Connect with us

शहर सियासत

नामांकन कराने कलेक्ट्रेट पहुंचे प्रसपा के प्रत्याशी, कहा- ‘खुद को राष्ट्रवादी घोषित करने के अलावा भाजपा ने नहीं किया कोई काम’

Published

on

प्रसपा के प्रत्याशियों ने साधा भाजपा पर निशाना

लखनऊ।लोकसभा चुनाव के लिए प्रत्याशियों का नामांकन कराना अभी भी जारी है।इसी क्रम में आज प्रसपा प्रत्याशी डॉ० आरके ठकुराल ने लखनऊ सीट से और मोहनलालगंज सीट से नामांकन किया।वहीं प्रसपा प्रत्याशी गणेश रावत ने भी अपना नामांकन दर्ज कराया।

कड़ी सुरक्षा के बीच कलेक्ट्रेट पहुंचकर नामांकरण कराने पहुंचे दोनों प्रत्याशियों लगभग सुबह 11 बजे के करीब अपने-अपने नाम का पर्चा भरा।मीडिया से बात करते हुए डॉ० आरके ठकुराल ने कहा कि उनके लिए चुनौती गृहमंत्री के खिलाफ चुनाव लड़ना नहीं है।उनके लिए चुनौती है अपनी आइडियोलॉजी को आम जनता तक पहुंचाना है।उन्होंने बताया कि जिस दिन लोग उनके मैनिफेस्टो को समझ जाएंगे उन्हें वोट मांगने की जरुरत ही नहीं पड़ेगी बल्कि जनता खुद उन्हें भारी मतों से विजयी बनाएगी।

यह भी पढ़ें- भाजपा ने जारी की लोकसभा प्रत्याशियों की 21वीं सूची, भोजपुरी सुपरस्टार IN तो कई सांसद OUT

वहीं प्रसपा प्रत्याशी गणेश रावत का कहना है कि स्थानीय लोगों को पता है कि किसने कितना काम किया है।मौजूदा सांसद कौशल किशोर का कहीं भी किसी विधानसभा में दिखायी नहीं दिया।यहां तक कि उनके सांसद निधि के 8 करोड़ रुपये भी वापस हो गए। क्षेत्र में न सड़क है न बिजली है।लोकसभा प्रत्याशी गणेश रावत का कहना है कि भाजपा की मानें को इस देश में उनके सिवा कोई रहता ही नहीं है।उनका बस एक ही मकसद है वो है खुद को राष्ट्रवादी घोषित करना जिसके लिए वो हर मुमकिन प्रयासों में जुटी है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

शहर सियासत

मिशन 2019: 24 साल बाद मुलायम सिंह यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती एक मंच पर, राजनीति का ऐतिहासिक पल…

Published

on

मैनपुरी। लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर करीब 24 साल बाद सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव और बसपा सुप्रीमो मायावती एक मंच पर दिखाई दिये हैं। एक जून, 1995 को गेस्‍टहाउस कांड के बाद सपा और बसपा गठबंधन टूटने के बाद दोनों दिग्‍गज नेता एक साथ एक मंच पर आज दिखाई दिये। मायावती मैनपुरी सीट से सपा प्रत्‍याशी मुलायम सिंह यादव के लिए वोट मांगेंगी। इस रैली में अखिलेश यादव भी मौजूद हैं।

मुलायम सिंह यादव ने कहा कि “आदरणीय मायावती जी का स्वागत करता हूं। हम मायावती जी का सम्मान करते हैं। मुझे खुशी है कि वो हमारे समर्थन के लिए मैनपुरी में आई हैं।”

यह भी पढ़ें- योगी आदित्यनाथ ने हनुमान मंदिर में किया दर्शन-पूजन, अब इन क्षत्रों में करेंगे जनसभाएं …

इससे पहले मायावती के साथ मंच साझा करने को लेकर मुलायम सिंह यादव ने कहा, ‘हमें तो भाषण देना है। सभी नेता आ रहे हैं। हर दल के नेता हैं, कार्यक्रम है, दूसरी पार्टी के नेता हैं।’ मैनपुरी में रैलियां करने के सवाल पर मुलायम सिंह ने कहा कि ‘क्षेत्र है इससे पहले भी रैली कर चुके हैं, जनता और कार्यकर्ता ने स्वीकार कर रखा है, हमें तो जाना होगा, हमारा क्षेत्र है, बुलाया भी है।’ जीत के अंतर और सीटों की संख्या पर नेताजी ने कहा, ‘अभी तो वोट पड़ेगा,  अभी तो सीटें बंटे नहीं हैं, अभी लिस्ट जारी कहां हुई है।’

यह भी पढ़ें- BJP विधायक अशोक चंदेल को बड़ा झटका, सामूहिक हत्याकांड मामले में उच्च न्यायलय ने सुनाई उम्रकैद की सजा…

सपा मुखिया मुलायम सिंह के लिए प्रचार करने मैनपुरी पहुंची मायावती ने जनता से मुलायम सिंह को ऐतिहासिक जीत दिलाने का आग्रह किया।मुलायम सिंह के लिए वोट अपील करने के बाद गेस्ट हाउस कांड पर बोलते हुए मायावती ने कहा कि ‘देश के हालातों को देखते हुए गेस्ट हाउस काण्ड के बाद भी गठबंधन बना, कभी-कभी परिस्थितियों को देखते हुए कठिन फैसले लेने पड़ते हैं।नेता और मीडिया हमारी एकता से हैरान है’

मुलायम यादव की तारीफ करते हुए मायावती ने कहा कि मुलायम OBC समाज के सबसे बड़े नेता हैं।पीएम मोदी को नकली बताते हुए मायावती ने कहा कि मुलायम ही OBC के असली नेता हैं।भाजपा पर तंज कसते हुए बसपा सुप्रीमो ने कहा कि मोदी ने सत्ता का दुरूपयोग किया है।खुद को पिछड़ी जाति का नेता बोलने वाले मोदी ने पिछड़े वर्ग का कोई भला नहीं किया।बल्कि अगड़ी जाति को मोदी ने पिछड़ी में शामिल कराया है।

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार में बेरोजगारी बढ़ी है।जरुरत है कि जनता खुद तय करे कि असली और नकली नेता कौन है।जुमलेबाजी वाली सरकार को इस बार सत्ता से हाथ धोना ही पड़ेगा।

यह भी पढ़ें- 26/11 हमले में शहीद हेमंत करकरे पर साध्वी प्रज्ञा का विवादित बयान, बढ़ सकती हैं मुश्किलें!!

आखिरी बार चुनाव लड़ रहे सपा सुप्रीमो के लिए अखिलेश यादव ने कहा कि नेताजी आखिरी बार चुनाव लड़ रहे हैं।‘नेताजी ने विकास किया, हम लोगों को जोड़ा’, इसलिए जरुरी है कि मैनपुरी ऐतिहासिक वोटों से जिताए।

गठबंधन पर बोलते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि देश बहुत ही नाजुक दौर से गुजर रहा है। किसान भाई दुखी हैं, देश के साथ भाजपा ने धोखा किया है। नौजवानों को नौकरी नहीं मिली। यूरिया और खाद में 5 किलो की चोरी हो रही है। इस नाजुक स्थिति में जरुरी है कि सभी लोग एकजुट हो जाए। उन्होंने कहा की वो सभी मायवती का आदर करते हैं।

बताते चलें कि जहां गठबंधन मैनपूरी में ताकत झोंकता नजर आ रहा है। वहीं 72 घंटे के प्रतिबंध के बाद आज फिर से चुनावी मैदान में योगी आदित्यनाथ उतर गये हैं। हनुमान जयंती पर लखनऊ में पूजा के बाद योगी प्रचार करने के लिए संभल पहुंच चुके हैं। इसके बाद योगी आदित्यनाथ की फिरोजाबाद, इटावा में रैलियां संबोधित करेंगे और बीजेपी के लिए वोट मांगेगे। जबकि कानपुर में प्रियंका गांधी का आज रोड शो करेंगी। रोड शो से पहले प्रियंका गांधी अमेठी में कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगी। कानपुर में रोड शो के बाद प्रियंका वायनाड के लिए रवाना होंगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

अपना शहर

योगी आदित्यनाथ ने हनुमान मंदिर में किया दर्शन-पूजन, अब इन क्षत्रों में करेंगे जनसभाएं …

Published

on

लखनऊ। लोकसभा चुनाव होने के साथ ही राजनीतिक पार्टियों के नेता अपनी पार्टी के प्रचार-प्रसार में किसी भी तरह की कसर नहीं छोड़ रहे है, हर कोई नेता मतदान पाने के लिए जनता को लुभाने के प्रयास में लगा है। इसी क्रम में हनुमान जयंती के खास मौके पर आज सीएम योगी ने अलीगंज स्थित हनुमान मंदिर में जाकर हनुमान जी की पूजा अर्चना की। मंदिर के अंदर काफी बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ था। योगी से हनुमान जी के दर्शन-पूजन सकुशल तरीके से किए जिसके बाद वह चुनावी दौरे के लिए रवाना होंगे। इस चुनावी दौरे पर योगी  11:45 से 12:35 बजे तक सम्भल में, 1:10 से 2:00 बजे तक सिरसागंज व फिरोजाबाद में, 2:20 से 3:10 बजे तक इटावा और 3:35 से 4:25 बजे तक मल्लावा, मिश्रिख, हरदोई आदि क्षत्रों में अपनी जनसभाएं करेंगे।

यह भी पढ़े:  लोकसभा चुनाव 2019: सुरक्षा को लेकर एसएसपी ने दिए कड़े निर्देश, अशांति फैलाने वालों को दिया जाएगा रेड कार्ड

बता दें कि बीते कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हजरतगंज स्थित हनुमान मंदिर जाकर हनुमान जी के दर्शन किए व हनुमान चालीसा का पाठ किया था। उसके कुछ दिन बाद मोहान रोड स्थित बालिका कॉलेज की छात्राओं से मुलाकात भी की थी। छात्राओं से मुलकात के तुरंत बाद ही योगी ने अयोध्या जाकर हनुमानगढ़ी और रामलला के भी दर्शन भी किये थे।

http://www.satyodaya.com

Continue Reading

शहर सियासत

अली और बजरंगबली की शरण में आचार्य प्रमोद कृष्णम

Published

on

लखनऊ। कांग्रेस के टिकट पर लखनऊ लोकसभा सीट से चुनावी समर में उतरे आचार्य प्रमोद कृष्णम ने लखनऊ में चुनावी जंग को दिलचस्प बना दिया है। लखनऊ सीट भाजपा का गढ. रही है। इसके पीछे वजह रही है कि यहां के हिन्दू मतदाताओं के साथ मुस्लिम समाज ने भी भाजपा पर खूब प्यार लुटाया है। भाजपा के इसी समीकरण को देखते हुए इस बार कांग्रेस ने एक हिन्दूवादी चेहरे को मैदान में उतारा है। कांग्रेस के उद्देश्य को साधने के लिए आचार्य प्रमोद कृष्णम पूरी तत्परता के साथ जुटे भी हैं। वह अली और बजरंगबली दोनों को एक साथ साधने में जुट गए हैं। गुरुवार सुबह अपना नामांकन दाखिल करने से पहले आचार्य बजरंगबली के दरबार में पहंुचे तो वहीं शाम को अली की शरण में भी जाना नहीं भूले। देर शाम कांग्रेस प्रत्याशी ने चैक स्थित शाहमीना शाह दरगाह पहुंचे और माथा टेकते हुए अपनी जीत के लिए दुआ मांगी। कई साधु-संतो ंके साथ दरगाह पहंुचे आचार्य ने वहां कुछ देर रुक कर कव्वाली सुनी और तमाम मुस्लिम समाज के लोगों से मुलाकात की। इसके बाद आचार्य सआदतगंज स्थित दरगाह हजरत अबुल फजलिल अब्बास पहंुचे और मन्नत मांगी। इसके साथ उन्होंने अपनी प्रसिद्ध नात ’अली जितने तुम्हारे हैं अली उतने हमारे हैं’ पढ़ी।

यह भी पढ़ें-हाइवे पर दहशतगर्दी, यात्रियों को बस से नीचे उतारा और गोलियों से भून डाला

आचार्य प्रमोद कृष्णम हिन्दू समाज से आते हैं ऐसे में उन्हें विश्वास है कि वह भाजपा के हिन्दुत्ववादी वोट में सेंध तो लगा ही लेंगे लेकिन अगर मुस्लिम वोट भी उन्हें मिल जाता है तो वह अपने विरोधियों को पटकनी देने में कामयाब हो सकते हैं। लखनऊ से अपनी दावेदारी के ऐलान के साथ ही आचार्य मुस्लिम मतदाताओं को साधने में जुटे हैं। इससे पहले बुधवार को उन्होंने प्रेस वार्ता कर लखनऊ में अपने प्रतिद्वंदी राजनाथ सिंह के साथ ही पूरे भाजपा नेतृत्व पर हमला बोला था। आचार्य ने कहा कि भाजपा को हिन्दुस्तान के मुसलमानों में पाकिस्तान दिखता है जबकि मुझे पाकिस्तान के मुसलमानों में भी हिन्दुस्तान दिखता है।
बता दें कि लखनऊ में इस बार मुकाबला दिलचस्प हो गया है। भाजपा से राजनाथ सिंह को टक्कर देने के लिए कांग्रेस के आचार्य के अलावां सपा-बसपा-रालोद गठबंधन ने बालीवुड अभिनेता शुत्रुघ्न सिन्हा की पत्नी पूनम सिन्हा को मैदान में उतारा है। बीते तीन दिनों से यूपी की राजधानी लखनऊ में सियासी तपिश जोरों पर है। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

April 19, 2019, 3:16 pm
Partly sunny
Partly sunny
32°C
real feel: 33°C
current pressure: 1010 mb
humidity: 29%
wind speed: 3 m/s WNW
wind gusts: 3 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:09 am
sunset: 6:02 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 7 other subscribers

Trending