Connect with us

लाइफ स्टाइल

इस वेलेंटाइन डे को बनाना है सबसे खास, तो इस तरह चुटकियों में करें प्लान  

Published

on

प्यार की हवाओं

फाइल फोटो

मुंबई। हफ्तेभर चलने वाली इन प्यार की हवाओं ने जाने कितने दिल जुड़ते हैं। सभी लवबर्ड्स 14 फरवरी यानी वेलेंटाइन डे को बड़े ही खास अंदाज में मनाते हैं। इस दिन प्यार करने वाले एक दूसरे को गिफ्ट और खूब सारा प्यार और हग देकर अपनी फीलिंग को बयां करते हैं।

कहा जाता है की प्यार करने का कोई दिन या समय नहीं होता है, लेकिन इस एक हफ्ते तक चलने वाले प्यार के मौसम में न जाने कितने लोग बीमार हो जाते हैं। उन्हें खुद भी नहीं पता चलता उन्हें प्यार हो गया है। इस वीक की शुरूआत रोज डे से होती है और वेलेंटाइन डे पर खत्म होती है। अगर आप भी चाहते है आपका वेलेंटाइन डे कुछ खास और स्पेशल हो तो सरप्राइज प्लान करें। चालिए हम आपको बताएंगे आप क्या-क्या कर सकते हैं अपने पार्टनर के लिए।

शॉपिंग

अगर आप चाहते हैं इस वेलेंटाइन डे पर आपकी जान सबसे खूबसूरत और सेक्सी लगे तो आप सबसे पहले उन्हें शॉपिंग कराएं,  उन्हें उनकी पसंद की खूबसूरत ड्रेस और ज्वैलरी दिलाएं। इससे आपके बीच की बॉन्डिंग अच्छी होगी और वह आपसे बेहद इम्प्रेस हो जाएंगी।

 प्यार की हवाओं

सरप्राइज डिनर डेट  

आप भले ही हमेशा अपने पार्टनर को टाइम न दे पाएं, लेकिन इस स्पेशल डे पर आप सरप्राइज डिनर प्लान करके उनसे अपनी सारी गलतियों के लिए माफ़ी मांग सकते हैं। इस डिनर में आप डिम लाइट, फूलों से सजी टेबल और रोज के बंच के साथ अपने स्वीटहार्ट को स्पेशल फील करा सकते हैं। आप देखिएगा वह अपनी सारी शिकायते भुलाकर आपको हग कर लेगी।

 प्यार की हवाओं

लॉन्गड्राइव

डिनर के बाद आप दोनों अकेले एक लॉन्ग ड्राइव भी प्लान कर सकते हैं। जहां चांदनी रात में बस आप और आपकी जान हो। वहीं अगर इस बीच ठंडी-ठंडी आइसक्रीम मिल जाए तो बात ही कुछ और हो। सड़कों को नापते हुए घंटों अपने दिल की बात एक दूसरे से शेयर कर सकते हैं। कहते हैं जहां सुख होता है वहां दुःख भी होता है ठीक उसी तरह अगर प्यार है तो शिकायत भी होगी। ऐसे में इस खूबसूरत से मौसम में ठंडी-ठंडी हवाओं के बीच पार्टनर से प्यार और नाराजगी के साथ अपने गुस्से और अपने प्यार को जाहिर कर सकते हैं। क्योंकि लाइफ में रोजाना टाइम नहीं मिलता अपनी बातें कहने का। इसलिए जब भी मौका मिले अपनी फीलिंग को बयां दें।

 प्यार की हवाओं

http://www.satyodaya.com

Continue Reading
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

लाइफ स्टाइल

बच्चों पर अपने सपने ना थोपें माता-पिता, दबाव में मौत को गले लगा रही मासूम जिन्दगियां…

Published

on

इस तेजी से बढ़ रही दुनिया के साथ हर इंसान आगे बढ़ना चाहता हैं। वैसे ही दुनिया के हर माता-पिता अपने बच्चे को आगे बढ़ते हुए देखना चाहते हैं लेकिन इस आगे बढ़ने के चक्कर में वे ये जानना भुल जाते है कि वाकई में उनका बच्चा क्या चाहता है और इस बात को जाने बेगैर ही वे उन पर अपने सपने थोप देते हैं। कहते है मां बाप कभी अपने बच्चों का बुरा नहीं चाहते लेकिन कभी-कभी अंजाने में माता-पिता ऐसा फैसला ले लेते है जिससे या तो बच्चों की जिन्दगी सवर जाती है या फिर हमेंशा के लिए इस दुनिया से ही चले जाते हैं। हम आए दिन आत्महत्या के विभिन्न मामले खबरों के माध्यम से सुनते हैं। किसी ना किसी वजह के चलते लोग खुद को खत्म कर लेते हैं। जब हम आत्महत्या का कोई मामला सुनते हैं तो सच में हैरानी होती है, हम यह समझ नहीं पाते कि आत्महत्या करने का यह कारण क्या वाकई सही था? क्या यह कारण इतना बड़ा था कि कोई खुद की जान ही ले ले?

यह भी पढ़: पत्रकारों से बोले कुमारस्वामी, क्या सारे नेता मीडिया को कार्टून कैरेक्टर लगते हैं?…

आत्महत्या करने का सबसे सामान्य कारण जो पाया गया है वह है ‘एक गलती’। दुनिया की नजर में वह गलती है या नहीं, छोटी गलती है या बड़ी, लेकिन जब उस गलती को करने वाला उसे बहुत बड़ा मानने लगे तो यह एक बड़ी दुर्घटना की ओर इशारा करता है। अकसर लोग कुछ ऐसी गलतियां कर बैठते हैं, जो उन्हें अंदर ही अंदर परेशान करती रहती हैं। उन्हें एक अपराधी होने का एहसास कराती हैं।

इसका एक बहुत ही कॉमन उदाहरण हम स्टूडेंट में पाते हैं। जब कड़ी मेहनत के बाद भी वे परीक्षा में फेल हो जाते हैं या फिर उनके नंबर काफी कम आते हैं तो उन्हें यह एक बड़ी ‘गलती’ लगने लगती है। तब उन्हें पल-पल अपनी गलती का डर सताता रहता है, और यही डर बढ़ता हुआ उन्हें आत्महत्या की ओर ले जाता है। लेकिन उन्हें यह समझना होगा कि ‘गलती’ सुधारी जा सकती है, लेकिन एक बार उनकी जिंदगी खत्म हुई तो वह वापस नहीं आएगी।

बच्चों को समझने की कोशिश करें

अक्सर माता-पिता बच्चों से उनकी क्षमता से अधिक अपेक्षा करते हैं। दूसरों से उनकी तुलना करते हैं। अपेक्षित परिणाम न मिलने पर ताने मारते हैं। जबकि बच्चों को उनके मुश्किल वक्त में सबसे ज्यादा जरूरत माता-पिता की होती है। अगर बच्चा चुप-चुप, अकेला और अलग-अलग रहने लगे तो उसे यूं ही न छोडें। इस संकेत को समझें और उनसे विनम्रता के साथ बात करें।

कारण

शैक्षणिक जीवन में असफलता

 लव अफेयर्स

 अभिभावकों के साथ तालमेल व समझ की कमी

 समाज के अलगाव

 दूसरों से ईष्र्या

सलाह

थोड़ा सख्त रवैया अपनाना सही है। लेकिन बच्चे के मन में अपने लिए इज्जत पैदा करें, न कि डर। बदलते वक्त के साथ आपको यह समझना होगा कि आपके बच्चों को आपके साथ की जरूरत है। अगर आप उसके बेस्ट फ्रेंड बन जाएं, तो वह कभी खुद को अकेला महसूस नहीं करेगा। आपके साथ से आपका बच्चा हर मुश्किल को पार कर सकता है।

अभिभावक पहले बच्चे की हर जिद पूरी करते हैं। जब वे बड़े होते हैं, अचानक ऐसा करना कम कर देते हैं। तब तक उसकी सहन शक्ति में कमी आ चुकी होती है। जब उनकी जिद पूरी नहीं होती वे उत्तेजित होकर ऐसे कदम उठा लेते हैं। अभिभावकों को बच्चों को समय देना होगा। साथ बैठकर परेशानियां समझनी होंगी।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लाइफ स्टाइल

बालों के झड़ने की समस्या है तो अपनाए यह आसान घरेलू नुस्खे…

Published

on

आमतौर पर आजकल सभी लोग बालों के झड़ने की समस्या से परेशान है । आज के समय में महिला हो या पुरुष हर किसी को बाल झड़ने की समस्या है । आपको बता दें कि बालों के झड़ने की मुख्य वजह है लोगों  का खान-पान, मौजूदा वक्त में बदलती जीवनशैली और तनाव के कारण लोगों के बीच बालों के झड़ने की समस्या तेजी से बढ़ी है। ऐसे में अपने बालों को किस तरह से सुरक्षित रखा जाए और कैसे उनकी देखभाल की जाए इस बात को लेकर लोगों के बीच भ्रम की स्थिति है।

कुछ लोगों से बात करने पर उन्होंने ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में बताया, जिसके इस्तेमाल से आप भी बालों की झड़ती समस्या से निजात पा सकते है:

सुहानी सिंह

नीम: आप 10-12 नीम की सूखी पत्तियां ले ले और इन पत्तियों को पानी में तब तक उबाले जब तक कि पानी आधा न रह जाए। इसके बाद पानी को ठंडा होने दें। ठंडा होने के बाद इस पानी से अपने बालों को धो लें । जब भी आप शैंपू करें इस मिश्रण से बालों को जरूर धोएं। अगर यह संभव हो  तो यह प्रक्रिया हफ़्ते में एक बार करें।

अदिति कुंवर

मेथी: आप मेथी के बीजों को पानी में डालकर रातभर के लिए छोड़ दें । सुबह इन्हीं भीगे भुए मेथी के दानों को पीसकर पेस्ट तैयार कर लें । अब इस पेस्ट को बालों की जड़ों से लेकर ऊपरी छोर तक लगाएं और शॉवर कैप से सिर को ढक लें। ऐसा करने के बाद करीब 40 मिनट बाद ठंडे पानी से अपना सिर धो लें । बाल झड़ने के इस घरेलू उपाय का आप महीने में एक या दो बार प्रयोग कर सकते हैं। यह काफी कारगर नुस्खा है ।

पूनम

प्याज का रस: आप एक प्याज लेकर उसको पीसकर उसका रस निकाल लें । अब इसमें रूई को डुबाकर, रस को बालों की जड़ों से लेकर ऊपरी छोर तक लगाएं। इसको लगाने के करीब आधे घंटे बाद अपने बालों को ठंडे पानी से धो लें और बाद में शैंपू भी करें। प्याज के रस के साथ आप दूसरी प्रक्रिया भी कर सकती है, जिसमें आप प्याज को निचोड़कर उसका जूस निकाल लें और उसमें दो चम्मच शहद को मिक्स कर ले । इस मिश्रण को अपने बालों में लगाएं और 40-50 मिनट बाद पानी से धो दें। आप इस मिश्रण को हफ्ते में एक बार अपने बालों पर लगा कर फर्क महसूस कर सकते है ।

कंचन कश्यप

एलोवेरा: आप कुछ एलोवेरा के पत्ते ले लीजिए और उन पत्तों को लेकर पेस्ट बना लें फिर इस पेस्ट को बालों को धोकर उसपर अच्छी तरह से लगाए । इसके बाद हल्के हाथों से सिर की मालिश करें । ऐसा करने के 15 मिनट बाद बालों को ठंडे पानी से धो लें। इस नुस्खे को हफ़्ते में तीन दिन आजमाए ।

नेहा कश्यप

आंवला: आप 4-5 आंवले को लेकर नारियल तेल में तब तक उबालें, जब तक कि तेल काला न हो जाए । तेल ठंडा होने के इससे सिर व बालों की मालिश करें। मालिश करने के बाद करीब 20-30 मिनट बाद शैंपू से सिर धो लें । इस प्रक्रिया को इसे हफ़्ते में दो बार बालों पर लगाया जा सकता है और आपको इससे फायदा भी मिलेगा । http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लाइफ स्टाइल

कुछ घरेलू उपाय मिनटों में टैनिंग की समस्या से दिला सकते हैं छुटकारा…

Published

on

प्रतीकात्मक चित्र

गर्मियों का मौसम आते ही मन में बस यही ख्याल आता है मस्ती मौज और ढेर सारा फन । लेकिन इसके साथ ही हमें अपनी स्किन का भी बहुत ख्याल रखना पड़ता है। सभी महिलाएं यह चाहती है कि उनकी स्किन हर मौसम में ग्लो करें और निखरी रहें। वहीं गर्मियों में तेज धूप के चलते टैनिंग की समस्या बहुत ही आम बात होती है। टैनिंग के कारण हमें त्‍वचा से जुड़ी समस्याएं जैसे – त्‍वचा पर असमान पैची लेयर, रैशेज, त्‍वचा में ढीलापन और एजिंग आदि को झेलना पड़ता है और आपकी त्‍वचा भी बेजान और थकी हुई नजर आती है। तेज धूप और लगातार चलती हवाएं न सिर्फ हमें शारीरिक रूप से निस्तेज करती है, बल्कि हमारी त्वचा को भी कुम्हला देती है। ऐसे में हमें अधिक मेलेनिन संश्‍लेषण के कारण त्‍वचा पर जमा मृत कोशिकाओं के साथ टैनिंग को दूर करने के लिए कुछ उपायों की जरूरत होती है। यदि आप कुछ घरेलू उपायों को करते है तो आप टैनिंग से जल्द से जल्द छुटकारा पा सकती है। ऐसे कुछ उपाय इस प्रकार है-

आलू: आलू एक ऐंटी टैन सब्जी माना जाता है। आप आलू को मिक्सी में पीस लें और चेहरे व माथे या जहां भी आपको टैनिंग हुई है, वहां पर लगाए ।  15 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो दें । अच्छे परिणाम पाने के लिए ऐसा प्रतिदिन करें.

दही एवं बेसन: आवश्यक मात्रा में बेसन, नीबू का रस और दही मिल लें। इस पेस्ट को माथे गरदन और चेहरे पर लगाएं. 15 मिनट बाद ठंडे पानी से धो लें । यह भी टैनिंग को हटाने का कारगर नुक्सा है ।

स्क्रब: गर्दन की टैन हटाने के लिए घर पर ही स्क्रब तैयार किया जा सकता है। इस के लिए नीबू, चीनी और तेल को आपस में मिला कर पेस्ट बनाकर गर्दन पर धीरे-धीरे मलें, इससे भी आपको काफी फायदा मिलेगा ।

 मोनालिसा बाथ: मोनालिसा बाथ यानी दही से स्नान। दही में लैक्टिक ऐसिड पाया जाता है, जो टैन को दूर में मदद करता है । अगर आप हफ्ते में 2 बार इससे स्नान करते है, तो यह टैन को पूरी तरह से रिमूव कर देगा ।

इसके साथ ही कुछ महिलाओं ने भी शरीर और चेहरे पर से टैन को हटाने के घरेलू नुस्खों को शेयर किया है –

प्रीति गुप्ता बताती है कि उनको धूप में निकलने से टैनिंग की समस्या बहुत जल्दी हो जाती है, इसके लिए वह रोजाना ऑफिस जाते वक्त अपने चेहरे को दुपट्टे से कवर करती है । प्रीति रोज सनस्क्रीन का भी प्रयोग करती है । इसके साथ ही वह टैन की समस्या से निपटने के लिए एक नुस्खा भी अपनाती है, जिसमें वह एक च० मुल्तानी मिट्टी और दही में नींबू का रस और चुटकी भर हल्दी मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लेती है और उसको अपने चेहरे पर या शरीर के जिस भी हिस्से में टैन हुआ है, उस हिस्से पर इस तैयार पैक को लगाती है । पैक सूखने के बाद सादे पानी से मुंह धोने से टैन हट जाता है । प्रीति कहती है कि यह नुस्खा बहुत ही ज्यादा कारगर है ।

इसी कड़ी में प्रियंका सिन्हा बताती है कि इस चिलचिलाती धूप में बाहर निकलने से उनको चेहरे पर टैनिंग की समस्या हो जाती है । जिसको दूर करने लिए प्रियंका ने खुद का बनाया हुआ घरेलू टोनर इस्तेमाल करती है, वह कहती है कि इस टोनर को बनाने के लिए एलोवीरा जैल में खीरे का रस और नींबू के रस के साथ गुलाब जल आपस में मिला ले और इस टोनर को रोजाना सोने से पहले चेहरे पर अप्लाई कर लें । इसके रोजाना इस्तेमाल से टैनिंग से जल्द से जल्द छुटकारा मिल जाता है ।

आकांक्षा श्रीवास्तव भी टैनिंग को दूर करने के लिए घरेलू उपाय अपनाती है, जिसमें वह दो चम्मच चंदन पाउडर में गुलाब जल मिलकर पेस्ट तैयार करती है और चेहरे व गर्दन पर अप्लाई करती है, इस पेस्ट के सूख जाने के बाद चेहरा ठंडे पानी से धो लेती है । आकांक्षा कहती है कि इससे टैन बहुत जल्द ही दूर हो जाता है ।

हिमांशी गुप्ता टैनिंग से बचने के लिए टमाटर के छिलके को छील कर उसमें दो चम्मच दही के साथ उसे ब्लेंडर में डालकर पीस लेती है और इस पेस्ट को चेहरे पर लगाकर बीस मिनट के बाद चेहरा धो लेती है। हिमांशी कहती है कि टैन को हटाने के लिए यह बहुत ही कारगर घरेलू नुस्खा है। इसके अवाला हिमांशी कॉलेज जाने से पहले रोजाना सनस्क्रीन लगाना नहीं भूलती हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

May 21, 2019, 5:06 am
Mostly clear
Mostly clear
26°C
real feel: 25°C
current pressure: 1000 mb
humidity: 48%
wind speed: 0 m/s N
wind gusts: 0 m/s
UV-Index: 0
sunrise: 4:46 am
sunset: 6:20 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 8 other subscribers

Trending