, बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर एवं बाराबंकी शामिल हैं। इन जनपदों में दरवाजे-दरवाजे पर दस्तक देकर जनता को दिमागी बुखार के प्रति जागरूक किया जायेगा। मिशन निदेशक ने अवगत कराया है कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के साथ अन्य विभागों द्वारा भी सहयोग किया जायेगा। जिसके लिए प्रदेश के मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय द्वारा विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों को व्यापक निर्देश दे दिए गए हैं।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

…और जब मृतक ने मनाया अपना 25वां पुनर्जन्म दिन

Published

on

लखनऊ। कोई इंसान मरकर जिंदा हो जाये… ऐसा सिर्फ कहानियों में ही हुआ करता था। लेकिन हकीकत यही है कि ऐसा वाक्या आजमगढ़ के लाल बिहारी के साथ घटित हुआ है। जिन्हें प्रशासन ने मृत घोषित कर दिया था। लाल बिहारी को खुद के जिंदा होने को साबित करने के लिए लम्बी लड़ाई लड़नी पड़ी। यह दिलचस्प सच्ची कहानी एक बार फिर से तब जीवित हो उठी जब मृतक लाल बिहारी ने अपना 25वां पुनर्जन्म दिन मनाया। इस मौके पर बाकायदा मृतक ने खुद अपने जन्मदिन का केक काट कर लोगों को अपने हाथ से खुद खिलाया। इस मौके पर मुख्य अतिथिगण के रूप में निर्देशक, निर्माता व अभिनेता सतीश कौशिक (लाल बिहारी मृतक पर आधारित ’कागज’ फिल्म के निर्देशक), मृतक संघ के अधिवक्ता कृष्ण कन्हैया पाल व राज करन यादव, साहित्यकार शिवमूर्ति पाल सहित कई अन्य लोग मौजूद रहे।

मृतक लाल बिहारी पर आधारित फिल्म ’कागज’ का निर्देशन कर रहे निर्माता-निर्देशक व अभिनेता सतीश कौशिक ने कहा कि सबसे पहले मैं लाल बिहारी को उनके पुनर्जन्म दिवस की बधाई देता हूं। हम लोग एक अच्छी स्टोरी बड़े लोगों की जिदगी में तलाशते हैं। कई बार वो हमें आम आदमी की जिदगी में मिल जाती है।

यह भी पढ़ें-मांगें पूरी न होने से सफाई कर्मचारियों में रोष, सरकार के खिलाफ खोलेंगे मोर्चा

मेरे लिये लाल बिहारी मृतक किसी सुपरमैन से कम नहीं हैं। लाल बिहारी मृतक पर आधारित हमारी फिल्म कागज की शूटिंग सम्पन्न हो चुकी है। जिसमें लाल बिहारी मृतक की भूमिका अभिनेता पंकज त्रिपाठी ने निभाई है। जिसमें उनका साथ दिया है मोनल गज्जर ने। कागज की शूटिंग लखनऊ व सीतापुर में की गई है। लालबिहारी ने कहा कि खुद के साथ जीवित मृतकों और धोखाधड़ी से पीड़ितों की लड़ाई लड़कर उनकी हड़पी जमीन व मकानों को वापस दिलाकर सामाजिक न्याय, मानव अधिकारों की रक्षा, जीविकोपार्जन, जीवन रक्षा, संविधान व न्यायालय के सम्मान में मृतक संघ कार्य कर रहा है, जो आगे भी जारी रहेगा।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लखनऊ लाइव

मांगें पूरी न होने से सफाई कर्मचारियों में रोष, सरकार के खिलाफ खोलेंगे मोर्चा

Published

on

लखनऊ। पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी लम्बे अरसे से अपनी मांगों की प्रतिपूर्ति न होने से नाराज है। पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारियों ने रविवार को प्रान्तीय बैठक कर सरकार को एक महीने का अल्टीमेटम दिया है। प्रदेश अध्यक्ष क्रांति सिंह के नेतृत्व में आयोजित बैठक में कर्मचारियों ने निर्णय लिया कि अगस्त माह में सड़क से सदन तक प्रदेश का सफाई कर्मचारी आन्दोलन को बाध्य होगा। इस आन्दोलन की घोषणा जुलाई के अंतिम सप्ताह में कर दी जाएगी।
उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ की पूर्व प्रस्तावित प्रदेश स्तरीय एक महत्तवपूर्ण बैठक का आयोजन (एकता सदन) लोक निर्माण विभाग में किया गया। बैठक की अध्यक्षता संघ के प्रदेश अध्यक्ष क्रान्तिसिंह व संचालन महामंत्री बसंतलाल गौतम ने किया जिसमें उन्होंने कहा कि सरकार कर्मचारियों की लगातार उपेक्षा कर रही है। शासन प्रशासन स्तर पर भी सफाई कर्मचारियों के प्रमोशन की अभी तक कोई व्यवस्था नहीं की है।

यह भी पढ़ें-भाजपा बूथ कार्यकर्ताओं ने सुनी पीएम मोदी के ‘मन की बात’

जबकि कई बार प्रमोशन को लेकर कर्मचारी आंदोलनरत रहें हैं। लेकिन अभी तक प्रमोशन की कोई व्यवस्था नहीं है यहां तक 10 वर्ष की सेवा पूर्ण पर भी कई जिलों में ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को ए.सी.पी. का लाभ नहीं दिया गया। इसके अतिरिक्त का शोषण निरंतर बढ़ता जा रहा है। उक्त बैठक में समस्त जिलों से आए हुए प्रदेश प्रभारियों ने अपने-अपने विचार व्यक्त किए। बैठक उपरांत सर्व सम्मति से यह निर्णय लिया गया कि कर्मचारियों की समस्याओं के निराकरण को लेकर अगस्त माह में एक बार पुनः सड़क से सदन तक आंदोलन किया जाएगा। जिसमें प्रदेश का लाखों ग्रामीण सफाई कर्मचारी प्रतिभाग करेगा। उक्त बैठक में प्रदेश कोषाध्यक्ष डी. डी. चैहान, महिला प्रकोष्ठ की प्रदेश अध्यक्ष रागनी देवी, महामंत्री पूनम वर्मा, मुलायम सिंह, राम दरश यादव, अंकुर बरनवाल, जगत चैधरी, ओमप्रकाश पटेल, कल्लू पटेल लालजी गौतम, शिव प्रसाद, शरद कुमार पाल, राम बाबू कुशवाहा, अजय राजभर, सचिन कुमार सहित तमाम प्रदेश पदाधिकारी उपस्थित रहे। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

July 1, 2019, 10:16 am
Partly sunny
Partly sunny
33°C
real feel: 39°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 62%
wind speed: 3 m/s E
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 6
sunrise: 4:47 am
sunset: 6:34 pm
 

Recent Posts

Trending