Connect with us

लाइफ स्टाइल

टाइट बेल्ट पहनना है पुरुषों में नपुंसकता का कारण

Published

on

 

नई दिल्ली । लड़के हो चाहें लड़कियां हर कोई बेल्ट लगाता हैं । कई लोग जरूरत पड़ने पर लगाते हैं तो कुछ महज फैशन के लिए ही लगा लेते हैं । अगर आप इसे जरूरत से ज्यादा टाइट बांधते हैं तो सावधान हो जाएं । दरअसल, टाइट बेल्ट बांधने से पेट की नसें दबी रहती हैं । लंबे समय तक ऐसा करने से पेल्विक से निकलने वाली आर्टरी, वेन्स, मसल्स और आंतों पर दबाव पड़ता है । इसके कारण शुक्राणुओं की संख्या में कमी आ सकती है, जो पुरुषों में नपुंसकता का बड़ा कारण बन सकता है । लिहाजा बेल्ट को ढ़ीला करके पहनना चाहिए । इस इतना ही टाइट पहना चाहिए कि यह पैंट या जींस को बांधे रख, लेकिन पेट पर कोई दबाव नहीं बनाए । शोधकर्ताओं ने 12 पुरुषों पर रिसर्च की । उन्होंने पाया कि कमर पर टाइट बेल्‍ट बांधने से पेट की मांसपेशियों के काम करने का तरीका बदल जाता है । शोध में यह भी साबित हुआ कि लंबे समय तक टाइट बेल्ट बांधने से रीढ़ की हड्डी में अकड़न आ सकती है । इसके साथ ही सेंटर ऑफ ग्रेविटी में भी बदलाव आता है । इसके कारण घुटनों के जोड़ों पर भी जरूर से ज्यादा प्रेशर पड़ता है, जिसके कारण जोड़ो में दर्द की समस्या भी बढ़ जाती है ।

http://www.satyodaya.com

लाइफ स्टाइल

इसलिए फड़कती है आपकी आंख, इस बीमारी के शिकार हैं आप

Published

on

हमारे इंडिया में आंख फड़कने को अपशगुन माना जाता है लेकिन क्या आपको पता है कि ये एक तरह की बीमारी होती है जिसके कुछ कारण निकलकर आए हैं। हालांकि, इन कारणों के साथ-साथ इसके कई घरेलू इलाज भी हैं।

ये है वजह

जानकारी के मुताबिक न्यूरोलॉजी इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार किसी व्यक्ति के शरीर में विटामिन B-12 की कमी हो, तो भी उसमें आंख फड़कने के संकेत दिखते हैं।ज्यादा समय तक स्क्रीन वाले गैजेट्स के इस्तेमाल से हो सकती है आंखों के फड़कने की समस्या। जो लोग ज्यादा शराब पीते हैं या धूम्रपान करते हैं, उनकी आंखों भी फड़कने की समस्या बढ़ जाती है। कॉफी और चाय का ज्यादा सेवन करना भी इस समस्या को बढ़ा सकता है। छोटे बच्चों में आंखें फड़कने का कारण शरीर में जरूरी मिनरल्स की कमी और कुपोषण हो सकता है। ज्यादा सोचने, चिंता करने, तनाव लेने और डिप्रेशन के कारण भी आंखें फड़कने की समस्या बढ़ती है।

यह भी पढ़ें: मां ने टीवी देखने से किया मना तो, बेटे ने किया कुछ ऐसा

पढ़े इस समस्या का घरेलू इलाज

अगर आपकी आंखें फड़कने की समस्या अचानक बढ़ जाए, तो सबसे पहले ठंडे पानी से मुंह धोएं और आंखों पर पानी डालें। रोजाना 7-9 घंटे की नींद जरूर लें क्योंकि नींद की कमी भी इस समस्या को बढ़ा सकती है। अगर आंखों का फड़कना 2 दिन तक लगातार जारी रहे, तो डॉक्टर से संपर्क करें, क्योंकि ये किसी अन्य रोग का भी संकेत हो सकता है।http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लाइफ स्टाइल

अगर आप भी पेट दर्द में लेते हैं दवाई, तो इस गंभीर समस्या को दे रहें बुलावा

Published

on

पेट में दर्द हुआ नहीं कि कई लोग उसे गैस समझने लगते हैं। खुद से दवा भी ले लेते हैं। दवा लेने के बाद दर्द भले ही ठीक हो जाता है, लेकिन फिर से दर्द होने लगता है। ऐसे में खुद से दवा लेने की आदत किसी गंभीर बीमारी को जन्म दे सकती है। अगर बार-बार आपके पेट में दर्द की शिकायत हो तो बिना देर किए डॉक्टर को दिखाए और उनकी सलाह से ही दवा खाए ।

50 की उम्र के बाद रहें सतर्क

अगर आपकी उम्र 50 वर्ष से अधिक है और पेट में लगातार गैस बनने लगे, वजन कम होने लगे, थकान महसूस हो तो इसे सिर्फ गैस नहीं समझें। कोई गंभीर बीमारी हो सकती है। पेट में दर्द गॉल ब्लॉडर में स्टोन होने या लिवर में सूजन होने के कारण भी होता है। बार-बार पेट में दर्द हो तो इसे गैस न समझें। ऐसा होने पर तत्काल किसी पेट रोग विशेषज्ञ से दिखलाकर जांच करानी चाहिए और इलाज कराना चाहिए।

यह भी पढ़ें: फिर पर्दे पर धमाल मचाने को तैयार है संजय दत्त और अरशद वारसी की जोड़ी….

अधिक तेल मसाले का सेवन है जान लेवा

तेल-मसाला अधिक खाने से ऐसा हुआ है। पेट में फैट अत्यधिक होने से ऐसा होता है। सबसे पहले खान-पान पर ध्यान देना होगा। नशा करते हैं तो छोड़ दें। व्यायाम करना शुरू कर दें। रोज 30 मिनट तक व्यायाम करें। पानी खूब पिएं। अगर ऐसा करने पर भी नियंत्रण नहीं हो रहा है तो कोलेस्ट्रॉल की जांच करानी होगी। डॉक्टर से इलाज कराना होगा। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

लाइफ स्टाइल

मछली खाने वाले लोगों में कई गुना कम हो जाता है इस घातक बीमारी का खतरा

Published

on

कैंसर एक ऐसी बीमारी है जिसे सुनने के बाद हर कोई ठीक होने की उम्मीद छोड़ देता है। एक रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि मछली खाने से कैंसर की बीमारी से बचा जा सकता है। इस शोध में बताया गया है कि अगर आप हफ्ते में तीन या इससे ज्यादा मछली के भाग खाते हैं तो आपको कैंसर का खतरा कम होता है। इस शोध को ऑक्सफॉर्ड यूनिवर्सिटी और कैंसर के क्षेत्र में शोध करने वाली अंतर्राष्ट्रीय एजेंसी ने मिलकर किया है। इस शोध में 476,160 लोगों के खानपान का अध्ययन किया गया है और इसके बाद इस नतीजे पर पहुंचे। शोध में बताया गया है कि व्हाइट, फैटी और ऑयली मछली खाने वाले लोगों को कैंसर की बीमारी का खतरा कम रहता है।

मछली खाने से कैंसर की बीमारी से बचा जा सकता है

जाहिर सी बात है दुनिया में हर कोई मांसाहारी नहीं होता लेकिन जहाँ बात हमारे स्वास्थ्य की होती है हम कोई भी उपाय करने से पीछे नहीं हटते है। मछली खाने से कैंसर की बीमारी से बचा जा सकता है। बता दें कि अगर आप हफ्ते में तीन या इससे ज्यादा मछली के भाग खाते हैं तो आपको कैंसर का खतरा कम करता है।

यह भी पढ़ें: निर्भया केस: अपराधियों ने राष्ट्रपति को नहीं भेजी दया याचिका, जल्द हो सकती है फांसी

1.फैटी और ऑयली मछली में सबसे ज्यादा एन-3 फैटी एसिड होता है जो स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है।
2. मछली खाने से कैंसर ही नहीं बल्कि कई दूसरी बीमारियों का भी खतरा कम रहता है।
3.मछली में बेहद पौष्टिक आहार है। दरअसल, मछली में कई न्यूट्रिशन होते हैं।
4.मछली में प्रोटीन और ओमेगा 3 फैटी एसिड होता है।
5.आहार में ओमेगा-3 की भरपूर मात्रा लेने से हार्ट से जुड़ी बीमारियां नहीं होती हैं। http://www.satyodaya.com

Continue Reading

Category

Weather Forecast

November 12, 2019, 12:33 pm
Sunny
Sunny
26°C
real feel: 28°C
current pressure: 1020 mb
humidity: 44%
wind speed: 1 m/s WNW
wind gusts: 1 m/s
UV-Index: 4
sunrise: 5:53 am
sunset: 4:48 pm
 

Recent Posts

Top Posts & Pages

Subscribe to Blog via Email

Enter your email address to subscribe to this blog and receive notifications of new posts by email.

Join 10 other subscribers

Trending